--Advertisement--

रूसा ताे नहीं हट पाएगा लेकिन हटेगा सेमेस्टर सिस्टम

करीब पांच साल बाद अब रूसा की खामियों को हटाने का ध्याना आया है। जून में शुरू होने वाले सेशन से पहले ही न सिर्फ रूसा...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 02:10 AM IST
करीब पांच साल बाद अब रूसा की खामियों को हटाने का ध्याना आया है। जून में शुरू होने वाले सेशन से पहले ही न सिर्फ रूसा की खामियां हटेंगी बल्कि रूसा केे मौजूदा ढांचे को बदलने के लिए सरकार भी मंजूरी दे देगी। रूसा में बदलाव के बाद छात्रों के लिए अब सेमेस्टर सिस्टम के बजाए पुराने एनुअल सिस्टम को बहाल किया जाएगा। रूसा के मौजूदा प्रावधानों में बदलाव का पता लगाने के लिए गठित कमेटी ने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय से भी सभी पहलुओं पर चर्चा करके ये पता लगाने की कोशिश की है कि किस तरह रूसा के मौजूदा प्रावधानों से छात्रों और शिक्षकों को राहत दी जा सकती है। कमेटी ने यूजीसी से रूसा के नियमों में बदलाव के प्रावधानों का पता किया है। कमेटी के अध्यक्ष बनाए गए प्राे. सुनील कुमार गुप्ता ने दावा किया है कि वे मई माह के आखिर तक इस पर पूरी रिपोर्ट तैयार कर लेंगे और सरकार को मंजूरी के लिए भेज देंगे।

कांग्रेस पर आरोप, करोड़ों के लिए अपनाई प्रणालीः रूसा प्रणाली को लागू करने के लिए पूर्व कांग्रेस सरकार पर कई आरोप लगे हैं। बिना तैयारियों के मात्र करोड़ों रुपए के बजट की लालच के लिए एचपीयू ने सीबीसीएस सिस्टम को अपना लिया। खामियां अाई तो सवाल उठे।







रूसा कमेटी के अध्यक्ष प्रो. सुनील गुप्ता बाेले, हर हाल में बदलेगा रूसा का मौजूदा ढांचा

पांच वर्ष बाद भी दिक्कतें बरकरार रूसा में किसी तरह की कोई खामी नहीं है लेकिन इसके क्रेडिट बेस्ड च्वाइस सिस्टम में कई तरह की दिक्कतें पांच वर्ष बीतने के बाद भी आ रही हैं। एचपीयू की ओर से इस प्रणाली के लिए अभी तक नियमों पर आधारित कोई डाक्यूमेंट ही तैयार नहीं हो पाया है। ऐसे में इस प्रणाली के तहत किसकी क्या जिम्मेदारियां हैं, अभी तक यही स्पष्ट नहीं हो पाया है। परीक्षाओं के परिणाम समय पर घोषित नहीं हो पा रहे हैं।


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..