Hindi News »Himachal »Shimla» पीएम ने काठमांडु में अरुण-3 जल विद्युत परियाेजना की आधारशिला रखी

पीएम ने काठमांडु में अरुण-3 जल विद्युत परियाेजना की आधारशिला रखी

शिमला| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली ने 900 मेगावाट अरुण-3 जल विद्युत परियेाजना...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 13, 2018, 02:05 AM IST

पीएम ने काठमांडु में अरुण-3 जल विद्युत परियाेजना की आधारशिला रखी
शिमला| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली ने 900 मेगावाट अरुण-3 जल विद्युत परियेाजना की काठमांडु में संयुक्त रूप से आधारशिला रखी। परियोजना नेपाल के संखुवासभा जिले में अरुण नदी पर स्थित है। एसजेवीएन के अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक नं‍द लाल शर्मा ने बताया कि परियोजना का निष्पादन एसजेवीएन अरुण-3 पावर डेवलपमेंट कंपनी (एसएपीडीसी) नामक अधीनस्थ कंपनी द्वारा किया जा रहा है। एसजेवीएन को यह परियोजना नेपाल सरकार द्वारा अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धी बिडिंग के आधार पर मार्च, 2008 में आवंटित की गई थी। यह 900 मेगावाट की उत्पादन क्षमता के साथ एक निर्यातोन्मुख परियोजना है। बांध की ऊंचाई 70 मी. और मुख्य सुरंग 11. 77 कि. मी. लम्बी है। ही 225 मेगावाट की चार फ्रांसिस टरबाइनों से युक्त परियोजना का विद्युत गृह भूमिगत होगा। अरुण-3 जलविद्युत परियोजना की हर साल लगभग 4000 मिलियन यूनिट बिजली का उत्प‍ादन करने की संभावना है। परियोजना के अंतर्गत नेपाल भारत सीमा तक 217 कि.मी. लं‍बी 400 केवी डबल सर्किट ट्रांसमिशन लाइन स्थापित किया जाना भी शामिल है।

नेपाल के संखुवासभा जिले में अरुण नदी पर स्थित इस परियोजना का शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली के साथ संयुक्त रूप से किया। िशलान्यास के बाद दोनों ने परियोजना के बारे में विस्तृत जानकारी ली।

परियोजना के निर्माण से क्षेत्र का चहुंमुखी विकास होगा: शर्मा

शर्मा ने बताया कि परियोजना के निर्माण से क्षेत्र का चहुंमुखी विकास होगा और परियोजना क्षेत्र के इर्द-गिर्द रहने वाले लोगों के सामाजिक-आर्थिक स्तरों का उन्नयन करने में मदद मिलेगी। परियोजना से जुड़ी गतिविधियों से नई सड़कों, पुलों के निर्माण तथा स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा, इत्यादि जैसी सुविधाओं के विकास को भी गति मिलेगी । इसके अलावा कुल 269 परियोजना प्रभावित परिवारों को हर महीने 30 यूनिट बिजली मुफ्त मिलेगी। इस परियोजना से क्षेत्र में समृद्धि और विकास के एक नए युग का सूत्रपात होगा और पारं‍परिक रूप से दो मित्र देशों के बीच द्विपक्षीय भाईचारे के संबंध निश्चित रूप से प्रगाढ़ होंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×