• Hindi News
  • Himachal Pradesh News
  • Shimla News
  • पुलिस में शिकायत के बाद भी महिला पेशेंट नहीं निकली स्पेशल वार्ड से, कोर्ट जाने की धमकी
--Advertisement--

पुलिस में शिकायत के बाद भी महिला पेशेंट नहीं निकली स्पेशल वार्ड से, कोर्ट जाने की धमकी

आईजीएमसी के स्पेशल वार्ड में 61 दिनों से बैठी महिला पेशेंट व प्रशासन के बीच हुआ विवाद बढ़ता जा रहा है। महिला पेशेंट...

Dainik Bhaskar

May 13, 2018, 02:10 AM IST
आईजीएमसी के स्पेशल वार्ड में 61 दिनों से बैठी महिला पेशेंट व प्रशासन के बीच हुआ विवाद बढ़ता जा रहा है। महिला पेशेंट ने प्रशासन को कोर्ट जाने की धमकी दे दी है। पेशेंट का परिजनों ने कहा कि वह किसी भी दबाव में स्पेशल वार्ड नहीं छोड़ेंगे। इसके लिए भले ही उन्हें कोर्ट क्यों न जाना पड़े। आईजीएमसी के एमएस की शिकायत के बाद शनिवार को थाना सदर से पुलिस भी मौके पर गई थी, मगर बावजूद इसके पेशेंट नहीं वार्ड खाली करने से मना कर दिया। ऐसे में अब प्रशासन के लिए मुश्किलें बढ़ती जा रही है। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि पेशेंट सरकारी प्रोपर्टी पर कब्जा जमाए बैठा है, ऐसे में उस पर खुद ही मामला बन गया है। हालांकि एमएस ने इस बारे में एसपी को सूचित किया। उन्होंने कहा कि महिला कांस्टेबल को बोलकर उस पेशेंट को एबुलेंस में डालकर घर छोड़ें। मामले में वरिष्ठ चिकित्सक अधिकारी डॉ जनकराज ने बताया कि शुक्रवार को पुलिस में महिला के न निकलने की शिकायत दी थी। शनिवार को वार्ड सिस्टर ने बताया कि महिला ने निकलने से मना कर दिया है। वहीं वह कोर्ट जाने की धमकी दे रही है। इस बारे में एसपी को भी सूचित किया गया है। अब पुलिस का कार्य है कि वह कैसे इस मामले को सुलझाती है।

क्या है मामला जानकारी के अनुसार जुब्बल निवासी जानकी देवी 12 मार्च को मेडिmfन डिपार्टमेंट के तहत आईजीएमसी के स्पेशल वार्ड नंबर 624 में भर्ती हुई थी। कुछ दिन महिला का यहां पर इलाज हुआ। उसके बाद महिला को डिस्चार्ज किया गया। मगर नर्सों ने प्रशासन को बताया कि महिला व परिजन वार्ड छोड़ने को तैयार नहीं। 8 मई को प्रशासन ने महिला के मामले में मेडिकल बोर्ड भी बिठाया। बोर्ड ने पाया कि महिला अब ठीक है। उसे केवल नर्सिंग केयर की जरूरत है। ऐसे में महिला को जोनल अस्पताल शिमला, सिविल अस्पताल रोहड़ू या जुब्बल अस्पताल के लिए रेफर किया गया। 9 मई को महिला की पूरी डिस्चार्ज स्लिप भी बनाकर महिला व परिजनों को सौंपी गई। मगर बावजूद उसके महिला पेशेंट ने जाने से मना कर दिया। महिला आईजीएमसी में नॉन पेइंग पेशेंट बनकर बैठी है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..