देश

  • Hindi News
  • National
  • Gujarat Deputy CM Nitin Patel said I will go to Secretariat and take charge of the ministries today.
--Advertisement--

मनचाहा पोर्टफोलियो ना मिलने से नाराज गुजरात के डिप्टी CM नितिन पटेल माने, आज संभालेंगे चार्ज- शाह ने दूर की नाराजगी

नितिन पटेल आज अपनी मिनिस्ट्रीज का चार्ज संभाल लेंगे। रविवार को उन्होंने खुद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी पुष्टि की।

Dainik Bhaskar

Dec 31, 2017, 12:12 PM IST
फाइनेंस मिनिस्ट्री का चार्ज संभालते नितिन पटेल। फाइनेंस मिनिस्ट्री का चार्ज संभालते नितिन पटेल।

गांधीनगर/नई दिल्ली. गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल को फाइनेंस मिनिस्ट्री का चार्ज सौंपा गया है। पटेल ने रविवार को मिनिस्ट्री का चार्ज संभाला। इससे पहले उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया था कि उन्हें ये डिपार्टमेंट दिया जाएगा। पटेल ने कहा था- अमित शाह जी ने मुझे भरोसा दिलाया है कि मुझे मनमाफिक डिपार्टमेंट्स दिए जाएंगे। बता दें कि 26 तारीख को गुजरात में बीजेपी ने लगातार छठवीं बार सरकार बनाई थी। विजय रूपाणी को सीएम बनाया गया है। नितिन पटेल को डिप्टी सीएम जरूर बनाया गया लेकिन उन्हें फाइनेंस और होम मिनिस्ट्री नहीं दी गईं थीं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नितिन इसी वजह से नाराज थे और उन्होंने अपनी मिनिस्ट्रीज का चार्ज नहीं लिया था।

नाराजगी पर क्या बोले नितिन पटेल?

- रविवार सुबह मीडिया से बातचीत में नितिन पटेल ने कहा- आज में सेक्रेटेरिएट जाउंगा और अपनी मिनिस्ट्रीज का चार्ज संभालूंगा।
- पटेल ने आगे कहा- अमित शाह जी का शुक्रिया। उन्होंने मुझसे फोन पर बात की है। शाह ने मुझे मनमाफिक मंत्रालय देने का वादा किया है। इस भरोसे के लिए एक बार फिर अमित शाह जी का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं।

क्यों नाराज थे नितिन पटेल?

- बीजेपी ने जिन विधायकों को मंत्री बनाया है वो सभी शुक्रवार को ही चार्ज ले चुके हैं। लेकिन, नितिन पटेल ने ऐसा नहीं किया। इसके बाद मीडिया में खबरें आईं कि पाटीदार समुदाय से आने वाले नितिन पटेल मनमाफिक पोर्टफोलियो ना मिलने से नाराज हैं।
- पिछली सरकार में पटेल के पास फाइनेंस, पेट्रोकेमिकल्स, अर्बन डेवलपमेंट, हाउसिंग और नर्मदा जैसे बड़े मंत्रालय थे। इस बार ये नहीं दिए गए। उनकी नाराजगी की वजह यही थी।
- बताया जाता है कि नाराजगी की वजह से नितिन पटेल सरकारी गाड़ी की जगह पर्सनल कार का इस्तेमाल कर रहे थे। नरेंद्र मोदी और अमित शाह पहले हिमाचल कैबिनेट और बाद में दूसरे कामों में बिजी थे। इस वजह से नितिन का मामला लटकता गया।
- इस बीच, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने मीडिया से बातचीत में नितिन को दस विधायकों के साथ कांग्रेस में शामिल होने का न्योता दिया। उन्होंने यहां तक कह दिया कि अगर नितिन पटेल कांग्रेस में आते हैं तो उन्हें सीएम बनाया जाएगा।

बीजेपी के लिए क्यों अहम हैं नितिन पटेल?

- गुजरात में पिछली सरकार के दौरान पाटीदार आरक्षण आंदोलन काफी बढ़ा था। हार्दिक पटेल ने हालिया असेंबली इलेक्शन में बीजेपी के लिए दिक्कतें खड़ी कीं थीं। हार्दिक ने कांग्रेस को समर्थन दिया था।
- बीजेपी इस इलेक्शन में बमुश्किल सरकार बना पाई। उसे 99 सीटें मिलीं। पिछली बार से 16 कम। नितिन पटेल पाटीदार समुदाय से आते हैं। बीजेपी के लिए वो पाटीदार नेताओं का बड़ा चेहरा हैं। इसलिए, पार्टी उन्हें नाराज नहीं करना चाहती। इसी वजह से खुद अमित शाह ने नितिन पटेल को मनाया।

गुजरात में बीजेपी सरकार के शपथ लेने के पांच दिन बाद नितिन पटेल को फाइनेंस मिनिस्ट्री सौंपी गई। - फाइल गुजरात में बीजेपी सरकार के शपथ लेने के पांच दिन बाद नितिन पटेल को फाइनेंस मिनिस्ट्री सौंपी गई। - फाइल
सीएम विजय रूपाणी के साथ डिप्टी सीएम नितिन पटेल। - फाइल सीएम विजय रूपाणी के साथ डिप्टी सीएम नितिन पटेल। - फाइल
X
फाइनेंस मिनिस्ट्री का चार्ज संभालते नितिन पटेल।फाइनेंस मिनिस्ट्री का चार्ज संभालते नितिन पटेल।
गुजरात में बीजेपी सरकार के शपथ लेने के पांच दिन बाद नितिन पटेल को फाइनेंस मिनिस्ट्री सौंपी गई। - फाइलगुजरात में बीजेपी सरकार के शपथ लेने के पांच दिन बाद नितिन पटेल को फाइनेंस मिनिस्ट्री सौंपी गई। - फाइल
सीएम विजय रूपाणी के साथ डिप्टी सीएम नितिन पटेल। - फाइलसीएम विजय रूपाणी के साथ डिप्टी सीएम नितिन पटेल। - फाइल
Click to listen..