--Advertisement--

कांग्रेस की हार पर बड़े नेताओं पर भी हो कार्रवाई

कांग्रेस के गढ़ ठियोग में कांग्रेस प्रत्याशी की जमानत जब्त होने का कारण ठियोग मंडल कांग्रेस ने राजनैतिक...

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2018, 01:15 PM IST
कांग्रेस के गढ़ ठियोग में कांग्रेस प्रत्याशी की जमानत जब्त होने का कारण ठियोग मंडल कांग्रेस ने राजनैतिक परिस्थितियों और नए प्रत्याशी को प्रचार के लिए कम समय मिलना बताया है। चुनाव परिणामों के बाद ठियोग मंडल कांग्रेस की पहली बैठक बैक्वेट हॉल ठियोग में आयोजित की गई जिसमें ठियोग मंडल अध्यक्ष ब्रह्मानंद शर्मा,प प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष केहरसिंह खाची, ठियोग से विस चुनाव लड़े प्रत्याशी दीपक राठौर, मंडल महासचिव संदीप शर्मा, उपाध्यक्ष लाकेन्द्र चंदेल, सहित मंडल पदाधिकारियों, कांग्रेस से जुड़े पंचायत प्रतिनिधियों और वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। बैठक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने पर उन्हें बधाई दी गई। कार्यकर्ताओं ने लोकसभा चुनावों के लिए अभी से कार्य शुरू करने का प्रण लिया। मंडल कांग्रेस ने भाजपा सरकार से मांग की कि पूर्व कांग्रेस सरकार की ओर से ठियोग में शुरू किए गए सभी विकास कार्य तेजी से पूरे किए जाएं। कई कार्यकर्ता यह सवाल उठाते रहे कि कुछ बड़े कांग्रेस नेताओं की भूमिका ठियोग में कांग्रेस प्रत्याशी के विरोध में रही है। इस बारे में मंडल को विरोध प्रस्ताव पारित करना चाहिए और ऐसे नेताओं के विरूद्ध कारवाई की मांग की जानी चाहिए। उधर मंडल पदाधिकारियों ने कार्यकर्ताओं को शांत करने की कोशिशें कीं।

राजनीति

ठियोग में कांग्रेस की हार के बाद मंडल कांग्रेस की पहली समीक्षा बैठक

विस चुनावों के बाद हुई मंडल कांग्रेस ठियोग की पहली बैठक में मंच पर बैठे पदाधिकारी।

राकेश वर्मा को हराने के लिए वोट शिफ्ट हुए

बैठक में मंडल अध्यक्ष ब्रह्मानंद शर्मा ने कहा कि विस चुनावों में ठियोग में राजनैतिक परिस्थितियों के कारण कांग्रेस की हार हुई। उन्होंने कहा कि लोग भाजपा प्रत्याशी राकेश वर्मा को हराने के लिए माकपा की ओर एकजुट हुए क्योंकि कांग्रेस नया प्रत्याशी होने के कारण अपनी जीत का भरोसा दिलाने में नाकामयाब रही। इसके अलावा कांग्रेस के नए प्रत्याशी को 62 पंचायतों और 161 बूथों पर मतदाताओं से संपर्क करने के लिए केवल 9 दिन का समय मिल पाया।

2019 लोकसभा चुनावों के लिए एकजुट होगी कांग्रेस

प्रदेश उपाध्यक्ष केहरसिंह खाची ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों तक ठियोग में कांग्रेस एकजुट होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का जो वोटबैंक माकपा की ओर गया है उसे वापिस लाया जाएगा। दीपक राठौर ने कहा कि इसके लिए विभिन्न पंचायतों का दौरा के अलावा बैठकों का दौर भी जारी रहेगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..