--Advertisement--

भाजपा के नाराज पार्षदों को मनाने के लिए निगम ऑफिस में चला मंथन

शिमला | 31 वर्षों के बाद निगम की सत्ता में आई भाजपा के मेयर और डिप्टी मेयर के खिलाफ उन्हीं के पार्षदों की गुटबाजी और...

Dainik Bhaskar

May 16, 2018, 02:10 AM IST
शिमला | 31 वर्षों के बाद निगम की सत्ता में आई भाजपा के मेयर और डिप्टी मेयर के खिलाफ उन्हीं के पार्षदों की गुटबाजी और कांग्रेसी पार्षदों की ओर से अविश्वास प्रस्ताव की तैयारियों के बाद मंगलवार को निगम कार्यालय में दिनभर नाराज पार्षदों को मनाने के प्रयास चलते रहे। पिछले कुछ दिनों से भाजपा के कुछ पार्षद मेयर और डिप्टी मेयर से नाराज चल रहे हैं और इस मामले को लेकर भाजपा के कुछ पार्षदों ने मेयर और डिप्टी मेयर से इस्तीफे तक की मांग कर दी थी। इसलिए अब मेयर और डिप्टी मेयर अपने पार्षदों को मनाने में लगे हैं और मंगलवार को पार्षदों को निगम कार्यालय मे बुलाया गया। अपने कार्यों में व्यस्त होने के चलते ज्यादातर पार्षद तो कार्यालय नहीं पहुंच पाए लेकिन जो पार्षद कार्यालय पहुंचे भी थे उन्होंने भी लिखित में अपना समर्थन नहीं दिया। पार्षदों को मेयर और डिप्टी मेयर कार्यालय की ओर से कार्यालय पहुंचने के लिए फोन के माध्यम से जानकारी दी गई थी। वहीं जिन पार्षदों ने मंगलवार को न आने का हवाला दिया था उन्हें बुधवार को कार्यालय में बुलाया गया है।

अपनी कुर्सी को खतरा देखते ही वर्तमान में मेयर ने अब सचिवाल के चक्कर बढा दिए हैं। मेयर इन दिनों शहर में सफाई व्यवस्था, पानी की कमी और अपने चीन दौरे को लेकर चर्चाओं में है और कांग्रेस के साथ अपने ही पार्षदों का भी विरोध झेल रही है। मंगलवार को भी मेयर लगभग दो घंटे तक सचिवालय में रही। जबकि मेयर को ट्री कमेटी की हेड होने के नाते शहर के उपर खतरा बने पेड़ों के निरीक्षण के लिए भी जाना था।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..