Hindi News »National »Latest News »National» Anti-Pakistan Slogans Were Raised In The Lok Sabha On Tuesday By Some BJP Members.

1 के बदले 10 सिर लाने की बात करने वाले चुप क्यों? : पुलवामा हमले पर संसद में कांग्रेस

सिंधिया ने पूछा- प्रधानमंत्री ने इस मामले पर बयान क्यों नहीं दिया। भारत के एनएसए बैंकॉक में पाक एनएसए से क्यों मिले?

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 09:52 PM IST

    • Video: सीआरपीएफ पर आतंकी हमले के बाद लोकसभा में हंगामा...

      नई दिल्ली.जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शनिवार-रविवार की दरमियानी रात सीआरपीएफ कैंप पर हुए आतंकी हमले का मुद्दा मंगलवार को लोकसभा में उठा। हमले में पांच जवान शहीद हुए थे। कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा- एक के बदले 10 सिर लाने वाले और पाकिस्तान को माकूल जवाब देने की मांग करने वाले लोगों ने आज चुप्पी क्यों साध रखी है? इसके पहले बीजेपी सांसदों ने सदन में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। सदन ने हमले में शहीद हुए सैनिकों श्रद्धांजलि भी दी। सिंधिया ने कहा- जब खुफिया रिपोर्ट थी तो सरकार ने उस हिसाब से फोर्स की तैनाती क्यों नहीं की। भारत के एनएसए बैंकॉक में पाकिस्तान के एनएसए से क्यों मिले?

      सिंधिया ने सरकार से मांगा जवाब

      - कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पुलवामा आतंकी हमले पर सरकार से जवाब मांगा।
      - सिंधिया ने कहा, “ 2017 की आखिरी रात जब पूरे देश की जनता आने वाले नए साल का जश्न मना रही थी तब एक दुखद घटना घटी। पुलवामा में पाकिस्तानी स्पॉन्सर्ड आतंकियों ने हमारे सीआरपीएफ प्रशिक्षण केंद्र पर हमला किया। हमारे पांच जवानों ने अपनी जान की आहूति दी। तीन आतंकियों को भी वहां मार डाला गया। एक तरफ हमारे जवान शहीद होते हैं तो दूसरी तरफ यह सरकार हमारे जवानों की सुरक्षा के प्रति गंभीर नजर नहीं आती।”
      - “पिछले तीन वर्षों में उड़ी, पम्पोर, पठानकोट और ऊधमपुर समेत कितनी घटनाएं हुईं। कितनी कमेटियां गठित की गईं। लेकिन, एक के बाद एक गलती इस सरकार के द्वारा दोहराई जाती है। पुलवामा में पिछले साल एक हमला हो चुका है। वहां हमारे 8 सैनिक शहीद हुए थे। पिछले साल अक्टूबर में बीएसएफ की बटालियन पर एक हमला हुआ था जिसमें हमारा एक जवान शहीद हुआ था।”

      प्रधानमंत्री एक शब्द भी नहीं बोले

      - कांग्रेस सांसद ने आगे कहा, “वहां के पुलिस अफसर एसपी. वैद को जानकारी दी गई थी कि यहां घटना घटने वाली है। 130 एकड़ में 4 किलोमीटर का पैरामीटर वॉल है तो आतंकी घुसे कैसे। वहां फ्लड लाइट नहीं लगे थे। जनरल फिलिप कॉम्बोज की रिपोर्ट भी आई लेकिन इस सरकार ने उस पर कोई कदम नहीं उठाया। मैं पूछना चाहता हूं कि इस सरकार के एक सांसद स्वयं नेपाल सिंह जी कहते हैं- जवानों को तो जान देना ही होगी। ये कोई नई चीज नहीं है। ये शर्म की बात नहीं है तो और क्या है?”
      - “जिन लोगों ने मुंह तोड़ जवाब देने और एक के बदले 10 सिर लाने की बात कही थी, वो चुप क्यों बैठे हैं? प्रधानमंत्री जी भी एक शब्द नहीं बोले। सरकार ने खुफिया रिपोर्ट के आधार पर सुरक्षा बल तैनात क्यों नहीं किए? इनके राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बैंकॉक में जाकर पाकिस्तान के एनएसए से बात करते हैं। क्या विदेश नीति है ये? हम समझ नहीं पाते। इसका स्पष्टीकरण चाहिए। बीजेपी सांसद के बयान पर हम माफी चाहते हैं।”

      सरकार ने क्या कहा?

      - गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने कहा- आतंकियों के मारे जाने का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है. 2010 से 2013 के बीच 471 आतंकी मारे गए थे। 2014 से अब तक 580 आतंकी मारे जा चुके हैं। यह सरकार की कामयाबी है।

      स्पीकर के आते ही नारेबाजी

      - मंगलवार को जैसे ही स्पीकर सुमित्रा महाजन सदन में आईं बीजेपी सांसदों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए। कुछ देर बाद सदन ने पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। स्पीकर ने पुलवामा हमले को कायराना हरकत करार दिया।

      पुलवामा में क्या हुआ था?

      - शनिवार-रविवार की दरमियानी रात करीब दो बजे सीआरपीएफ कैंप पर फिदायीन हमला हुआ था। पांच जवान शहीद हुए थे। आर्मी का आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन करीब 36 घंटे चला।
      - दो आतंकियों की पहचान हुई। एक पुलवामा का जबकि दूसरा त्राल का था। त्राल के रहने वाले आतंकी का नाम फरदीन अहमद खांडे था। उसके पिता जम्मू-कश्मीर पुलिस में हैं। फरदीन कुछ महीने पहले ही जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा था। इसी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी ली थी।

    • 1 के बदले 10 सिर लाने की बात करने वाले चुप क्यों? : पुलवामा हमले पर संसद में कांग्रेस, national news in hindi, national news
      +2और स्लाइड देखें
      शनिवार-रविवार की दरमियानी रात पुलवामा के सीआरपीएफ कैंप पर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने फिदायीन हमला किया था।
    • 1 के बदले 10 सिर लाने की बात करने वाले चुप क्यों? : पुलवामा हमले पर संसद में कांग्रेस, national news in hindi, national news
      +2और स्लाइड देखें
      आतंकी हमले के दौरान तैनात एक जवान।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Anti-Pakistan Slogans Were Raised In The Lok Sabha On Tuesday By Some BJP Members.
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From National

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×