--Advertisement--

नेरचौक, किरतपुर और कुल्लू-मनाली फोरलेन को पूरा करने में लगेंगे 3 साल

किरतपुर-नेरचौक, कुल्लू मनाली फोरलेन के लिए अभी तीन साल का अौर इंतजार करना होगा। 2021 में यह फोरलेन बनकर पूरी तरह तैयार...

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 02:05 AM IST
किरतपुर-नेरचौक, कुल्लू मनाली फोरलेन के लिए अभी तीन साल का अौर इंतजार करना होगा। 2021 में यह फोरलेन बनकर पूरी तरह तैयार होगा। फोरलेन का निर्माण 5 चरणों में हो रहा है। शुक्रवार को हिमाचल में प्रस्तावित फोरलेन और नेशनल हाइवे परियोजनाओं को लेकर समीक्षा बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता सीएम जयराम ठाकुर ने की। बैठक में राज्य लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के अलावा केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के अधिकारी भी मौजूद रहे। सीएम ने कहा कि कुल्लू जिले के रायसन गांव के बाजार के साथ सड़क का निर्माण इस ढंग से करें ताकि भवनों और प्रस्तावित सड़क व मार्ग रेखा के बीच सुरक्षित दूरी हो।

उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग-21 पर कैंची मोड़ से लरोल मार्ग के विस्तारीकरण के शेष बचे कार्य को जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। राज्य को मिले 69 नेशनल हाइवे की भी समीक्षा बैठक में की गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार ने इन राष्ट्रीय राजमार्गों की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने का कुछ भी कार्य नहीं किया। राज्य सरकार ने पिछले चार महीनों के दौरान 53 राष्ट्रीय उच्च मार्गों के स्वीकृति पत्र जारी कर दिए हैं।

चंडीगढ़ से मनाली की दूरी 60 किमी होगी कम, 2 घंटे भी बचेंगे

फोरलेन का काम पूरा होने के बाद चंडीगढ़ से मनाली के बीच की दूरी करीब 50 से 60 किमी कम हो जाएगी। यानी चंडीगढ़ से मनाली तक पहुंचने के लिए पर्यटकों के करीब दो घंटे तक के समय की बचत होगी। चंडीगढ़ से मनाली की दूरी जो अभी 320 किमी है, इस फोरलेन के बनने के बाद कम होकर 260 किमी रह जाएगी। अभी नेशनल हाईवे से जाने पर 9 से 10 घंटे लगते हैं लेकिन तब करीब 7 घंटे लगेंगे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..