--Advertisement--

टेक्नोमैक कंपनी के मालिक के खिलाफ लुकआउट नोटिस

आबकारी एवं कराधान विभाग को 2100 करोड़ की चपत लगाकर विदेश भागे टेक्नोमैक कंपनी के एमडी एवं मालिक राकेश शर्मा के खिलाफ...

Dainik Bhaskar

May 06, 2018, 02:10 AM IST
आबकारी एवं कराधान विभाग को 2100 करोड़ की चपत लगाकर विदेश भागे टेक्नोमैक कंपनी के एमडी एवं मालिक राकेश शर्मा के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया है। मालिक के खिलाफ दर्ज धोखाधड़ी केस की जांच कर रही स्टेट सीआईडी ने ब्यूरो ऑफ इमीग्रेशन के माध्यम से नोटिस जारी कराया है। लुकआउट नोटिस जारी होने के बाद अब एयरपोर्ट पर कंपनी के एमडी राकेश शर्मा पर पैनी नजर रहेगी। अगर वह विदेश से चुपके से हिमाचल आता है और चोरी छिपे ही विदेश जाने की कोशिश करेगा तो सफल नहीं होगा। एयरपोर्ट पर आरोपी की पूरी डिटेल रहेगी, ऐसे में सुरक्षा एजेंसियां उस पर आसानी से शिकंजा कस सकेगी। बताया जा रहा है कि आरोपी दुबई में छिपा है। सीआईडी जांच के लिए विदेश नहीं जा सकती है, ऐसे में सीआईडी के पास लुकआउट नोटिस आरोपी पर निगरानी रखने का विकल्प है।

लुक आउट नोटिस एक इंटरनल सर्कुलर की तरह होता है, जिसमें जांच एजेंसी को किसी शख्स के बारे में जैसी जानकारी चाहिए होती है, उस हिसाब से जारी किया जाता है। इसमें उसे रोकने से लेकर गिरफ्तारी तक शामिल है। नोटिस सीधे इमीग्रेशन विभाग को भेजा जाता है। इसमें उस शख्स को एयरपोर्ट के भीतर घुसने से रोकने, विमान में न चढ़ने देने, शख्स के आने पर सूचना देेने, उसे हिरासत में ले, ताकि भाग न जाए, का प्रावधान है।

2014 में विदेश भाग गया था कंपनी मालिक

सिरमौर के माजरा में टेक्नोमैक कंपनी ने स्टील फैक्ट्री लगाई थी। 2008 में यह फैक्ट्री चालू की गई थी। 2009 से 2014 तक कंपनी ने सेल टैक्स अदा नहीं किया। आबकारी एवं कराधान विभाग ने इस अवधि तक 600 करोड़ रुपए के सेल टैक्स का आकलन किया था और कंपनी को इसे चुकाने के निर्देश दिए थे। लेकिन कंपनी ने इसे चुकाया नहीं। 2014 में ही टैक्स न चुकान पर विभाग ने फैक्ट्री सील कर दी और मालिक राकेश शर्मा विदेश भाग गया। सीआईडी इस केस की जांच 2016 से कर रही है। इस मामले में निदेशक विनय को गिरफ्तार किया गया है। सेशन कोर्ट नाहन से जमानत रिजेक्ट होने पर अब उसने हाईकोर्ट में जमानत याचिका लगाई है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..