--Advertisement--

अब पांच लाख रुपए तक के टेंडर भी होंगे ऑनलाइन

राज्य सरकार ने लोक निर्माण विभाग में टेंडर की प्रक्रिया में बड़ा बदलाव किया है। इसके तहत अब 5 लाख व इस से अधिक के...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 02:05 AM IST
राज्य सरकार ने लोक निर्माण विभाग में टेंडर की प्रक्रिया में बड़ा बदलाव किया है। इसके तहत अब 5 लाख व इस से अधिक के टेंडर ऑन लाइन किए जाएंगे। अभी तक 10 लाख से ज्यादा के टेंडर ही ऑन लाइन किए जाते थे। इससे कम के टेंडर के लिए पुरानी प्रक्रिया अपनाई जाती है। विभाग ने टेंडर प्रक्रिया में पारदर्शिता अपनाने के लिए ये फैसला लिया है। राज्य लोक निर्माण विभाग की बैठक में यह फैसला लिया गया था। इसके बाद प्रमुख अभियंता आरपी वर्मा की ओर से इस संबंध निर्देश जारी कर दिए गए हैं। बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री ने 5 लाख तक के टेंडर ऑनलाइन करने की बात कही थी।

अब चीफ इंजीनियर ही देखेंगे सड़कों की क्वालिटी कंट्रोल विंग का काम

सड़कों की क्वालिटी के लिए राज्य लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) में तैनात ईएनसी क्वालिटी कंट्रोल के पद को समाप्त कर दिया है। 28 फरवरी को ई. बीएस चौहान की रिटायरमेंट के बाद ये पद खाली चला हुआ था, लेकिन सरकार ने अब इसे न भरने का निर्णय लिया है। अब विभाग में चीफ इंजीनियर स्तर के अधिकारी ही इस कार्य को देखेंगे।

चहेते ठेकेदार फायदे से रहेंगे महरूम

मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार अतिरिक्त मुख्य सचिव पीडब्ल्यूडी ने विभाग को इस पर अमल करने को कहा है। इससे टेंडर आबंटन की प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी। खासकर जो अधिकारी थ्रू-प्रॉपर चैनल अपनाए अंडर टेबल ही अपने चहेते ठेकेदारों को काम दे दिया करते थे, वें अब ऐसा नहीं कर पाएंगे। उच्च अधिकारी नियमित तौर पर इनकी मॉनिटरिंग ऑनलाइन करेंगे। पीडब्ल्यूडी के प्रमुख अभियंता आरपी वर्मा ने सभी फील्ड अधिकारियों को निर्देश दिए है कि अब पांच लाख से ज्यादा की सभी निविदाएं ई-टेंडर से आमंत्रित की जाएगी। अधिकारियों को टेंडर की प्रति विभाग की वेबसाइट पर ऑनलाइन करनी होगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..