--Advertisement--

गाड़ियों की पासिंग-फिटनेस का काम लेने नहीं आई कोई एजेंसी

ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट गाड़ियों के फिटनेस सर्टिफिकेट और पासिंग करवाने का काम भी ठेके पर दे रहा है। जबकि हैरानी...

Dainik Bhaskar

May 06, 2018, 02:10 AM IST
ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट गाड़ियों के फिटनेस सर्टिफिकेट और पासिंग करवाने का काम भी ठेके पर दे रहा है। जबकि हैरानी की बात यह है कि विभाग के पास कोई भी निजी एजेंसी आवेदन नहीं कर रही है। ऐसे में मजबूरन विभाग को आवेदन करने की आखिरी तिथि बढ़ाकर 31 मई करनी पड़ी है। इस फैसले के मुताबिक अब आरटीअो ऑफिस के साथ प्राइवेट टेस्टिंग स्टेशन से भी वाहनों की पासिंग हो पाएगी। ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दी है। वाहनों को फिटनेस सर्टिफिकेट भी इन प्राइवेट टेस्टिंग स्टेशनों से हासिल हो सकेंगे।

अावेदन करने की तिथि इससे पहले 28 अप्रैल आखिरी तिथि रखी गई थी। वाहनों की पासिंग निजी व प्राइवेट वाहनों की पासिंग अभी आरटीओ कार्यालय में होती हैं। इसमें वाहनों की पूरी जांच की जाती है, उसके बाद ही संबंधित एमवीआई वाहन को पास करता हैं। खासकर निजी बसों की पासिंग अहम हैं, क्योंकि दुर्घटना से बचने के लिए लिए वाहनों की फिटनेस जरूरी है। वाहन के ब्रेक, बॉडी, लाइट, रेडियम पट्टी, टायर इत्यादि सुचारू रूप से चलने जरूरी हैं।


ये मिलेगी राहत



अब एेसे भी हो सकेंगी वाहनों की पासिंग

प्रदेश सरकार के अादेश के बाद परिवहन विभाग ने प्रदेश भर में ऑथोराइज्ड टेस्टिंग स्टेशन खोलने के लिए अावेदन मांगें हैं। इन टेस्टिंग स्टेशन को खोलने वाला ही वाहनों की पासिंग और फिटनेस सर्टिफिकेट जारी करेगा। यानी अब आरटीओ कार्यालय के चक्कर लगाने से छुटकारा तो मिलेगा, लेकिन इन प्राइवेट टेस्टिंग स्टेशनों से जारी होने वाले सर्टिफिकेट की विश्वसनीयता पर सवाल है कि आखिर ये कैसे सर्टिफिकेट देंगे। परिवहन विभाग केे निदेशक बीसी बढ़ालिया का कहना है कि सर्विस स्टेशन के लिए आवेदन करने की तिथि को 31 मई तक बढ़ा दी गई है। इससे पहले यह 28 अप्रैल रखी गई थी।

नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर

टैक्स भी ले सकते हैं ये सेंटर ऑथोराइज्ड सर्विस स्टेशन

गाड़ियों की पासिंग के अलावा ये सेंटर ग्रीन टैक्स, सेस और अन्य प्रकार के प्रदेश व केंद्र सरकार से संबंधित टैक्स जमा किए जा सकेंगे। ये टेस्टिंग स्टेशन इन टैक्स का पूरा ब्योरा और पैसे सरकार के अकाउंट में जमा करवाएंगे। टैक्स जमा करने के लिए भी कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..