• Home
  • Himachal Pradesh News
  • Shimla News
  • टैक्सी चालक मरीजों की कर सकेंगे आईजीएमसी में ड्रापिंग, गाड़ी पार्क करने पर होगा चालान
--Advertisement--

टैक्सी चालक मरीजों की कर सकेंगे आईजीएमसी में ड्रापिंग, गाड़ी पार्क करने पर होगा चालान

Danik Bhaskar | May 06, 2018, 02:10 AM IST

सिटी रिपोर्टर | शिमला

आईजीएमसी में अब टैक्सी चालक केवल मरीजों को ड्रॉप कर सकेंगे या फिर उन्हें लेने के लिए ही आ सकेंगे। एसडीएम शिमला शहरी ने शुक्रवार को आईजीएमसी का निरीक्षण किया था। उन्होंने टैक्सी चालकों को आईजीएमसी में केवल ड्रॉपिंग व मरीजों को ले जाने की परमिशन दी थी।

मरीजों को पार्किंग की सुविधा को लेकर जिला प्रशासन ने यह कदम उठाए हैं। जिन स्थानों पर टैक्सी पार्किंग थी, वहां भी मरीज अपने वाहन पार्क कर सकेंगे। अस्पताल गेट के बाहर अकसर देखा गया है कि कि टैक्सियां दिनभर सड़क के किनारे पार्क रहती हैं, इससे मार्ग छोटा पड़ जाता है। इससे कई बार जाम भी लग जाता है।

मरीजों को वाहन पर लिखना होगा फोन नंबर: जिला प्रशासन ने मरीजों के लिए अस्पताल के बाहर यह सुविधा की है कि जहां टैक्सी चालक अपने वाहन पार्क करते थे वह वहां अपने वाहन पार्क कर सकते हैं, लेकिन मरीज व उनके साथ आए तीमारदार भी जरूर के अनुसार ही वाहन पार्क कर सकेंगे। ऐसा नहीं होगा कि एक बार वाहन पार्क कर कई दिनों तक वह वहां से वाहन निकालें ही न, मरीजों व उनके साथ आए तीमारदारों को वाहन पार्क करने के बाद अपना नंबर वाहन पर लगान अनिवार्य किया है, ताकि जरूरत पडऩे पर वाहन मालिक को बुलाकर वाहन को निकाला जा सके। यह निर्देश इस लिए दिए गए, ताकि इलाज करवाने आने वाले मरीजों को असुविधा का सामना न करना पड़े।

ड्राप इन एंड ड्रॉप आउट करने के निर्देश