Hindi News »National »Latest News »National» Rajnikant Political Affect On States Upcoming Elections

इस साल आठ राज्यों में चुनाव, रजनीकांत राजनीति में क्या करेंगे?

बीजेपी के लिए सारे हालात उसके फेवर में रहे तो 2018 में राज्यसभा में उसके सदस्यों की संख्या 70 तक पहुंच सकती है।

त्रिभुवन/पीयूष बबेले | Last Modified - Jan 02, 2018, 10:57 AM IST

  • इस साल आठ राज्यों में चुनाव, रजनीकांत राजनीति में क्या करेंगे?, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    सोमवार को रजनीकांत ने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट कर अपनी वेबसाइट लॉन्च किए जाने का एलान किया था।

    नई दिल्ली. इस साल 8 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। इनमें तीन बड़े राज्य मध्य प्रदेश, राजस्थान और कर्नाटक शामिल हैं। इसके अलावा छत्तीसगढ़, मिजोरम, मेघालय, नगालैंड और त्रिपुरा में भी इसी साल असेंबली इलेक्शन होने हैं। दूसरी तरफ, साउथ के सुपर स्टार रजनीकांत ने भी 31 दिसंबर को सियासी पारी शुरू करने का एलान कर दिया। तमिलनाडु में कुल 234 विधानसभा सीटें हैं। माना जाता है कि हर सीट पर रजनीकांत के करीब 25 से 30 हजार सपोर्टर हैं। लिहाजा, वो इस राज्य में सियासी समीकरण बदल सकते हैं। वैसे देश की सियासत में इस साल 8 बातें और हो सकती हैं।

    नए साल में सियासत की 8 अहम बातें

    1. महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस अलायंस तोड़ सकती हैं।

    2. सोनिया गांधी रिटायर हो चुकी हैं। वो अब प्रियंका गांधी के रायबरेली से लड़ने का एलान कर सकती हैं।

    3. पश्चिम बंगाल के पंचायत चुनाव से तय होगा कि बीजेपी की अब वहां क्या स्थिति है।

    4. तमिलनाडु में दिनाकरन ने चुनौती दी है कि वे सरकार गिरा देंगे। इस दावे पर नजर रहेगी।

    5. रजनीकांत तो राजनीति में आ चुके हैं। उन पर नजर रहेगी। साउथ के ही एक और सुपर स्टार कमल हासन भी सियासत में आ सकते हैं।

    6. चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी कैबिनेट में बदलाव मुमकिन है।

    7. देश में सबसे ज्यादा 24 साल तक सीएम रहने का रिकॉर्ड सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग बनाएंगे।

    8. आम आदमी पार्टी का कोई मेंबर पहली बार राज्यसभा में जाएगा।

    8 राज्यों में अभी यह हैं हालात अौर ये हैं बड़े मुद्दे

    1. मध्य प्रदेश

    कुल सीटें-230

    बीजेपी- 165

    कांग्रेस 58

    मुद्दा -तीन बार से बीजेपी सत्ता में है। व्यापमं और किसान के गुस्से काे आधार बनाकर कांग्रेस शिवराज सिंह चौहान को चुनौती देगी।

    2. छत्तीसगढ़

    कुल सीटें- 90

    बीजेपी- 49

    कांग्रेस- 39

    मुद्दा -15 साल से बीजेपी सत्ता में है। इस बार कांग्रेस से अलग हुए अजीत जोगी की पार्टी मुकाबले को ट्राएंगुलर बना सकती है।

    3. मेघालय

    कुल सीटें- 60

    कांग्रेस- 29

    निर्दलीय -13

    मुद्दा -राज्य में कांग्रेस की सरकार है। राहुल गांधी की कोशिश है कि कांग्रेसियों को बीजेपी में जाने से रोका जाए।

    4. नगालैंड-

    कुल सीटें-60

    पीपुल्स नागा फ्रंट-38

    कांग्रेस- 8

    मुद्दा -यहां नगालैंड पीपुल्स फ्रंट की सरकार है। नागा अस्मिता और ग्रेटर नगालैंड की मांग एक बार फिर प्रमुख मुद्दा होगी।

    5. राजस्थान

    कुल सीटें- 200

    बीजेपी- 163

    कांग्रेस- 21

    मुद्दा -वसुंधरा की पार्टी हाईकमान से अनबन का फायदा कांग्रेस लेने की कोशिश करेगी। उप चुनावाें में प्रदर्शन से कांग्रेस जोश में।

    6. कर्नाटक

    कुल सीटें-224

    बीजेपी- 40

    कांग्रेस- 122

    मुद्दा -कांग्रेस हारी तो साउथ इंडिया में पार्टी साफ हो जाएगी। लिंगायत को हिंदू धर्म से अलग मान्यता की मांग बड़ा सियासी मुद्दा।

    7. मिजोरम

    कुल सीटें- 40

    अन्य- 6

    कांग्रेस- 34

    मुद्दा -नॉर्थ-ईस्ट में बीजेपी लगाातर पुराने कांग्रेसी नेताओं को साथ ले रही है। मिजोरम में भी उसकी यही रणनीति है।

    8. त्रिपुरा

    कुल सीटें-60

    सीपीआईएम- 49

    कांग्रेस- 10

    मुद्दा -लेफ्ट पार्टियों की सरकार है। मुकाबला लेफ्ट और कांग्रेस में है। सीएम माणिक सरकार के लिए गढ़ बचाना चुनौती।

    (नोट : सीटों के आंकड़े इलेक्शन कमीशन के मुताबिक 2013 के विधानसभा चुनाव के फौरन बाद के हैं। )

    राज्यसभा : बीजेपी की 70 तक सीटें होंगी

    - बीजेपी के लिए हालात उसके फेवर में रहे तो 2018 में राज्यसभा में बीजेपी के सदस्यों की संख्या 70 तक पहुंच सकती है। जबकि यहां मेजॉरिटी का आंकड़ा 123 है। ऐसे में, बीजेपी के लिए यही तसल्ली होगी कि राज्यसभा में उसे कांग्रेस की धौंस नहीं झेलनी पड़ेगी, अगर पार्टी बाकी दलों से तालमेल बना ले तो आम चुनाव से पहले मोदी अपने मन के कई बड़े फैसले संसद से पास करा लेंगे। इस साल बीजेपी के कुल 17 सदस्य रिटायर होंगे। विधानसभाओं की मौजूदा हालात के मुताबिक, बीजेपी आराम से 27 सीटों पर जीत हासिल कर लेगी।

  • इस साल आठ राज्यों में चुनाव, रजनीकांत राजनीति में क्या करेंगे?, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    रजनीकांत ने रविवार को किया था पार्टी बनाने का एलान।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×