थियोग

--Advertisement--

ठियोग के मंदिरों में नवरात्रों पर उमड़े श्रद्धालु

ठियोग क्षेत्र के प्रसिद्ध देवी मंदिरों में नवरात्र शुरू होने के बाद बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का आना जारी है।...

Dainik Bhaskar

Mar 20, 2018, 02:15 AM IST
ठियोग के मंदिरों में नवरात्रों पर उमड़े श्रद्धालु
ठियोग क्षेत्र के प्रसिद्ध देवी मंदिरों में नवरात्र शुरू होने के बाद बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का आना जारी है। रविवार को पर्यटक स्थल फागू के समीप टीले पर स्थित देशू मंदिर में बड़ी संख्या में पर्यटक पैदल पहुंचे और देवी मां की पूजा-अर्चना कर आशीर्वाद लिया। चार पर्वतियों के पूजनीय इस स्थान पर दूर-दूर से लोग आ रहे हैं। कई श्रद्धालु पैदल ही घने जंगल से होकर यहां पहुंच रहे हैं। मंदिर में आसपास के गावों के लोग आने वाले श्रद्धालुओं की सेवा कर रहे हैं।

इस पवित्र स्थान पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए भंडारे की हर समय व्यवस्था की गई है। सदियों पुराने इस देवी स्थल के प्रति लोगों की श्रद्धा का इसी बात से पता चलता है कि ग्रामीण यहां नौ दिनों तक अपना समय देवी मां की पूजा अर्चना व सेवा में बिताते हैं। इस मंदिर परिसर में व्रत रखने वाले श्रद्धालुओं के लिए फलाहार की भी व्यवस्था की गई है। श्रद्धालु यहां नौ दिनों तक चलने वाले भंडारे के लिए अपना योगदान दिल खोलकर दे रहे हैं। यहां विराजमान बाबा घनश्याम के अनुसार इस स्थान पर देवी मां की कृपा से किसी चीज की कमी नहीं होती है। उन्होंने बताया कि आने वाले दिनों में यहां भक्तों की लाइनें लग जाती हैं।

देशू माता का प्राचीन मंदिर जहां प्रतिदिन सैंकड़ों लोग आते हैं।

अन्य मंदिरों में भी भीड़

देशू माता मंदिर के अलावा ठियोग के कनागेश्वरी माता देवी मोड़, कामाक्षा माता नंगलदेवी, दुर्गा माता जनोगघाट, देवी दुर्गा माता फागू, गलु , छराबड़ा, माता ठौड़ डुगा जुब्बड़ सहित अनेक देवी मंदिरों में भक्तों का तांता लगा हुआ है। फागू में देवी की अराधना को लेकर कीर्तन में महिलाएं खूब उत्साह और श्रद्धा के साथ भाग ले रही हैं। विशेष कर महिलाओं में देवी मां के प्रति विशेष श्रद्धा देखी जा रही है। इस साल मौसम की बेरूखी से परेशान किसान बागवान भी देवी मंदिरों में जाकर आने वाली फसलों के लिए बारिश होने की गुहार लगा रहे हैं। नवरात्रों के दौरान माहौल पूरी तरह से श्रद्धामय बना हुआ है।

X
ठियोग के मंदिरों में नवरात्रों पर उमड़े श्रद्धालु
Click to listen..