शिमला

--Advertisement--

सुरक्षा व्यवस्था में जारी रहा होटलों में अवैध निर्माण तोड़ने का काम

कसौली-धर्मपुर क्षेत्र में शनिवार को भी होटलों से अवैध निर्माण हटाने का काम जारी रहा। इन होटलों के अवैध निर्माण को...

Dainik Bhaskar

May 06, 2018, 02:10 AM IST
कसौली-धर्मपुर क्षेत्र में शनिवार को भी होटलों से अवैध निर्माण हटाने का काम जारी रहा। इन होटलों के अवैध निर्माण को सुरक्षा के बीच तोड़ा जा रहा है। अवैध निर्माण हटाने की प्रक्रिया जांचने को एसपी मधु सूदन भी मौके पर पहुंचे। शनिवार को सभी होटलों पर की जा रही कार्रवाही करने के लिए सोलन, शिमला, नाहन, जुन्गा व बिलासपुर से टीमें सुरक्षा के लिए हर जगह तैनात रही।

सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार कसौली के 13 होटलों पर अवैध निर्माण को गिराने का प्रक्रिया मंगलवार को शुरू हुई है, जो भी जारी है। अवैध निर्माण तोड़ने के दौरान महिला अधिकारी की गोली मार कर हत्या के बाद पुलिस ने कसौली धर्मपुर मे सतर्कता बढ़ा दी है। अवैध निर्माण को तोडऩे के लिए कार्य तेजी से चल रहा है। कई होटल मालिक खुद ही अवैध निर्माण तोड़ रहे हैं। जबकि कुछ होटलों को प्रशासन द्वारा बनाई गई टीमों द्वारा तोड़ा जा रहा है। अवैध निर्माण तोड़ने के लिए 13 होटलों में पुलिस द्वारा सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं और किसी भी बाहरी व्यक्ति को कार्रवाई क्षेत्र में नहीं आने दिया जा रहा। गौर हो कि देश विदेश में अपनी सुंदरता की छाप छोड़ चुकी पर्यटन नगरी कसौली के 13 होटलों के अवैध निर्माण को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद तोड़न ेका कार्य शुरू हो गया था। इन 13 होटलों में कुछ होटल कालका-शिमला नेशनल हाई-वे पांच पर है तो कुछ होटल धर्मपुर-कसौली रोड पर स्थित हैं।

जब तक होटलों के अवैध निर्माण को पूरी तरह से नहीं तोड़ा जाएगा तब तक यह प्रक्रिया जारी रहेगी। शनिवार को नारायणी गेस्ट हाउस की एक मंजिल गिरने के बाद अगली मंजिल गिराने का कार्य जारी है जबकि होटल शिवालिक, नीलगिरी होटल, दीपशिखा होटल, इशर स्वीट्स, होटल पाइन व्यू, एएए गेस्ट हाउस, होटल व्हिस्प्रिंग विंड्स, सनराइज कॉटेज, 7 पाइन होटल व बर्ड व्यू होटल में अवैध निर्माण गिराने का कार्य चल रहा है।

X
Click to listen..