Hindi News »Himachal »Thiyog» बलग में पुलिस के हस्तक्षेप से शांति का माहौल

बलग में पुलिस के हस्तक्षेप से शांति का माहौल

बलग में पिछले कई दिनों से एक परिवार के तीन युवाओं की ओर से किए जा रहे प्रवचनों के बाद बढ़ा तनाव रविवार को पुलिस...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 09, 2018, 02:10 AM IST

बलग में पिछले कई दिनों से एक परिवार के तीन युवाओं की ओर से किए जा रहे प्रवचनों के बाद बढ़ा तनाव रविवार को पुलिस प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद समाप्त हो गया है। रविवार को भी कई लोगों ने बलग के सामने उस स्थान पर पहुंचने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने यह कहते हुए किसी को वहां नहीं जाने दिया कि प्रवचन करने वाले युवा व उनके मां बाप ने पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर लोगों को यहां नहीं आने देने की अपील की है। सुबह से लोग यहां पहुंचने की कोशिश करते रहे। छैला कैंची, टियाली, नेरीपुल और बलग में पुलिस ने लोगों को समझा बुझा कर वापिस भेज दिया। इन्हीं क्षेत्रों से होकर उस गांव को सड़क जाती है। जहां ये युवक रहते हैं उसके पीछे भी सड़क पर पुलिस के जवान तैनात थे और ठियोग के एसएचओ हुकम सिंह की अगुवाई में काफी संख्या में पुलिस कर्मी तैनात थे। लोग पैदल ही नेरीपुल से यहां पहुंचने की कोशिश कर रहे थे। जिन्हें समझा कर पुलिस ने वापिस भेज दिया। कई महिलाएं जबरदस्ती उस घर के पास जाने की जिद कर रही थीं लेकिन पुलिस अधिकारियों ने बड़े शांत तरीके से उन्हें समझाया और युवाओं की ओर से प्रशासन का लिखा पत्र भी दिखाया। बाद में लोग वहां से लौटना शुरू हो गए। रविवार को अधिक भीड़ यहां नहीं थी । कुछ लोग बलग में सड़क किनारे से सामने का नजारा देख रहे थे। लोगों ने बताया कि इन में एक मुस्कान उनके स्कूल में दसवीं की छात्रा थी जो पढ़ने में बहुत मेधावी है।

पुलिस के रोकने के बाद सड़क से वापिस घरों को लौटते लोगों की कतार।

प्रशासन ने छैला से नेरीपुल तक धारा 144 लगाई :ठियोग के एसडीएम मोहनदत्त ने बलग के समीप तनाव को देखते हुए छैला कैंची से लेकर नेरीपुल तक के क्षेत्र में 7 से 11 अप्रैल तक धारा 144 लगा दी है। इसके अलावा बलग के समीप श्यामलाल के घर के आसपास किसी को भी न जाने के आदेश दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि यहां पर फरवरी माह से स्वयं को अवतार बताने वाले कुछ युवा प्रवचन कर लोगों को ठीक करने का दावा कर रहे हैं। इन युवाओं की ओर से कुछ आपत्तिजनक टिप्पणियों के बाद यहां शनिवार को तनाव हो गया था। प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद इन युवाओं के परिवार ने स्वयं उन्हें एकांत में रखने व लोगों को यहां आने से रोकने की अपील की है।

पंचायत प्रतिनिधि बोले बच्चों का भविष्य हो रहा बर्बाद

उधर रविवार को ही बलग में पंचायत की ग्राम सभा में भाग लेने आए प्रतिनिधियों व आम लोगों ने भी यहां चल रहे घटनाक्रम पर अपने विचार रखे। पंचायत प्रधान हरनाम सिंह का कहना है कि पिछले दो माह से यहां यातायात की समस्या सामने आ रही है। उन्होंने इन युवाओं की ओर से देवी देवताओं के विरुद्ध टिप्पणियों को गलत बताया और कहा कि उन्होंने स्वयं युवाओं से बात कर यह सब रोकने का निवेदन किया। एसडीएम ने भी बात की है। पंचायत सदस्य दिनेश ने कहा कि इसके पीछे कोई हो सकता है और इसकी जांच होनी चाहिए। पंचायत के लोगों ने प्रशासन के इस कदम को सही ठहराया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Thiyog

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×