• Home
  • National
  • India, Pakistan exchange list of nuclear installations
--Advertisement--

भारत-पाकिस्तान ने साझा की एटमी ठिकानों की लिस्ट, 29 साल पहले हुआ था एग्रीमेंट

भारत-पाकिस्तान ने साझा की एटमी ठिकानों की लिस्ट, 29 साल पहले हुआ था एग्रीमेंट

Danik Bhaskar | Jan 01, 2018, 01:46 PM IST
VIDEO: भारत के पास 130 और पाकिस्तान क VIDEO: भारत के पास 130 और पाकिस्तान क

नई दिल्ली. भारत और पाकिस्तान ने सोमवार को अपने-अपने एटमी ठिकानों की लिस्ट साझा की। भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से यह जानकारी दी गई। ऐसा दोनों देशों के बीच हुए समझौते के तहत हर साल 1 जनवरी को किया जाता है।

एटमी ठिकानों पर नहीं कर सकते हमला

- भारत-पाकिस्तान के बीच 31 दिसंबर 1988 को यह समझौता किया गया था। इसे 27 जनवरी 1991 को लागू किया गया था।
- इस एग्रीमेंट के तहत भारत-पाकिस्तान एक-दूसरे के एटमी ठिकानों पर हमला नहीं कर सकते।
- दोनों देशों के बीच यह लिस्ट 27वीं बार साझा की गई है। पहली लिस्ट 1 जनवरी 1992 को साझा की गई थी।

एटमी हादसों की जानकारी देने का भी है समझौता

- भारत-पाकिस्तान के बीच एटमी खतरे को लेकर एक और समझौता है, जिसे पिछले साल ही पांच साल के लिए बढ़ाया गया है।

- यह समझौता एटमी हथियारों से जुड़े हादसों का खतरा कम करने के लिए किया गया था।

- इस समझौते के तहत दोनों देश अपने क्षेत्र में एटमी हथियार से हादसा होने पर एक-दूसरे को सूचना देंगे। ऐसा इसलिए, क्योंकि रेडिएशन की वजह से सीमापार भी नुकसान हो सकता है।

- यह समझौता 21 फरवरी 2007 को लागू किया गया था। पहली बार इसे 2012 में पांच साल के लिए बढ़ाया गया था।

दुनिया में 14955 एटमी हथियार?

देश एटमी हथियार
रूस 7000
अमेरिका 6800
फ्रांस 300
चीन 270
यूके 215
पाकिस्तान 140
भारत 130
इजरायल 80
नॉर्थ कोरिया

20

टोटल 14955

सोर्स: statista.com

दोनों देशों के बीच बढ़ा टकराव
- इस बार यह लिस्ट ऐसे मौके पर साझा की गई है, जब दोनों देशों के बीच टकराव काफी बढ़ा हुआ है।
- हाल ही में पाक की जेल में बंद इंडियन नेवी के पूर्व अफसर कुलभूषण जाधव से उनका परिवार मिला था। इस पर भारत ने पाकिस्तान पर जाधव के परिवार के साथ बदसलूकी करने का आरोप लगाया था।
- इस मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद में जवाब दिया था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने सुरक्षा के नाम पर जाधव की मां और पत्नी की सुहाग की निशानियां- बिंदी, चूड़ी और मंगलसूत्र उतरवा लिए। पाकिस्तान के इस रवैए की सभी दलों ने निंदा की थी।
- रविवार को ही पाकिस्तानी आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद के फिदायीन हमले में भारत के तीन कैप्टन समेत 5 जवान शहीद हो गए थे।