नवबहार के रिहायशी इलाके में दिखा तेंदुअा, लाेगाें ने रात काे चलाए पटाखे

Shimla News - शिमला | इन दिनों नवबहार और इसके अासपास के क्षेत्रों में लोग दिवाली में प्रयोग किए जाने वाले पटाखों का इस्तेमाल कर...

Nov 11, 2019, 07:25 AM IST
शिमला | इन दिनों नवबहार और इसके अासपास के क्षेत्रों में लोग दिवाली में प्रयोग किए जाने वाले पटाखों का इस्तेमाल कर रहे हैं। देर रात पटाखों के धमाके किए जाते हैं, ताकि तेंदुआ डर कर भाग जाए। रात आठ बजे के बाद कोई भी जंगल के रास्ते से नहीं गुजर रहा है। दाे दिन पहले यहां पर तेेंदुअा देखा गया। एेसे में पालतू कुत्तों को लाेग कमरे में बंद कर रहे हैं, ताकि वे तेंदुए का शिकार हो जाए। इससे पहले तेंदुआ भराड़ी में ही एक युवक पर हमला कर चुका है। मिनी कुफ्टाधार, बड़श, शांकली, भराड़ी, एवरसन्नी के आसपास लंबे समय से तेंदुआ घूम रहा है। स्थानीय लोगों के मुताबिक नवबहार क्षेत्र में इससे पहले भी कई बार तेंदुए को सुबह और शाम के समय देखा गया है। छोटे बच्चे, बुजुर्गों और महिलाओं का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है। स्थानीय लोगों ने कहा कि घना जंगल होने के बावजूद वन प्राणी विंग की टीम की ओर से इस क्षेत्र में अभी तक कोई पिंजरा नहीं लगाया गया है।

पिछले दिनों शहर के जाखू, यूएस क्लब, बड़श, भराड़ी, अनाडेल, खलीणी, चक्कर, टुटू आदि क्षेत्रों में भी तेेंदुए की दस्तक की सूचना मिली थी। वहीं, वन प्राणी विंग की टीम ने इन क्षेत्रों में जाकर कई जगह पर पिंजरे लगाए, लेकिन अभी तक टीम तेंदुए को पकड़ने में नाकाम साबित रही है। दरअसल, विभाग ने जितने भी पिंजरे लगा रखे हैं, उनमें तेंदुए को फंसाने के लिए प्रयास तो होते है, लेकिन वह इसमें जाता ही नहीं है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना