• Home
  • Himachal Pradesh News
  • Thiyog News
  • खतरनाक प्वाइंट्स पर लगाए जाएं क्रैश बैरियर, ताकि सड़क हादसों पर लगे अंकुश
--Advertisement--

खतरनाक प्वाइंट्स पर लगाए जाएं क्रैश बैरियर, ताकि सड़क हादसों पर लगे अंकुश

ठियोग क्षेत्र में एनएच व अन्य संपर्क सड़कों पर आए दिन वाहन दुर्घटनाओं से बचने के लिए लोगों ने सड़कों के निचले...

Danik Bhaskar | May 15, 2018, 02:15 AM IST
ठियोग क्षेत्र में एनएच व अन्य संपर्क सड़कों पर आए दिन वाहन दुर्घटनाओं से बचने के लिए लोगों ने सड़कों के निचले हिस्सों पर कैश बैरियर लगाने की मांग की है। एनएच पांच पर ढली से ठियोग के बीच इस प्रकार की पक्की रेलिंग लगने के बाद जहां इस क्षेत्र में दुर्घटनाओं में काफी कमी आई है वहीं ठियोग से आगे व ठियोग हाटकोटी सड़क के कई खतरनाक प्वाइंटों पर जगह क्रैश बैरियर नहीं लगे हैं। इस कारण यहां पर वाहन दुर्घटनाओं का भय बना रहता है।

सरोग गली के पास टूटी रेलिंग : ठियोग शिमला के बीच एनएच पांच पर सरोग गली ढांक के पास कई साल पहले क्रैश बैरियर लगाने के कारण यहां आए दिन होने वाली दुर्घटनाएं रूक गई हैं। पिछले एक दशक में यहां कई वाहन इस रेलिंग के कारण खाई में जाने से बचे हैं यहां तक कि एक बस व एक ट्रक भी यहां क्रैश बैरियर के कारण सैकड़ों फुट गहरी खाई में जाने से बच गए थे। बार बार वाहनों के टकराने और भूस्खलन से कई स्थानों पर क्रैश बैरियर टूट गए हैं जिस कारण हादसा का खतरा रहा ता है।

डबल बैरियर लगाने की जरूरत : सरोग गली के आसपास एनएच पांच काफी खतरनाक है और यहां सड़क भी संकरी है। सड़क के किनारे कुछ व्यवसायियों के कारण भी यहां यातायात समस्या सामने आ रही है। एनएच विभाग की ओर से कई बार नोटिस देने के बावजूद यहां सुधार नहीं हो रहा है। इसके अलावा ठियोग से संधू के बीच व लाफूघाटी से मतियाना के बीच भी एनएच पर क्रैश बैरियर की जरूरत महसूस की जा रही है। एनएच पर वाहनों की गति तेज होने के कारण अक्सर दुर्घटनाएं होती हैं लेकिन लोगों के अनुसार क्रैश बैरियर छोटे वाहनों को खाई में जाने से रोक लेते हैं। ठियोग में अधिकतर ग्रामीण सड़कें भी काफी संकरी हैं। इन पर भी यदि क्रैश बैरियर लग सकें तो वाहनों को काफी सुरक्षा मिल सकती है।

जल्द लगाएंगे रेलिंग : एनएच विभाग के ठियोग मंडल के एक्सीयन राजेश्वर जसवाल ने बताया कि विभाग सरोग गली में जल्द की एस्टीमेट बनाकर क्रैश बैरियर की मरम्मत व नए बैरियर लगाएगा। खोलगली में भी बैरियर लगाए जाएंगे। विभाग ने एनएच में काफी बड़े हिस्से में क्रैश बैरियर लगा दिए हैं।