• Hindi News
  • Himachal
  • Shimla
  • मंदिर में माथा टेका फिर लिए व्यंजनों की चटखारे
--Advertisement--

मंदिर में माथा टेका फिर लिए व्यंजनों की चटखारे

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 02:05 AM IST

Shimla News - हनुमान सेवा समिति की ओर से रविवार को श्री जाखू हनुमान मंदिर परिसर में 27वें वार्षिक भंडारे का आयोजन किया गया।...

मंदिर में माथा टेका फिर लिए व्यंजनों की चटखारे
हनुमान सेवा समिति की ओर से रविवार को श्री जाखू हनुमान मंदिर परिसर में 27वें वार्षिक भंडारे का आयोजन किया गया। भक्तों ने यहां पहुंचकर पहले हनुमानजी का अाशीर्वाद लिया फिर भंडारे में गोल गप्पे, चाट पापड़ी, भल्ला, मेथी टिक्की, पकोड़ी के खूब चटकारे लगाए। पानीपत से आए कारीगरों ने गोलगप्पे तैयार किए थे। इसके अलावा जलजीरा, आईस्क्रीम, कुल्फी, जलेबी का भी श्रद्धालुओं ने खाने का मजा लिया।

मंदिर में सुबह विशेष पूजा का आयोजन किया गया। मंदिर में हवन यज्ञ में सदस्यों द्वारा आहुतियां डाली गई। दस हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने सुबह से शाम तक लंबी -लंबी कतारों में खड़े होकर हनुमान जी के दर्शन किए। हनुमान सेवा समिति की ओर से कांगड़ी धाम का भंडारा भी लगाया गया था।

प्रशासन की ओर से रिटस सिनेमा से जाखू हनुमान मंदिर जाने के लिए एचआरटीसी की चार टैक्सियां लगाई गई थी। लेकिन लोगों की भीड़ की धक्का मुक्की से इन टैक्सियां में जगह न मिलने पर दिक्कतें आ रही थी।

मंदिर में हनुमान सेवा समिति के पदाधिकारियों के परिवार की महिलाओं ने केसरी रंग के कपड़े पहनकर भजनों के साथ लोगों की जूठी थालियां साफ करने की सेवा की। हनुमान सेवा समिति का न तो कोई प्रधान है न ही सचिव सभी शहर के कारोबारी मिलकर इस भंडारे का आयोजन करवाते हैं। उत्तरी भारत का यह अनूठा भंडारा कहलाता है।

शिमला में रविवार को जाखू मंदिर में आयोजित विशाल भंडारे में प्रसाद ग्रहण करते श्रद्धालु।

जाखू जाने वाले रास्ते में पार्क गाडि़यों से लग रहा जाम नबवहार से जाखू जाने वाली सड़क में लोगों ने अपनी गाड़ियां पार्क करके रखी थी। जिस कारण रविवार को जाखू जाने वाली गाड़ियों को यहां कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा। शहर में पार्किंग की सुविधा होने के बावजूद लोगों ने बेतरतीब तरीके से इस रास्ते में गाड़ियां पार्क कर रखी थी। जिस कारण मंदिर से आने जाने वाले श्रद्धालुओं को दूसरी गाड़ियों को पास देने में कई दिक्कतें पेश आई।

मंदिर में माथा टेका फिर लिए व्यंजनों की चटखारे
X
मंदिर में माथा टेका फिर लिए व्यंजनों की चटखारे
मंदिर में माथा टेका फिर लिए व्यंजनों की चटखारे
Astrology

Recommended

Click to listen..