• Hindi News
  • National
  • Pakistan Foreign Office summoned US Ambassador to Pakistan David Hale and registers protest against US President Donald Trumps tweet wherein he accused Pakistan of lies and deceit.
--Advertisement--

पाकिस्तान ने US एम्बेसडर को तलब किया, डोनाल्ड ट्रम्प के अमेरिका को वेबकूफ बनाए जाने वाले बयान पर विरोध दर्ज कराया

यूएस एम्बेसी ने अपने एम्बेसडर डेविड हेली को पाक फॉरेन मिनिस्ट्री में बुलाए जाने की पुष्टि की है।

Dainik Bhaskar

Jan 02, 2018, 08:54 AM IST
नए साल के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो आतंकवाद के खात्मे में मदद के नाम पर अमेरिका से 15 साल में 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद ले चुका है, लेकिन इसके बावजूद धोखा दे रहा है।- फाइल नए साल के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो आतंकवाद के खात्मे में मदद के नाम पर अमेरिका से 15 साल में 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद ले चुका है, लेकिन इसके बावजूद धोखा दे रहा है।- फाइल

इस्लामाबाद/वॉशिंगटन/ नई दिल्ली. पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने डोनाल्ड ट्रम्प के आरोपों पर सख्त नाखुशी जाहिर करते हुए सोमवार रात अमेरिकी एम्बेसडर को तलब किया। बता दें कि नए साल के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो आतंकवाद के खात्मे में मदद के नाम पर अमेरिका से 15 साल में 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद ले चुका है, लेकिन इसके बावजूद धोखा दे रहा है। ट्रम्प के ट्वीट के जरिए दिए गए बयान के बाद दोनों मुल्कों में फिर तनाव हो गया। यूएस एम्बेसी ने अपने एम्बेसडर डेविड हेली को पाक फॉरेन मिनिस्ट्री में बुलाए जाने की पुष्टि की है।

रात 9 बजे विरोध दर्ज कराने के लिए बुलाया

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने सोमवार रात करीब 9 बजे डेविड हेली को तलब किया।
- पाकिस्तान की फॉरेन सेक्रेटरी तहमीना जंजुआ ने डेविड को बताया कि पाकिस्तान प्रेसिडेंट ट्रम्प के लगाए आरोपों पर सफाई चाहता है।
- बता दें कि इससे पहले मई 2016 में पाकिस्तान ने ड्रोन हमलों को लेकर अमेरिकी एम्बेसडर को समन जारी कर तलब किया था। तब पाकिस्तान ने कहा था कि वो अमेरिका पाकिस्तान की जमीन पर ड्रोन हमले कर उसकी सॉवरिनिटी को चैलेंज कर रहा है। इन हमलों को फौरन रोका जाना चाहिए। खास बात ये है कि तब अमेरिका के ड्रोन हमलों में तालिबान का सरगना मुल्ला मंसूर मारा गया था।

आखिर क्या कहा था ट्रम्प ने?

- सोमवार को साल 2018 के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान को सख्त वॉर्निंग दी थी। एक ट्वीट में उन्होंने कहा था, "अमेरिका ने बेवकूफों की तरह पाकिस्तान को 15 साल के दौरान 33 बिलियन डॉलर ( करीब 2 लाख करोड़ रुपए) से ज्यादा की मदद की और उन्होंने हमें केवल झूठ और धोखा दिया। उन्होंने हमारे लीडर्स को बेवकूफ समझा। उन्होंने उन आतंकवादियों को पनाह दी, जिन्हें हम अफगानिस्तान में तलाश कर रहे थे। ये अब और नहीं।"

पाकिस्तान ने क्या कहा था?

- पाकिस्तान सरकार ने कहा- अफगानिस्तान में अपनी नाकामियों का ठीकरा अमेरिका पाकिस्तान पर ना फोड़े। पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में बेमिसाल कुर्बानियां दी हैं। इस पर कोई शक नहीं है।
- PAK आर्मी के स्पोक्सपर्सन आसिफ गफूर ने कहा था, "पाकिस्तान को यूएस से जो मदद मिलती है, वो उस मदद का मुआवजा है, जो इस्लामाबाद अल कायदा के खिलाफ लड़ी जा रही जंग में देता है।"

पिछले 5 साल में PAK को अमेरिका से कितनी मदद मिली?

- बता दें कि अमेरिका 2002 से अब तक पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने के लिए 33 अरब डॉलर (करीब 2 लाख 11 हजार करोड़ रुपए) की आर्थिक मदद दे चुका है।
- अमेरिका ने अगस्त में कहा था कि जब तक पाकिस्तान आतंकी गुटों पर कार्रवाई तेज नहीं करता, वह उसे दी जाने वाली 25.5 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद रोक कर रखेगा।

बीजेपी ने किया ट्रम्प के बयान का स्वागत

- बीजेपी ने पाकिस्तान को फटकार वाले ट्रम्प के बयान का वेलकम करते हुए राहुल गांधी पर तंज कसा था। पार्टी स्पोक्सपर्सन जीवीएल. नरसिम्हा राव ने एक ट्वीट में पाकिस्तान के लिए टेरेरिस्तान शब्द का इस्तेमाल किया था। उन्होंने पाकिस्तान को धोखेबाज कहे जाने का भी समर्थन किया और उन्हें शुक्रिया कहा। उन्होंने कहा था- प्रिय राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिप्लोमैसी के नतीजे आपके सामने हैं।

अमेरिका ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि उसकी आर्मी आतंकी पनाहगाहों को खत्म करने के लिए सख्त एक्शन नहीं लेती। - सिम्बॉलिक अमेरिका ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि उसकी आर्मी आतंकी पनाहगाहों को खत्म करने के लिए सख्त एक्शन नहीं लेती। - सिम्बॉलिक
X
नए साल के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो आतंकवाद के खात्मे में मदद के नाम पर अमेरिका से 15 साल में 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद ले चुका है, लेकिन इसके बावजूद धोखा दे रहा है।- फाइलनए साल के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो आतंकवाद के खात्मे में मदद के नाम पर अमेरिका से 15 साल में 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद ले चुका है, लेकिन इसके बावजूद धोखा दे रहा है।- फाइल
अमेरिका ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि उसकी आर्मी आतंकी पनाहगाहों को खत्म करने के लिए सख्त एक्शन नहीं लेती। - सिम्बॉलिकअमेरिका ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि उसकी आर्मी आतंकी पनाहगाहों को खत्म करने के लिए सख्त एक्शन नहीं लेती। - सिम्बॉलिक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..