Hindi News »National »Latest News »National» United States Has Suspended Its USD 255 Million Military Aid To Pakistan For Now And White House Confirmed This.

अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1628 करोड़ रुपए की मिलिट्री मदद रोकी, ट्रम्प के बयान के बाद कार्रवाई

अमेरिका की तरफ से यह कार्रवाई प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प के पाकिस्तान पर लगाए गए आरोपों के एक दिन बाद की है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 09:36 AM IST

  • अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1628 करोड़ रुपए की मिलिट्री मदद रोकी, ट्रम्प के बयान के बाद कार्रवाई, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    ट्रम्प ने नए साल के पहले दिन पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो अमेरिका से आतंकवाद के खात्मे के नाम पर 15 साल में 33 बिलियन डॉलर ले चुका है, इसके बावजूद धोखा दे रहा है।- फाइल

    वॉशिंगटन/इस्लामाबाद/नई दिल्ली.अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 255 मिलियन डॉलर (इंडियन करंसी के हिसाब से करीब 1626 करोड़ रुपए) की मिलिट्री एड (सैन्य मदद) रोक दी है। व्हाइट हाउस ने मंगलवार को इसकी पुष्टि भी कर दी। अमेरिका की तरफ से यह कार्रवाई प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प के पाकिस्तान पर लगाए गए आरोपों के एक दिन बाद की गई है। बता दें कि ट्रम्प ने नए साल के पहले दिन पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि वो अमेरिका से आतंकवाद के खात्मे के नाम पर 15 साल में 33 बिलियन डॉलर (2.14 लाख करोड़ रुपए) ले चुका है, इसके बावजूद धोखा दे रहा है।

    शर्तों पर ही मिल सकेगी मदद

    - न्यूज एजेंसी के मुताबिक, अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1628 करोड़ रुपए (255 मिलियन डॉलर) की मदद रोकते हुए कहा है कि अब पाकिस्तान को कोई भी मदद करने से पहले यह देखा जाएगा कि इस्लामाबाद ने आतंकवाद के खिलाफ क्या और कितनी कारगर कार्रवाई की है।

    - ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन के एक अफसर ने कहा- अमेरिका 2016 के लिए तय 255 मिलियन डॉलर की विदेशी सैन्य मदद (Foreign Military Financing) पाकिस्तान को जारी नहीं करेगा।
    - इस अफसर ने आगे कहा- प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प पहले ही साफ कर चुके हैं कि पाकिस्तान को अपनी जमीन पर मौजूद आतंकी पनाहगाहों के खिलाफ नतीजे देने वाली करनी होगी। हमारी साउथ एशिया पॉलिसी के हिसाब से पाकिस्तान को एक्शन लेना होगा। यही अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों का मिजाज तय करेंगे। इसमें आने वाले वक्त की सिक्युरिटी असिस्टेंस यानी सुरक्षा मदद भी शामिल है।

    पाकिस्तान के एक्शन का रिव्यू जारी रहेगा

    - इस अफसर ने ये भी साफ कर दिया कि ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन पाकिस्तान द्वारा की जाने वाली कार्रवाई और उसकी तरफ से इस मामले में अमेरिका को दी जाने वाली मदद का रिव्यू जारी रखेगा।
    - ट्रम्प फ्लोरिडा के मेर लागो में क्रिसमस और न्यू ईयर की छुट्टियां मनाकर सोमवार को ही व्हाइट हाउस लौटे हैं। कुछ रिपोर्ट्स ने उनसे पाकिस्तान के बारे में अमेरिकी स्ट्रैटजी से जुड़े सवाल पूछने की कोशिश की थी। लेकिन यूएस प्रेसिडेंट ने इनका कोई जवाब नहीं दिया था।

    ट्रम्प का बेटा भी पिता के फैसले से खुश

    - अमेरिका के कई सांसद पाकिस्तान के खिलाफ ट्रम्प के सख्त एक्शन का समर्थन कर रहे हैं। रिपब्लिकन पार्टी के सांसद मार्कवाएन मुलीन ने कहा- मैं ट्रम्प के पाकिस्तान को मदद रोकने के कदम से सहमत हूं। उन्हें या तो अमेरिका के साथ होना चाहिए या उसके खिलाफ।
    - सीनेटर रैंड पॉल ने कहा- मैं कब से सीनेट मे कह रहा हूं कि हमें पाकिस्तान को दी जाने वाली मदद बंद कर देनी चाहिए। ट्रम्प के फैसले से बहुत फायदा होगा।
    - डोनाल्ड ट्रम्प के बेटे डोनाल्ड ट्रम्प जूनियर ने कहा- बेहतरीन शुरुआत। ऐसे मुल्कों को करोड़ों डॉलर देने का क्या मतलब जो हमारे खिलाफ दुश्मन पैदा करते हों।

    आखिर क्या कहा था ट्रम्प ने?

    - सोमवार को साल 2018 के पहले ही दिन ट्रम्प ने पाकिस्तान को सख्त वॉर्निंग दी थी। एक ट्वीट में उन्होंने कहा था, "अमेरिका ने बेवकूफों की तरह पाकिस्तान को 15 साल के दौरान 33 बिलियन डॉलर ( करीब 2.14 लाख करोड़ रुपए) से ज्यादा की मदद की और उन्होंने हमें केवल झूठ और धोखा दिया। उन्होंने हमारे लीडर्स को बेवकूफ समझा। उन्होंने उन आतंकवादियों को पनाह दी, जिन्हें हम अफगानिस्तान में तलाश कर रहे थे। ये अब और नहीं।"

    पाकिस्तान ने क्या कहा था?

    - पाकिस्तान सरकार ने कहा- अफगानिस्तान में अपनी नाकामियों का ठीकरा अमेरिका पाकिस्तान पर ना फोड़े। पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में बेमिसाल कुर्बानियां दी हैं। इसमें कोई शक नहीं है।
    - PAK आर्मी के स्पोक्सपर्सन आसिफ गफूर ने कहा था, "पाकिस्तान को यूएस से जो मदद मिलती है, वो उस मदद का मुआवजा है, जो इस्लामाबाद अल कायदा के खिलाफ लड़ी जा रही जंग में देता है।"

    पिछले 15 साल में PAK को अमेरिका से कितनी मदद मिली?

    - बता दें कि अमेरिका 2002 से अब तक पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने के लिए 33 अरब डॉलर (करीब 2.14 लाख करोड़ रुपए) की आर्थिक मदद दे चुका है।
    - अमेरिका ने अगस्त में कहा था कि जब तक पाकिस्तान आतंकी गुटों पर कार्रवाई तेज नहीं करता, वह उसे दी जाने वाली 25.5 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद रोक कर रखेगा।

    ये भी पढ़ें
    पाकिस्तान ने US एम्बेसडर को तलब किया, ट्रम्प के वेबकूफ बनाए जाने वाले बयान पर विरोध जताया
    पाकिस्तान को मदद देने पर ट्रम्प बोले- अब और नहीं, PAK ने कहा- नाकामियां हम पर ना थोपें

  • अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1628 करोड़ रुपए की मिलिट्री मदद रोकी, ट्रम्प के बयान के बाद कार्रवाई, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1628 करोड़ रुपए (255 मिलियन डॉलर) की मदद रोकते हुए कहा है कि अब पाकिस्तान को कोई भी मदद करने से पहले यह देखा जाएगा कि इस्लामाबाद ने आतंकवाद के खिलाफ क्या और कितनी कारगर कार्रवाई की है।- फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×