--Advertisement--

एक अध्यापक होने के कारण दस किलोमीटर दूर कुठार जा रहे छात्र

ठियोग | चौपाल विस क्षेत्र में आने वाले ठियोग विकास खंड के उच्च विद्यालय डकाहल भुटली में पिछले दो सालों से मात्र एक...

Dainik Bhaskar

Apr 26, 2018, 02:10 AM IST
ठियोग | चौपाल विस क्षेत्र में आने वाले ठियोग विकास खंड के उच्च विद्यालय डकाहल भुटली में पिछले दो सालों से मात्र एक अध्यापक होने के कारण यहां से 40 से अधिक बच्चों को पढ़ाई के लिए 10 किलोमीटर दूर जमा दो स्कूल कुठार जाना पड़ रहा है। इनमें दो अपंग छात्र भी शामिल हैं। डकाहल उच्च विद्यालय शिक्षा खंड देहा के तहत आता है। डकाहल में 1958 में प्राथमिक स्कूल खुला था जो 1999 में मिडल और 29 अप्रैल 2016 को हाई स्कूल बनाया गया। लेकिन यहां 9 पद स्वीकृत होन के बावजूद अध्यापकों की नियुक्ति न होने से हाई स्कूल खुलने का कोई लाभ स्थानीय छात्र छात्राओं को नहीं हुआ। यह स्कूल अनुसूचित जाति बहुल क्षेत्र में है और यहां मिडल स्कूल में भी 40 से अधिक विद्यार्थी पढ़ते रहे हैं। यहां 70 प्रतिशत विद्यार्थी गरीब परिवारों के हैं। लेकिन स्कूल में गणित के अध्यापक के सिवाए अन्य किसी विषय का अध्यापक नहीं है। स्कूल प्रबंधन समिति के अध्यक्ष रामानंद शर्मा ने बताया कि अभिभावक पिछले दो सालों से इस स्कूल में अध्यापकों के रिक्त पद भरने क लिए निदेशक से आग्रह कर रहे हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। उन्होंने बताया कि यदि शिक्षा विभाग ने शीघ्र इस स्कूल में अध्यापक नहीं भेजे तो वे अभिभावक न्यायालय की शरण में जाएंगे। एसएमसी अध्यक्ष का कहना है कि इस स्कूल में जो एकमात्र अध्यापक है उसे भी प्रशासनिक कामों में लगे रहना पड़ता है जिस कारण यहां पढ़ाई नहीं हो पा रही है। अभिभावकों को मजबूरन अपने बच्चों को कुठार स्कूल भेजना पड़ रहा है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..