शिमला

  • Home
  • Himachal Pradesh News
  • Shimla News
  • विधायक बलबीर वर्मा की चार प्रापर्टी समेत 19 की प्रॉपर्टी होगी कुर्क
--Advertisement--

विधायक बलबीर वर्मा की चार प्रापर्टी समेत 19 की प्रॉपर्टी होगी कुर्क

प्रॉपर्टी टैक्स के बड़े डिफॉल्टरों पर निगम ने बड़ी कार्रवाई शुरू कर दी है। सोमवार को नगर निगम आयुक्त ने 19...

Danik Bhaskar

May 15, 2018, 02:10 AM IST
प्रॉपर्टी टैक्स के बड़े डिफॉल्टरों पर निगम ने बड़ी कार्रवाई शुरू कर दी है। सोमवार को नगर निगम आयुक्त ने 19 संपत्तियों को कुर्क करने और 6 संपत्तियों के किराए को अटैच करने के आदेश दिए हैं। इन 19 प्रापर्टी में से चार बड़ी संपत्तियों चौपाल के विधायक बलवीर वर्मा की है। आईएसबीटी की बिल्डिंग से आने वाले किराए को भी अटैच करने के आदेश दिए गए हैं। बलवीर वर्मा की दो संपत्तियों के किराए को अटैच करने और दो संपत्तियों को कुर्क करने के आदेश सुनाए गए हैं। अब नगर निगम टैक्स शाखा छह संपत्तियों के किराए को अटैच करने के लिए दो दिनों के भीतर सभी किराएदारों को किराया मालिकों को न देकर इसे सीधा नगर निगम के पास जमा करवाने का नोटिस देगा। इतना ही नहीं जिन प्रॉपर्टीज को कुर्क करने के आदेश दिए गए हैं, उन्हें रेवन्यू कलेक्टर के साथ मिलकर प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा। निगम को इन बड़े डिफाल्टरों से 4.50 करोड़ रुपए की राशि लेनी है। ऐसे में यह निगम की अब तक की बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है।

विधायक से लाखों का बकायाः चौपाल के विधायक को नगर निगम प्रशासन के लगभग 50 लाख रुपए देने हैं। जबकि सरकारी बिल्डिंग की बात की जाए तो अकेले न्यू आईएसबीटी की बिल्डिंग से नगर निगम को प्रॉपर्टी टैक्स के रूप में 3.50 करोड़ रुपए लेना बाकी है। जिन छह बिल्डिंग का किराया अटैच किया जा रहा है उनमें बलवीर वर्मा की दो बिल्डिंग भी शामिल हैं। बाकी प्रापर्टी में आईएसबीटी और तीन चक्कर के कारोबारी शामिल हैं।

न तो बेच सकते न ही ले सकते हैं लोन

निगम की ओर से की जा रही कार्रवाई के बाद अब ये संपत्तिधारक अपनी संपत्तियों को न ही तो बेच सकेंगे और न ही इनके नाम पर लोन या कोई सरकारी स्कीम का फायदा उठा सकेंगे। राजस्व रिकार्ड में रेड एंट्री होने से संपत्ति के मालिक इसे बेच या इसपर लोन नहीं ले सकते। ऐसी सूरत में मजबूरन संपत्ति मालिकों को निगम के पास प्रापर्टी टैक्स जमा करवाना पड़ता है।

Click to listen..