Hindi News »India News »Latest News »National» Pakistan Foreign Ministry Disagrees Over Donald Trumps Statement, Summoned US Ambassador

पाकिस्तान ने US एम्बेसडर को तलब किया, ट्रम्प के बेवकूफ बनाए जाने वाले बयान पर विरोध जताया

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 03:52 PM IST

यूएस एम्बेसी ने अपने एम्बेसडर डेविड हेली को पाक फॉरेन मिनिस्ट्री में बुलाए जाने की पुष्टि की है।
  • पाकिस्तान ने US एम्बेसडर को तलब किया, ट्रम्प के बेवकूफ बनाए जाने वाले बयान पर विरोध जताया, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    नए साल के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो आतंकवाद के खात्मे में मदद के नाम पर अमेरिका से 15 साल में 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद ले चुका है, लेकिन इसके बावजूद धोखा दे रहा है।- फाइल

    इस्लामाबाद/वॉशिंगटन/ नई दिल्ली.पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने डोनाल्ड ट्रम्प के आरोपों पर सख्त नाखुशी जाहिर करते हुए सोमवार रात अमेरिकी एम्बेसडर को तलब किया। बता दें कि नए साल के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो आतंकवाद के खात्मे में मदद के नाम पर अमेरिका से 15 साल में 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद ले चुका है, लेकिन इसके बावजूद धोखा दे रहा है। ट्रम्प के ट्वीट के जरिए दिए गए बयान के बाद दोनों मुल्कों में फिर तनाव हो गया। यूएस एम्बेसी ने अपने एम्बेसडर डेविड हेली को पाक फॉरेन मिनिस्ट्री में बुलाए जाने की पुष्टि की है।

    रात 9 बजे विरोध दर्ज कराने के लिए बुलाया

    - न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने सोमवार रात करीब 9 बजे डेविड हेली को तलब किया।
    - पाकिस्तान की फॉरेन सेक्रेटरी तहमीना जंजुआ ने डेविड को बताया कि पाकिस्तान प्रेसिडेंट ट्रम्प के लगाए आरोपों पर सफाई चाहता है।
    - बता दें कि इससे पहले मई 2016 में पाकिस्तान ने ड्रोन हमलों को लेकर अमेरिकी एम्बेसडर को समन जारी कर तलब किया था। तब पाकिस्तान ने कहा था कि वो अमेरिका पाकिस्तान की जमीन पर ड्रोन हमले कर उसकी सॉवरिनिटी को चैलेंज कर रहा है। इन हमलों को फौरन रोका जाना चाहिए। खास बात ये है कि तब अमेरिका के ड्रोन हमलों में तालिबान का सरगना मुल्ला मंसूर मारा गया था।

    आखिर क्या कहा था ट्रम्प ने?

    - सोमवार को साल 2018 के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान को सख्त वॉर्निंग दी थी। एक ट्वीट में उन्होंने कहा था, "अमेरिका ने बेवकूफों की तरह पाकिस्तान को 15 साल के दौरान 33 बिलियन डॉलर ( करीब 2 लाख करोड़ रुपए) से ज्यादा की मदद की और उन्होंने हमें केवल झूठ और धोखा दिया। उन्होंने हमारे लीडर्स को बेवकूफ समझा। उन्होंने उन आतंकवादियों को पनाह दी, जिन्हें हम अफगानिस्तान में तलाश कर रहे थे। ये अब और नहीं।"

    पाकिस्तान ने क्या कहा था?

    - पाकिस्तान सरकार ने कहा- अफगानिस्तान में अपनी नाकामियों का ठीकरा अमेरिका पाकिस्तान पर ना फोड़े। पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में बेमिसाल कुर्बानियां दी हैं। इस पर कोई शक नहीं है।
    - PAK आर्मी के स्पोक्सपर्सन आसिफ गफूर ने कहा था, "पाकिस्तान को यूएस से जो मदद मिलती है, वो उस मदद का मुआवजा है, जो इस्लामाबाद अल कायदा के खिलाफ लड़ी जा रही जंग में देता है।"

    पिछले 5 साल में PAK को अमेरिका से कितनी मदद मिली?

    - बता दें कि अमेरिका 2002 से अब तक पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने के लिए 33 अरब डॉलर (करीब 2 लाख 11 हजार करोड़ रुपए) की आर्थिक मदद दे चुका है।
    - अमेरिका ने अगस्त में कहा था कि जब तक पाकिस्तान आतंकी गुटों पर कार्रवाई तेज नहीं करता, वह उसे दी जाने वाली 25.5 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद रोक कर रखेगा।

    बीजेपी ने किया ट्रम्प के बयान का स्वागत

    - बीजेपी ने पाकिस्तान को फटकार वाले ट्रम्प के बयान का वेलकम करते हुए राहुल गांधी पर तंज कसा था। पार्टी स्पोक्सपर्सन जीवीएल. नरसिम्हा राव ने एक ट्वीट में पाकिस्तान के लिए टेरेरिस्तान शब्द का इस्तेमाल किया था। उन्होंने पाकिस्तान को धोखेबाज कहे जाने का भी समर्थन किया और उन्हें शुक्रिया कहा। उन्होंने कहा था- प्रिय राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिप्लोमैसी के नतीजे आपके सामने हैं।

  • पाकिस्तान ने US एम्बेसडर को तलब किया, ट्रम्प के बेवकूफ बनाए जाने वाले बयान पर विरोध जताया, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    अमेरिका ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि उसकी आर्मी आतंकी पनाहगाहों को खत्म करने के लिए सख्त एक्शन नहीं लेती। - सिम्बॉलिक
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Pakistan Foreign Ministry Disagrees Over Donald Trumps Statement, Summoned US Ambassador
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×