--Advertisement--

सांसारिक सुख-दुख का भोग दिखाया गया

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 02:15 AM IST

Shimla News - शिमला | गेयटी थियेटर शिमला में हिमाचल सांस्कृतिक शोध संस्थान व नाट्य रंगमंडल व भाषा एवं संस्कृति विभाग के सौजन्य...

सांसारिक सुख-दुख का भोग दिखाया गया
शिमला | गेयटी थियेटर शिमला में हिमाचल सांस्कृतिक शोध संस्थान व नाट्य रंगमंडल व भाषा एवं संस्कृति विभाग के सौजन्य से आयोजित बोधायन द्वारा रचित नाटक का मंचन किया गया। यह नाटक संस्कृत का सुचर्चित प्रहसन था। इसमें भोगवाद और अध्यात्मवाद का द्वंद दर्शाया गया। शरीर के माध्यम से सांसारिक सुख-दुख का भोग करने वाली कर्मात्या और आध्यात्मिक आनंद की प्राप्ति के लिए ज्ञान मार्ग का अनुसरण करने वाली आत्मा का हास्य परक वैचारिक द्वंद दर्शाया गया। इसमें मुख्य पात्र की भूमिका में मनोज-परिवराजक, तुषार शांडिल्य, अभिनव-यमदूत, अखिलेश-वैद्य, रामिलक कपिल, परिवरितिका प्रियंका, शानवी, रूबी, सुमन, पल्लवी, दामिनी, मनीषा, गुंजन, पूजा, अभिनव, शैलेंद्र और वाद्य यंत्र में नागेंद्र, बीरी सिंह , कमल दीप ने भूमिका निभाई।

X
सांसारिक सुख-दुख का भोग दिखाया गया
Astrology

Recommended

Click to listen..