--Advertisement--

सीएम के डैश बोर्ड को चलाने के लिए नहीं मिल रहा विभाग

हिमाचल में मुख्यमंत्री आफिस की सभी विभागों के कार्यों पर सीधी नजर रहे, इसके लिए पहली बार सीएम आफिस में डैश बोर्ड...

Danik Bhaskar | May 11, 2018, 02:10 AM IST
हिमाचल में मुख्यमंत्री आफिस की सभी विभागों के कार्यों पर सीधी नजर रहे, इसके लिए पहली बार सीएम आफिस में डैश बोर्ड तैयार किया है । इसकी लांचिंग राज्य के आईटी विभाग ने करवाई थी, लेकिन इस विभाग का संचालन कौन करेगा, इस पर अभी तक फैसला नहीं हो पा रहा है। मुख्यमंत्री कार्यालय से सीधे विभागों पर नजर रहे, इसके लिए आफिस को ही इसके संचालन की जिम्मेवारी दी जानी थी, लेकिन आईटी विभाग से लेकर अन्य सभी विभागों में इसकी जिम्मेवारी को लेकर फाइलें चली है।

सीएम आफिस के प्रोजेक्ट सैल से लेकर सोशल मीडिया चलाने वाले विंग को भी इसकी जिम्मेवारी देने का प्रयास तक किया गया। इसके बावजूद अभी तक इस पर कोई फैसला नहीं हो पा रहा है। इस डैश बोर्ड का गठन राज्य सरकार ने सीएम आैर आम जनता की सुविधा के लिए किया था। इमसें साफ था कि राज्य में सभी विभागों में जनता के काम हो रहे हैं। सरकार की योजनाआें का लाभ मिल रहा है या नहीं। इस पर नजर रखी जानी है। इस प्रोजेक्ट का उद्देश्य राज्य के सभी लोगों को प्रभावी, उत्तरदायी आैर जिम्मेदार प्रशासन प्रदान करना था। इसमें राज्य सरकार के सभी विभाग सीधे मुख्यमंत्री डैश बोर्ड से जोड़ा था। मुख्यमंत्री को विभागों की तमाम योजनाओं और क्रियान्वयन की प्रगति ऑनलाइन मिलनी थी। लांचिंग के दिन ही 24 से ज्यादा विभागों की 53 परियोजनाआें का पंजीकरण किया जा चुका है।

इस योजना की जिम्मेवारी लेने से अधिकारी बच रहे हैं। इसकी मानिटरिंग सीधी होगी आैर सीधे ही जनता के प्रति सभी को जवाब देय रहना होगा। इसलिए आन लाइन जिम्मेवारी तय होने से अधिकारी गुरेज ही कर रहे हैं।