--Advertisement--

जिन्हें केंद्र की योजनाओं का मिला फायदा, उन तक पहुंचेगी भाजपा

2019 की तैयारी के लिए भाजपा ने फील्ड में उतरने की तैयारी कर ली है। इसके तहत भाजपा बूथ स्तर पर उन लोगों की लिस्टें तैयार...

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 02:05 AM IST
2019 की तैयारी के लिए भाजपा ने फील्ड में उतरने की तैयारी कर ली है। इसके तहत भाजपा बूथ स्तर पर उन लोगों की लिस्टें तैयार करेगी, जिन्हें केंद्र की विभिन्न योजनाओं के तहत लाभ पहुंचाया गया है। पार्टी ने बूथ स्तर से इसकी सूची तैयार करने आैर बाद में मंडल आैर जिला स्तर पर इसे अंतिम रूप देने के लिए कहा है। पार्टी के विभिन्न कार्यक्रमों को कैसे साल के अंत तक पूरा करना है, इसका खाका भी चंडीगढ़ में तैयार किया है। दिसंबर तक भाजपा हिमाचल के घर -घर में पहुंचे, इसके लिए मोदी की योजनाओं को आम जनता तक पहुंचाने के लिए जन जागरण अभियान चलाया जाना है। राज्य भाजपा इसका रोडमैप शीघ्र ही तैयार करेगी। यूपीए के कार्यकाल में हुई घोटालों आैर मोदी राज में हुए विकास कार्यों को भी आम जनता के बीच में पहुंचाने के लिए फील्ड में उतरने के निर्देश दिए हैं। मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल में जनधन योजना, उज्जवला, कृषि सिंचाई योजना, आवास योजना, सस्ती हवाई सेवा योजना, आयुष्मान भारत योजना, फ्री एलईडी किसानों के लिए लाई गई योजनाओं के लाभार्थियों की सूची तैयार की जानी है। भाजपा के मुख्य प्रवक्ता रणधीर शर्मा ने माना कि पार्टी की चंडीगढ़ में हुई बैठक में 2019 की चुनावों को लेकर रणनीति बनाई गई है। इसके तहत पार्टी के हिमाचल में चलाए जाने वाले कार्यक्रमों पर विचार किया है, पार्टी हाईकमान की मंजूरी के बाद इसे शीघ्र ही फाइनल पर जमीन पर उतारा जाएगा।

बूथ स्तर पर बनेगी लिस्ट

31 दिसंबर तक तैयार की जानी है सूची

भाजपा के प्रत्याशी आैर रणनीतिकार अगले चुनावों से हर लाभार्थी तक भाजपा के कार्यकर्ता आैर नेता तक पहुंचना होगा। राज्य में गैस सिलेंडर, फ्री एलईडी योजना काफी हद तक लोगों तक पहुंची है। इन सभी की सूची 31 दिसंबर तक तैयार की जानी है। इसके बाद पार्टी हाईकमान की आेर से इन पर विशेष ध्यान दिया जाना है।

राज्य सरकार का भी होगा पहला टेस्ट

यह चुनाव भाजपा सरकार का भी पहला टेस्ट होगा। इससे पहले राज्य में कोई चुनाव नहीं है। पंचायत चुनाव 2015 में तो नगर निगम के चुनाव 2017 में हो चुके हैं। 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं। इन चुनावों में कांग्रेस के पास गंवाने के लिए कुछ नहीं होगा, कांग्रेस 2014 के चुनावों में ही चारों सीटें गंवा चुकी है, इसलिए पार्टी पर कोई ज्यादा दबाव नहीं होगा। भाजपा के लिए चारों सीटों को बचाना होगा। 2014 के चुनावों में भाजपा प्रत्याशी शांता कुमार ने कांगड़ा, अनुराग ठाकुर ने हमीरपुर, राम स्वरूप शर्मा मंडी आैर वीरेंद्र कश्यप शिमला संसदीय सीट से चुनाव जीते थे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..