--Advertisement--

भारत-PAK के NSA के बीच थाईलैंड में हुई सीक्रेट मीटिंग, पाक अफसर बोले- डोभाल का अंदाज फ्रैंडली था

भारत और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच 27 दिसंबर को थाईलैंड में सीक्रेट मीटिंग हुई।

Dainik Bhaskar

Jan 01, 2018, 05:30 PM IST
पाकिस्तान ने कहा है कि दोनों द पाकिस्तान ने कहा है कि दोनों द

नई दिल्ली/इस्लामाबाद. भारत और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों (NSA) के बीच पिछले दिनों थाईलैंड में मीटिंग हुई। सोमवार को इसकी जानकारी देते हुए पाकिस्तान के एक सीनियर अफसर ने कहा कि NSAs की मीटिंग पॉजिटिव रही। इस दौरान अजीत डोभाल का अंदाज काफी फ्रैंडली था। वहीं, पाक मीडिया का दावा है कि कुलभूषण जाधव से उनकी मां और पत्नी की मुलाकात के बाद यह मीटिंग पहले से तय थी। इससे पहले 6 दिसंबर, 2015 को बैंकॉक पाकिस्तान के एनएसए नासिर खान जांजुआ और डोभाल की सीक्रेट मुलाकात हुई थी।

डिप्लोमैटिक रिलेशंस को मिल सकती है मजबूती

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा विभाग से जुड़े एक अफसर ने बताया कि एनएसए डोभाल और जांजुआ के बीच 27 दिसंबर को थाईलैंड में मीटिंग हुई थी। यह बहुत अच्छी रही, इस दौरान डोभाल के अंदाज दोस्ताना था।
- पाकिस्तान के एक अखबार ने भी इसे लेकर खबर छापी थी। इसमें कहा गया है कि दोनों देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच बातचीत से डिप्लोमैटिक रिलेशंस को मजबूती मिलेगी।

पहले से तय थी डोभाल-जांजुआ की मीटिंग

- हालांकि, इसे लेकर भारत की ओर से कोई बयान सामने नहीं आया। कहा जा रहा है कि मीटिंग पहले से तय थी, इसके दो दिन पहले ही 25 दिसंबर को पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से उनकी मां और पत्नी ने इस्लामाबाद में मुलाकात की थी।
- इसके बाद पाकिस्तान ने कहा था कि उसने मानवीय आधार पर जाधव से मां और पत्नी की मुलाकात कराई। जाधव को जासूसी के आरोप में पाकिस्तान आर्मी कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। फिलहाल, आईसीजे ने इस पर रोक लगा रखी है।

पहले भी मिल चुके हैं दोनों देशों के NSA

- यह पहला मौका नहीं है जब भारत-पाकिस्तान के NSA के बीच किसी तीसरे देश में मुलाकात हुई हो। इससे पहले 6 दिसंबर, 2015 को बैंकॉक में दोनों देशों के एनएसए और दो फॉरेन सेक्रेटरी मिले थे।
- यह मीटिंग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नवाज शरीफ के बीच पेरिस में हुई मुलाकात के बाद हुई थी। तब इसे दोनों देशों के बीच बातचीत को आगे बढ़ाने की कोशिश समझा गया था।

X
पाकिस्तान ने कहा है कि दोनों दपाकिस्तान ने कहा है कि दोनों द

Recommended

Click to listen..