मिली परमिशन, मौसम खुलने के बाद तीन खराब सड़कों की होगी टारिंग

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:25 AM IST
Shimla News - milk permission after the opening of the weather three bad roads will be started

सिटी रिपोर्टर | शिमला

राजधानी की तीन सड़कों की हालात जल्द ही सुधरेगी। विभाग ने चुनाव आयोग से छोटा शिमला से संजौली, संजौली से लक्कड़ बाजार सड़क के एक हिस्से के अलावा खलीणी- झंझीणी सड़क की भी टारिंग करने की इजाजत मांगी थी। लोक निर्माण विभाग को इन सड़कों की टारिंग करने की इजाजत मिल गई है। परमिशन मिलने के बाद अब इन सड़कों पर टारिंग का काम शुरू कर दिया जाएगा।

छोटा शिमला से संजौली चौक की सड़क और संजौली-लक्कड़ बाजार सड़क के डिग्री कॉलेज तक के हिस्से की टारिंग को लेकर लोक निर्माण विभाग ने काफी समय पहले टेंडर करवा दिए थे। लेकिन पहले सर्दियां होने की वजह से टारिंग का काम नहीं किया जा सका। इसके बाद जब टारिंग करने का समय आया तो चुनावी आचार संहिता की वजह से यह काम को शुरू नहीं हो पाया। चुनावी आचार सहिंता लागू करने के कारण लोक निर्माण विभाग द्वारा चुनाव आयोग से इसके लिए परमिशन मांगी गई थी। बताया जा रहा है कि इसकी परमिशन विभाग को मिल गई है। ऐसे में विभाग द्वारा मौसम खुलवाने पर इन सड़कों पर टारिंग का काम शुरू कर दिया जाएगा। इस तरह छोटा शिमला से संजौली चौक तक सड़क और इसके आगे कॉलेज तक हिस्से में कुल मिलाकर करीब छह किलोमीटर में टारिंग की जाएगी। ये सड़कें शहर की सबसे अहम है। लेकिन सर्दियों में अबकी बार भारी बर्फबारी के चलते ये कई जगह खराब हो गई हैं। सड़कों पर जगह-जगह गड्ढे बने हुए हैं।

खलीणी से झंझीणी सड़क के फिरेंगे दिन शहर के उपनगर खलीणी की झंझीणी सड़क के दिन भी जल्द फिरेंगे। इस सड़क पर टारिंग का काम भी विभाग द्वारा करवाया जाएगा। सड़क की टारिंग के लिए भी काफी पहले टेंडर किए जा चुके हैं। लेकिन चुनावी आचार संहिता के कारण विभाग को इसकी टारिंग करने के लिए चुनाव आयोग से परमिशन मांगनी पड़ी थी। अब जबकि चुनाव आयोग से परमिशन मिल गई है तो इस पर भी टारिंग का काम लोक निर्माण विभाग द्वारा करवा दिया जाएगा। इसकी टारिंग होने से लोअर खलीणी, झंझीणी और विहार गांव के लोगों को सहुलियत होगी। मौजूदा समय में इस सड़क की हालात बदतर बनी हुई है। यह सड़क बुरी तरह उखड़ गई है और इस पर गड्ढे ही गड्ढे नजर आ रहे हैं। खलीणी से आगे बॉयपास रोड से इसके शुरु होने से लेकर झंझीणी तक इसकी हालात ऐसी है कि इस पर वाहन चलाना मुश्किल है। मिस्ट चैंबर फॉरेस्ट कॉलोनी तो यह सड़क पूरी तरह से उखड़ गई है। सड़क पर दोपहिया वाहनों का चालान तो आसान नहीं बल्कि बड़े वाहन भी हिचकोले खाकर गुजरते हैं। सड़क की टारिंग करने की मांग स्थानीय लोग लंबे ससमय से कर रहे हैं। लोग विभाग पर सड़क की सुध न लेने के आरोप भी लगाते रहे हैं और इस सड़क का मामला सरकार के सामने भी उठाया है। ऐसे में अब इसकी हालात सुधारने से स्थानीय लोगों को जरूरत राहत मिलेगी।

जल्द शुरू होगा कामः
संजौली से अागे बॉयपास पर उखड़ी है सड़क संजौली से आगे बॉयपास तक तक यह सड़क बुरी तरह से उखड़ी हुई है। सड़क के इस हिस्से को चौड़ा करना का काम किया गया है, वहीं ऊपर से बारिश के पानी आने से यह सड़क उखड़ी है। हालांकि इससे आगे की सड़क में इस साल विभाग टारिंग नहीं करेगा। इस पर पिछली बार टारिंग करवाई गई थी। लेकिन संजौली चौक से कॉलेज तक के हिस्से की हालात खराब बनी हुई है और इस पर इन दिनों धूल मिट्टी उड़ रही है। इसी तरह संजौली चौक से छोटा शिमला तक की सड़क पर भी कई जगह इसकी हालात भी खराब बनी हुई है। ऐसे में लोक निर्माण विभाग ने इस इन सड़कों की टारिंग करने का फैसला किया है।

टारिंग के चलते ट्रैफिक सुचारू रखने की होगी चुनौती ये सड़कें ट्रैफिक के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण है। इस सड़क पर ओल्ड बस स्टैंड और आईएसबीटी की ओर जाने वाले वाहनों का भारी बोझ है। वहीं संजौली से लक्कड़ बाजार की सड़क पर भी भारी ट्रैफिक रहता है। ऐसे में इन दोनों सड़कों की टारिंग के दौरान यहां यातायात सुचारू रखना काफी चुनौतीपूर्ण होगा। शिमला शहर में गाड़ियों का ट्रैफिक वैसे भी बहुत ज्यादा रहता है, वहीं गर्मियों में शिमला में भारी संख्या में सैलानी पहुंचते हैं। ऐसे में विभाग की कोशिश रहेगी कि जल्द से जल्द इस काम को पूरा किया जाए। इन दिनों अपेक्षाकृत कम सैलानी आते हैं, मई और जून माह में सैलानियों के उमड़ने के चलते इस पर टारिंग करवाने से ट्रैफिक जाम की संभावना ज्यादा रहेगी। ऐसे में विभाग इसी माह इन सड़कों पर टारिंग के काम को पूरा करने का काम चाह रहा है।

X
Shimla News - milk permission after the opening of the weather three bad roads will be started
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना