Hindi News »India News »Latest News »National» US Considering Withholding USD 255 Million Aid To Pakistan

अमेरिका आतंकवाद पर PAK की नर्मी से नाखुश, रोक सकता है 25 करोड़ डॉलर की मदद

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 30, 2017, 08:53 PM IST

पाकिस्तान ने उसकी जमीन से आतंकवाद के खिलाफ किसी देश की एकतरफा कार्रवाई का विरोध किया है।
  • अमेरिका आतंकवाद पर PAK की नर्मी से नाखुश, रोक सकता है 25 करोड़ डॉलर की मदद, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    ट्रम्प ने कहा था कि पाकिस्तान अराजकता, हिंसा और आतंकवाद फैलाने वालों को सुरक्षित पनाह देता है। -फाइल

    वॉशिंगटन. अमेरिका अब पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने के लिए दी जाने वाली 25.5 करोड़ डॉलर (1628 करोड़ रुपए) की मदद पर रोक लगाने के बारे में गंभीरता से विचार कर रहा है। ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन ने शुक्रवार को इसका एलान किया। उसका मानना है कि पाकिस्तान उसकी जमीन पर पल रहे आतंकवाद के खात्मे में मदद को लेकर संजीदगी नहीं दिखा रहा है।

    ट्रम्प ने कहा था- आतंकवाद को पनाह देता है PAK

    - न्यूज एजेंसी ने न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के हवाले से यह जानकारी दी है।

    - रिपोर्ट में कहा गया है कि ट्रम्प ने जब से यह कहा कि 'पाकिस्तान अराजकता, हिंसा और आतंकवाद फैलाने वालों को सुरक्षित पनाह देता है', दोनों देशों के रिश्तों में गर्माहट खत्म हो गई है।

    - रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन में यह बहस चल रही है कि पाकिस्तान को आतंकवाद के खात्मे के नाम पर आर्थिक मदद दी जानी चाहिए या नहीं।

    PAK को 5 साल में 33 अरब डॉलर दे चुका US
    - बता दें कि अमेरिका 2002 से अब तक पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने के लिए 33 अरब डॉलर (करीब 2 लाख 11 हजार करोड़ रुपए) की आर्थिक मदद दे चुका है।

    - अमेरिका ने अगस्त में कहा था कि जब तक पाकिस्तान आतंकी गुटों पर कार्रवाई तेज नहीं करता, वह उसे दी जाने वाली 25.5 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद रोक कर रखेगा।

    जल्द हो सकता है फैसला
    - अमेरिकी अखबार की रिपोर्ट में कहा गया है, "ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन के सीनियर ऑफिशियल्स ने इस महीने मीटिंग की थी कि (पाक को दिए जाने वाले) पैसे का क्या किया जाए। इस पर अमेरिकी अफसरों ने कहा कि अाखिरी फैसला आने वाले हफ्तों में किया जा सकता है।"

    - न्यूयॉर्क टाइम्स की यह रिपोर्ट अमेरिकी वाइस प्रेसिडेंट माइक पेन्स के काबुल में दिए उस बयान के कुछ दिन बाद आई है, जिसमें कहा गया था कि ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन ने पाकिस्तान को नोटिस पर रखा है।
    - रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान ने इस साल की शुरुआत में छोड़े गए कनाडियन-अमेरिकन परिवार के अपहर्ताओं में से एक को अमेरिका के सामने पेश करने से इनकार कर दिया था। इसके बाद से दोनों देशों के बीच खाई और बढ़ी है।

    PAK आर्मी की US को वॉर्निंग
    - पाकिस्तान की मिलिट्री ने उसकी जमीन से आतंकवाद के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई की संभावनाओं के देखते हुए गुरुवार को अमेरिका को वॉर्निंग दी थी।
    - पाकिस्तान मिलिट्री के स्पोक्समैन मेजर जनरल आसिफ गफूर ने इस बात से इनकार किया है कि पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ माकूल कार्रवाई नहीं कर रहा है।
    - उन्होंने कहा कि पाकिस्तान दूसरे किसी देश के कहे बगैर भी इलाके में मौजूद आतंकी गुटों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखेगा।

    - बता दें कि इस महीने की शुरुआत में अमेरिकी जांच एजेंसी सीआईए के डायरेक्टर माइक पोम्पिओ ने वॉर्निंग दी थी। उन्होंने कहा था कि अमेरिका पाकिस्तान में 'आतंकवादियों के सुरक्षित पनाहगाहों' को खत्म करने के लिए कुछ भी कर सकता है।

  • अमेरिका आतंकवाद पर PAK की नर्मी से नाखुश, रोक सकता है 25 करोड़ डॉलर की मदद, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    मेजर जनरल आसिफ गफूर ने इस बात से इनकार किया है कि पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ माकूल कार्रवाई नहीं कर रहा है। -फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: US Considering Withholding USD 255 Million Aid To Pakistan
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From National

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×