--Advertisement--

भारत ने निजामुद्दीन के उर्स में जा रहे 192 जायरीनों को वीजा देने से मना किया: PAK का आरोप

पाकिस्तान ने कहा है कि भारत का यह कदम 1972 में दोनों देशों के बीच हुए समझौते के खिलाफ है।

Dainik Bhaskar

Dec 30, 2017, 04:39 PM IST
पाकिस्तान का कहना है कि भारत क पाकिस्तान का कहना है कि भारत क

इस्लामाबाद. पाकिस्तान ने शनिवार को आरोप लगाया कि भारत ने उसके 192 जायरीनों (तीर्थ यात्रियों) को वीजा देने से इनकार कर दिया है। इन्हें दिल्ली स्थित हजरत ख्वाजा निजामुद्दीन औलिया के उर्स में शामिल होना था। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भारत के इस कदम पर अफसोस जाहिर किया है।

भारत के वीजा न देने पर पाक बोला- यह समझौते के खिलाफ

- बता दें कि ख्वाजा निजामुद्दीन औलिया के उर्स (पुण्यतिथि) पर 1 से 8 जनवरी तक दरगाह पर मेला लगता है।

- यह यात्रा 1974 में हुए एक समझौते (पाकिस्तान-इंडिया प्रोटोकॉल ऑन विजिट टू रिलीजियस श्राइंस) के तहत होनी थी। यह साल में एक बार होने वाला प्रोग्राम है।

- पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है, "यह अफसोसजनक है। 1974 प्रोटोकॉल और लोगों से लोगों के संपर्क के मकसद के खिलाफ है।"

'रिश्ते बेहतर बनाने की कोशिशों को नुकसान होगा'

- बयान में यह भी कहा गया कि यह बाइलेटरल प्रोटोकॉल और धार्मिक आजादी के फंडामेंटल राइट्स के खिलाफ है। साथ ही ऐसे कदमों से माहौल बेहतर बनाने, लोगों के बीच संपर्क बढ़ाने और दोनों देशों के बीच रिश्ते सामान्य बनाने की कोशिशों को नुकसान पहुंचता है।

कुलभूषण के परिवार से बदसलूकी पर भारत खफा
- बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नेवी के पूर्व अफसर कुलभूषण जाधव से उनकी मां और पत्नी मिली थीं।

- भारत का आरोप है कि वहां सिक्युरिटी की चेकिंग के नाम पर उनके साथ बदसलूकी की गई। उनकी सुहाग की निशानियां- बिंदी, चूड़ी और मंगलसूत्र उतरवा लिए गए।

- इस पर संसद के दोनों सदनों में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जवाब दिया था। पाकिस्तान के इस कदम की सदन में सभी दलों ने निंदा की थी।

X
पाकिस्तान का कहना है कि भारत कपाकिस्तान का कहना है कि भारत क
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..