Latest News

--Advertisement--

कठुआ के बाद जम्मू से एक और हिला देने वाली रेप की कहानी

जम्मू के कठुआ में एक आठ साल की बच्ची से रेप की वारदात से पूरा देश हिल गया।

Danik Bhaskar

Apr 21, 2018, 10:27 PM IST

जम्मू. कठुआ गैंगरेप के बाद मचे हंगामे के बीच केंद्र सरकार ने 12 साल से कम उम्र की बच्चियों से रेप पर फांसी की सजा पर अध्यादेश जारी कर दिया। लेकिन इस देश में पुलिस रेप पीड़ितों के साथ कैसा बर्ताव करती है इसका एक नया मामला सामने आया है। जिस जम्मू के कठुआ में एक आठ साल की बच्ची से रेप की वारदात से पूरा देश हिल गया, उसी जम्मू में 12 साल की एक बच्ची की घटना सामने आई है। घटना दो साल पुरानी है लेकन अब सामने आई है। घटना जम्मू के बसोली जिले की है। यहां 12 साल की बच्ची जंगल में बकरियां चराने गई थी, जहां आरोपी ने उसके साथ रेप किया। आरोपी ने बच्ची को धमकाया कि वो किसी से ये बात न कहे। डर के मारे बच्ची ने किसी से ये बात नहीं कही। आठ महीने बाद बच्ची प्रेग्नेंट हो गई तब परिवार को पता चला। बच्ची के पिता ने थाने में एफआईआर लिखाई। पीड़ित बच्ची के पिता कहना है कि वो पिछले दो साल से इंसाफ के लिए दर-दर भटक रहे हैं।

इंसाफ के लिए और कितना इंतजार

बच्ची के पिता कहना है कि मामला दर्ज करवाने के बाद इंसाफ दिलाने की जगह पुलिस उन्हें धमकाने लगी। पिता का आरोप है कि स्थानीय SHO ने उनसे पांच लाख रुपए लेकर मामला रफा-दफा करने के लिए कहा। इसके बाद भी पीड़िता के पिता नहीं झुके। पीड़िता के पिता कहना है कि लगातार दबाव बनाने के बाद आरोपी का डीएनए टेस्ट कराया गया लेकिन SHO ने रिपोर्ट ही बदल दी।

पुलिस का क्या कहना है

स्थानीय पुलिस का कहना है कि आरोपी को गिरफ्तार किया गया था लेकिन हाईकोर्ट से उसे जमानत मिल गई। हाईकोर्ट ने ये भी कहा कि आरोपी जांच में सहयोग करेगा इसलिए उसे गिरफ्तार न किया जाए। हालांकि पीड़िता के पिता का कहना है कि जांच में लापरवाही की गई इसलिए आरोपी बच गया। पूरे मामले की सुनवाई और कार्रवाई के दौरान आरोपी की शादी हो चुकी है। इस बीच रेप पीड़िता एक साल के बच्चे की मां बन गई है।

Click to listen..