Hindi News »Himachal »Shimla» चिकित्सक स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए करें विजन डॉक्यूमेंट तैयार

चिकित्सक स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए करें विजन डॉक्यूमेंट तैयार

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने चिकित्सकों से स्वास्थ्य क्षेत्र को मजबूत करने के लिए एक विजन दस्तावेज तैयार करने के...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 07, 2018, 02:10 AM IST

चिकित्सक स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए करें विजन डॉक्यूमेंट तैयार
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने चिकित्सकों से स्वास्थ्य क्षेत्र को मजबूत करने के लिए एक विजन दस्तावेज तैयार करने के लिए कहा है। यह विजन राज्य की भौगोलिक स्थितियों के अनुरूप होना चाहिए। रविवार को आईजीएमसी में तीन दिवसीय उत्तरी क्षेत्र ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन के 37वें वार्षिक सम्मेलन के समापन पर सीएम ने बतौर मुख्यतिथि शिरकत की।

प्रदेश में ऑर्थोपेडिक विभाग को मजबूत किया जाएगा। निरंतर बढ़ रही सड़क दुर्घटनाएं चिंता का कारण हैं, जिसके चलते ऑर्थोपेडिक विभाग को लोगों को आपातकालीन सेवाएं प्रदान करने के लिए अतिरिक्त समय तक काम करना पड़ता है। यह कोशिश की जा रही है कि आईजीएमसी में लोगों को सर्वोत्तम विशेषज्ञ स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हों । मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त की कि सम्मेलन राज्य के लोगों को उच्च स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के लिए कारगर साबित होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सम्मेलन के दौरान आए मुख्य सुझावों को सरकार को भेजा जाए । राज्य सरकार देश तथा विदेशों के विभिन्न भागों में सराहनीय सेवाओं के लिए राज्य के चिकित्सकों को सम्मानित करने की संभावनाओं का पता लगाएगी। सरकार विभाग को नवीनतम उपकरणों के साथ सुसज्जित करने के लिए हर सम्भव सहायता प्रदान करेगी। स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने कहा कि हालांकि प्रदेश के स्वास्थ्य मानक देश के अधिकांश राज्यों की तुलना में श्रेष्ठ हैं, लेकिन अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। चिकित्सा एक आदर्श व्यवसाय है और चिकित्सकों को लोगों की अपेक्षाओं पर खरा उतरने के लिए मिशन की भावना के साथ काम करना चाहिए। शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि आईजीएमसी ऑर्थोपेडिक विभाग को उचित स्थान प्रदान किया जाना चाहिए। आईजीएमसी ऑर्थोपेडिक विभाग के प्रमुख एवं सम्मेलन के आयोजक डॉ. मुकुंद लाल ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।

उन्होंने सम्मेलन के दौरान आयोजित की गई विभिन्न गतिविधियों का ब्योरा दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री से विभाग को सुदृढ़ बनाने का आग्रह किया।

बेहतर कार्य करने वाले चिकित्सक किए सम्मानित।

ये मौजूद रहे

आईजीएमसी के प्राचार्य डॉ. रवि शर्मा, ब्रिटिश ऑर्थोपेडिक सोसायटी के अध्यक्ष डॉ. आनंद मोहन, बाबा फरीद मेडिकल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. राज बहादुर, उत्तर क्षेत्र ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. रमेश सेन, एसोसिएशन के सचिव डॉ. हरपाल सेनी तथा क्षेत्र के प्रतिष्ठित ऑर्थोपेडिक शल्य चिकित्सकों सहित अन्य लोग भी उपस्थित रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shimla

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×