Hindi News »India News »Latest News »National» Kargil Martyr Wife Alleged Denial Treatment Due To Aadhaar Unavailability In Sonipat

शहीद की पत्नी से आधार मांगने का हॉस्पिटल पर आरोप, वक्त पर इलाज नहीं मिलने से मौत

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 30, 2017, 10:01 PM IST

आरोप है कि करगिल शहीद की पत्नी के पास ओरिजनल आधार कार्ड नहीं होने पर हॉस्पिटल ने वक्त पर उनका इलाज शुरू नहीं किया।
    • Video: मां को इलाज के लिए सोनीपत के हॉस्पिटल लेकर गए थे पवन कुमार...

      नई दिल्ली/सोनीपत.हरियाणा के एक हॉस्पिटल पर करगिल शहीद की पत्नी के इलाज के लिए आधार मांगने का आरोप है। शनिवार को उनके बेटे ने कहा कि आधार कार्ड साथ नहीं होने पर डॉक्टर ने वक्त पर मां का इलाज शुरू नहीं किया, जिससे उनकी मौत हो गई। जबकि मोबाइल में आधार की कॉपी दिखाने के बाद हार्ड कॉपी जमा करने की बात कही गई थी। करगिल में शहीद कैप्टन विजयंत थापर के पिता ने घटना को अमानवीय बताते हुए कहा कि इससे आर्म्ड फोर्सेस का मनोबल गिरेगा। घटना को लेकर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर और केंद्र सरकार ने जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के ऑर्डर दिए। हालांकि, हॉस्पिटल के डॉक्टर ने आरोपों को खारिज किया है।

      बेटे ने एक घंटे में आधार लाकर देने की बात कही

      - न्यूज एजेंसी के मुताबिक, करगिल में शहीद जवान के बेटे पवन कुमार तबीयत बिगड़ने के बाद अपनी मां को सोनीपत के ट्यूलिप हॉस्पिटल लेकर गए थे।
      - पवन ने कहा, "मां की हालात बेहद नाजुक थी। डॉक्टर ने जब आधार कार्ड मांगा, तब वह साथ में नहीं था। मैंने मोबाइल में इसकी कॉपी दिखाई और कहा कि आप इलाज शुरू कीजिए, एक घंटे में घर से ऑरिजनल आधार लेकर आ जाऊंगा। पर इन्होंने ऐसा करने से साफ इनकार कर दिया।''

      आर्मी हॉस्पिटल ने महिला को रेफर किया था

      - जानकारी के मुताबिक, सोनीपत के महलाना गांव के पवन कुमार के पिता लक्ष्मण दास 1999 में करगिल जंग में शहीद हुए थे। मां शकुंतला देवी कई दिन से बीमार थीं। गुरुवार शाम को मां की तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर वह उन्हें आर्मी ऑफिस के हॉस्पिटल में ले गए।

      - यहां से उन्हें इलाज के लिए प्राइवेट हॉस्पिटल में रेफर कर दिया गया। पवन मां लेकर सोनीपत के ट्यूलिप हॉस्पिटल पहुंचे तो यहां उनका ऑरिजनल आधार मांगा गया। इसके चलते इलाज में देरी हुई।

      डॉक्टर ने क्या दी सफाई?

      - सोनीपत हॉस्पिटल के डॉक्टर अभिमन्यु ने कहा, ''हम इलाज के लिए कभी मना नहीं करते हैं। वह (पवन) मरीज को लेकर हॉस्पिटल नहीं आए थे। कभी आधार के लिए इलाज नहीं रोका। यह इलाज के लिए जरूरी नहीं है, लेकिन कागजी कार्रवाई में लगाना जरूरी है।''

      केंद्र सरकार ने जांच के ऑर्डर दिए

      - केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा, ''राज्य सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए। हमने जांच के ऑर्डर दिए हैं। सभी राज्य सरकारों से कहा है कि वे क्लीनिकल एस्टेब्लिशमेंट्स एक्ट को लागू करें ताकि इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाई जा सके।''

      करगिल शहीदों की फैमिली ने क्या कहा?

      - शहीद कैप्टन विजयंत थापर के पिता वीएन थापर ने सोनीपत की घटना पर कहा कि यह खबर बेहद परेशान करने वाली है। हम लोग मानवता से दूर हो रहे हैं। इससे आर्म्ड फोर्सेस का मनोबल गिरेगा।

      - करगिल शहीद मेजर सीबी द्विवेदी की बेटी ने कहा, ''सोच भी नहीं सकती कि ऐसा होगा। मुझे भी अपनी फैमिली की चिंता हो रही है। हमें ECHS का फायदा मिलता है, लेकिन इसे आधार नंबर से जुड़वाना बेतुका है।''

    • शहीद की पत्नी से आधार मांगने का हॉस्पिटल पर आरोप, वक्त पर इलाज नहीं मिलने से मौत, national news in hindi, national news
      +3और स्लाइड देखें
      करगिल शहीद मेजर सीबी द्विवेदी की बेटी ने सोनीपत की घटना पर कहा कि ECHS को आधार से जुड़वाना बेतुका है।
    • शहीद की पत्नी से आधार मांगने का हॉस्पिटल पर आरोप, वक्त पर इलाज नहीं मिलने से मौत, national news in hindi, national news
      +3और स्लाइड देखें
      शहीद कैप्टन विजयंत थापर के पिता वीएन थापर ने इस घटना को अमानवीय बताया है।
    • शहीद की पत्नी से आधार मांगने का हॉस्पिटल पर आरोप, वक्त पर इलाज नहीं मिलने से मौत, national news in hindi, national news
      +3और स्लाइड देखें
      सोनीपत हॉस्पिटल के डॉक्टर ने कहा है कि इलाज के लिए किसी से भी आधार नहीं मांगा जाता। -फाइल
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Kargil Martyr Wife Alleged Denial Treatment Due To Aadhaar Unavailability In Sonipat
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        More From National

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×