शिमला

--Advertisement--

हिमुडा से घर लेने के लिए देना होगा 50% एडवांस

हिमुडा से घर लेने के लिए लोगों को 50 प्रतिशत राशि एडवांस में देनी होगी। हिमुडा प्रबंधन एडवांस राशि मिलने के बाद घर...

Dainik Bhaskar

May 13, 2018, 02:05 AM IST
हिमुडा से घर लेने के लिए लोगों को 50 प्रतिशत राशि एडवांस में देनी होगी। हिमुडा प्रबंधन एडवांस राशि मिलने के बाद घर का निर्माण कार्य शुरु करेगा। नए घर के निर्माण के लिए 50 प्रतिशत की राशि हिमुडा प्रबंधन अपनी लगाएगा और शेष 50 प्रतिशत की राशि लाभार्थी से वसूली जाएगी। हिमुडा प्रबंधन ने स्पष्ट किया है कि घर का पूरा पैसा मिल जाने के बाद ही घर की रजिस्ट्री होगी। हिमुडा प्रबंधन ने पार्शली फाइनेंस स्कीम के तहत नियमों में यह प्रावधान किया है। अब जिन लोगों को हिमुडा प्रबंधन ने घर खरीदना है उन्हें पहले फ्लेट का 50 शेयर चुकाना होगा। इसके लिए हिमुडा प्रबंधन ने लोगों से आवेदन मांग लिए है। आवेदन करने की लास्ट डेट 22 मई तय की गई है।

नए नियम

एडवांस आने के बाद घर का निर्माण कार्य शुरू करेगा हिमुडा

घर का पूरा पैसा मिल जाने के बाद ही होगी रजिस्ट्री

यहां बनाए जाने हैं नए घर

हिमुडा प्रबंधन ने जिन साइटों पर घर बनाने के लिए आवेदन मांगे हैं उसमें त्रिलोकपुर, न्यू शिमला सेक्टर छह, परवाणु, कंडाघाट, बसाल, शाही नाला कुल्लू, संजोली, फ्लावर-डेल शिमला, कसुम्पटी शिमला, नालागढ़, पांवटा साहिब, कालका, अंब, देहरा, हरीपुर, बंगाणा और ठियोग शामिल है। यहां पर हिमुडा प्रबंधन ने इस स्कीम के तहत लोगों से आवेदन मांगे हैं। हिमुडा प्रबंधन लोगों से उसका 50 प्रतिशत का शेयर एक साथ न लेकर किश्तों में वसूलेगा। 10 प्रतिशत की राशि आवेदन करने के साथ वसूली जाएगी। इसी तरह 15 प्रतिशत का राशि 45 दिन के भीतर चुकानी होगी। घर की कीमत सभी जगह कॉस्टिंग कमेटी द्वारा तय की गई है।

4 जून को लाॅटरी सिस्टम से होगा घरों का आवंटन

हिमुडा प्रबंधन ने जिन साइटों में घरों के लिए आवेदन मांगे है वहां पर घरों का आवंटन लाॅटरी सिस्टम से किया जाएगा। ऐसा इसलिए ताकि घर आवंटन की प्रक्रिया में पूरी पारदर्शिता बरती जा सके। हिमुडा ने ड्राॅ की डेट भी तय कर दी है। चार जून को लाॅटरी सिस्टम से घर का आवंटन किया जाएगा।

डिमांड सर्वे में वसूली गई राशि होगी एडजस्ट

डिमांड सर्वे वाले लोगों के लिए 25 प्रतिशत का आरक्षण रखा गया है। उन्हें घर खरीदने के लिए आवेदन करना होगा। प्रबंधन ने उनसे जो पहले 5000 रुपए की राशि वसूली है वह ब्याज सहित इसमें समायोजित कर दी जाएगी। यानी उनसे वसूली जाने वाली 10 प्रतिशत की राशि पहले वसूली गई राशि ब्याज सहित एडजेस्ट कर दी जाएगी। हिमुडा प्रबंधन ने स्पष्ट किया है कि लाभार्थी से घर का पूरा पैसा मिल जाने के बाद ही घर की रजिस्ट्री उसके नाम की जाएगी। ऐसा इसलिए ताकि हिमुडा प्रबंधन का 50 प्रतिशत की राशि जो घर बनाने पर खर्च की गई है वह पूरी की पूरी वसूली जा सके।


X
Click to listen..