Home | Himachal | Shimla | बाजार में सड़क तक अतिक्रमण, मॉकड्रिल में रोकी फायर ब्रिगेड की गाड़ी, हाथापाई

बाजार में सड़क तक अतिक्रमण, मॉकड्रिल में रोकी फायर ब्रिगेड की गाड़ी, हाथापाई

अगर दिन के वक्त लोअर बाजार एरिया में आग की कोई घटना हुई तो ये तय है कि इस एरिया में आग को कंट्रोल करना लगभग नामुमकिन...

Bhaskar News Network| Last Modified - May 11, 2018, 02:10 AM IST

बाजार में सड़क तक अतिक्रमण, मॉकड्रिल में रोकी फायर ब्रिगेड की गाड़ी, हाथापाई
बाजार में सड़क तक अतिक्रमण, मॉकड्रिल में रोकी फायर ब्रिगेड की गाड़ी, हाथापाई
अगर दिन के वक्त लोअर बाजार एरिया में आग की कोई घटना हुई तो ये तय है कि इस एरिया में आग को कंट्रोल करना लगभग नामुमकिन होगा। क्योंकि नगर निगम की लापरवाही और दुकानदारों के सड़क पर किए गए अवैध कब्जे फायर ब्रिगेड को कतई समय पर मौके तक नहीं पहुंचने देंगे। लोअर बाजार की दुकानों को सड़कों तक फैलाए जाने से न सिर्फ बाजार में चलने के लिए जगह बची है और न ही फायर ब्रिगेड के निकलने के लिए। वीरवार दोपहर फिर फायर ब्रिगेड की गाड़ी लोअर बाजार में मॉकड्रिल पर निकली तो सड़कों में फैलाए गए दुकानों के सामान की वजह से आगे नहीं बढ़ पाई। कुछ दुकानों के सड़क तक फैलाए गए तिरपाल और होर्डिंग टूटे तो दुकानदारों ने न सिर्फ फायर ब्रिगेड को आगे बढ़ने से रोका बल्कि कर्मचारियों के साथ हाथापाई पर भी उतर आए।

ऐसे ही कब्जे रहे तो बाजार में दिनदहाड़े कभी आग लग गई तो बाजार में अतिक्रमण के कारण अग्निशमन विभाग को आग बुझाना मुश्किल हो सकता है। गाड़ी ही लेट पहुंचेगी तो पूरा बाजार आग से तबाह हो सकता है। बाजार में एक तरफ तहबाजारियों का अतिक्रमण तो दूसरी तरफ कारोबारियों ने दुकान के आगे तिरपाल बढ़ाकर ओवर हैंगिंग की है। रही सही कसर दुकानों के अागे भी छाबे वालों को बैठाकर खाली स्पेस किराए पर दिया है। बाजार में लोगों का चलना मुश्किल है।

हाईकोर्ट के आदेश के बाद अग्निशमन विभाग हर महीने के दूसरे सप्ताह में मॉकड्रिल निकालता है। जहां गाड़ी फंसती है उस बारे में नगर निगम को कई बार लिखकर दिया लेकिन निगम ने कोई कार्रवाई नहीं की।

अगर अाग लगी तो कैसे बुझा पाएगी फायर ब्रिगेड

शेरे ए पंजाब के पास पौने घंटे तक रोके रखी गाड़ी

ड्राइवर को बाहर खींचने की कोशिश फायर ब्रिगेड की गाड़ी दोपहर पौने तीन बजे तारघर से शेरे ए पंजाब की तरफ चलना शुरू हुई तो लोअर बाजार में इंद्रा चौक के पास कुछ दुकानों के बाहर तक फैलाए गए तिरपाल और होर्डिंग टूट गए। यहां पर कुछ कारोबारी भड़क गए। गाड़ी यहां से आगे निकली इससे पहले कि लोअर बाजार का चक्कर पूरा करके गाड़ी शेरे ए पंजाब के पास से मालरोड की तरफ मुड़ने ही वाली थी कि कारोबारियों ने वहां पहुंचकर गाड़ी को घेर लिया। पौने एक घंटे तक फायर ब्रिगेड की गाड़ी को रोक कर रखा। कारोबारी अग्निशमन के कर्मचारियों के साथ हाथापाई पर उतर आए और झूठे आरोप लगाए। गाड़ी चला रहे ड्राइवर को बाहर खींचने की भी कोशिश की गई। इस दौरान अग्निशमन विभाग की ओर से डीसी शिमला को सूचना देने के बाद एसडीएम नीरज चांदला मौके पर पहुंची। उन्होंने इस विवाद को शांत किया तब जाकर और फायर ब्रिगेड की गाड़ी को आगे जाने दिया गया।

शिमला में वीरवार को लाेअर बाजार में अग्निशमन की मॉकड्रिल के दौरान दुकानों के बोर्ड टूटने के बाद गुस्साए दुकानदारों ने फायर ब्रिगेड की गाड़ी का रोक कर विरोध किया।

पुलिस-एमसी को एडवांस सूचना, नहीं हटे थे छज्जे अग्निशमन विभाग ने जैसे ही मॉकड्रिल निकाली तो इससे पहले सदर पुलिस और नगर निगम को सूचित कर दिया था। यहां तक नगर निगम के कर्मचारी तहबाजारियों को हटा रहे थे कि वह अपना समान उठाएं, अग्निशमन की गाड़ी आ रही है। हर बार यही होता है अग्निशमन की गाड़ी की मॉकड्रिल निकालने के बाद तहबाजारी खुली सड़कों में अपना समान सजा देते है जिससे बाजार में लोगों को चलने के लिए जगह हीं नहीं बची है। यहां तक बाजार के कारोबारियों ने दुकानों के आगे सड़कों तक कब्जा कर रखा है।

निगम नहीं करता कोई कार्रवाई स्टेशन फायर ऑफिसर डीसी शर्मा ने कहा कि अग्निशमन की ओर से यह मॉकड्रिल 2.45 मिनट पर निकाली गई। जिसमें तारघर से शेरे ए पंजाब तक दूरी नौ मिनट तक तय की गई। हाईकोर्ट के 22/5/15 के आदेशों के अनुसार प्रत्येक माह के दूसरे सप्ताह में अनशेड्यूल्ड और अनअनाउंसड मॉकड्रिल निकाली जाती है। इसके बावजूद एमसी और पुलिस को सूचित कर दिया गया था। कारोबारियों ने बाजार के आगे तक तिरपाल और होर्डिंग बढ़ाए हंै। नगर निगम को इसके बारे में कई बार सूचित किया गया है लेकिन नगर निगम कोई कार्यवाही नहीं करता है। यह मॉकड्रिल लोगों की सुरक्षा के लिए निकाली जाती है।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now