Hindi News »National »Latest News »National» Donald Trump Says US Has Foolishly Given Aid To Pakistan Over The Last 15 Years

पाकिस्तान को मदद देने पर ट्रम्प बोले- अब और नहीं, PAK ने कहा- नाकामियां हम पर ना थोपें

अमेरिका के प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान को दी जाने वाली मदद रोकने का एलान किया है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 01, 2018, 10:33 PM IST

    • Video- ट्रम्प ने पाकिस्तान को मदद पर लगाई रोक...

      वॉशिंगटन. अमेरिका के प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सैन्य मदद रोकने का एलान किया है। उन्होंने सोमवार को ट्वीट किया, "अमेरिका ने 15 साल तक पाकिस्तान की मदद की और बदले में उन्होंने हमें केवल धोखा और झूठ दिया। हमारे लीडर्स को बेवकूफ समझा। ये अब और नहीं।" 2018 का ये ट्रम्प का पहला ट्वीट था, जिसमें पाकिस्तान निशाने पर था। पाकिस्तान सरकार ने कहा, "अफगानिस्तान में अपनी नाकामियों का ठीकरा अमेरिका हमारे सिर ना फोड़े।"

      डोनाल्ड ट्रम्प ने PAK को मदद पर और क्या कहा?

      - ट्रम्प ने ट्वीट किया, "अमेरिका ने बेवकूफों की तरह पाकिस्तान को 15 साल के दौरान 33 बिलियन डॉलर यानी 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की मदद की। और, उन्होंने हमें केवल झूठ और धोखा दिया। उन्होंने हमारे लीडर्स को बेवकूफ समझा। उन्होंने उन आतंकवादियों को पनाह दी, जिन्हें हम अफगानिस्तान में तलाश कर रहे थे। ये अब और नहीं।"

      पाकिस्तान सरकार ने क्या कहा?

      - न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, पाकिस्तान सरकार ने कहा- अफगानिस्तान में अपनी नाकामियों का ठीकरा अमेरिका पाकिस्तान पर ना फोड़े। पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में बेमिसाल कुर्बानियां दी हैं और इस पर कोई शक नहीं है।

      - PAK आर्मी स्पोक्सपर्सन आसिफ गफूर ने कहा, "पाकिस्तान को यूएस से जो मदद मिलती है, वो उस मदद का मुआवजा है.. जो इस्लामाबाद अल कायदा के खिलाफ लड़ी जा रही जंग में देता है।"

      - फॉरेन मिनिस्ट्री ने कहा, "आतंकवाद के खिलाफ पाकिस्तान की लड़ाई को महत्वहीन दिखाने के लिए कैम्पेन चलाया जा रहा है। सहयोगियों को एक-दूसरे को नोटिस पर नहीं रखना चाहिए।"

      आतंकियों को पनाह देने पर क्या कहा था ट्रम्प ने?

      - न्यूज एजेंसी ने न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के हवाले से बताया था कि "ट्रम्प ने कहा था कि पाकिस्तान अराजकता, हिंसा और आतंकवाद फैलाने वालों को सुरक्षित पनाह देता है। इसके बाद दोनों देशों के रिश्तों में गर्माहट खत्म हो गई है। ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन में यह बहस चल रही है कि पाकिस्तान को आतंकवाद के खात्मे के नाम पर आर्थिक मदद दी जानी चाहिए या नहीं।"

      पिछले 5 साल में PAK को अमेरिका से कितनी मदद मिली?

      - बता दें कि अमेरिका 2002 से अब तक पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने के लिए 33 अरब डॉलर (करीब 2 लाख 11 हजार करोड़ रुपए) की आर्थिक मदद दे चुका है।

      - अमेरिका ने अगस्त में कहा था कि जब तक पाकिस्तान आतंकी गुटों पर कार्रवाई तेज नहीं करता, वह उसे दी जाने वाली 25.5 करोड़ डॉलर की आर्थिक मदद रोक कर रखेगा।

      पाकिस्तान ने आतंकियों पर एक्शन पर क्या कहा था?
      - पाकिस्तान मिलिट्री के स्पोक्समैन मेजर जनरल आसिफ गफूर ने इस बात से इनकार किया था कि पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ माकूल कार्रवाई नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा था- पाकिस्तान दूसरे किसी देश के कहे बगैर भी इलाके में मौजूद आतंकी गुटों के खिलाफ कार्रवाई जारी रखेगा।
      - बता दें कि इस महीने की शुरुआत में अमेरिकी जांच एजेंसी सीआईए के डायरेक्टर माइक पोम्पिओ ने वॉर्निंग दी थी। उन्होंने कहा था कि अमेरिका पाकिस्तान में 'आतंकवादियों के सुरक्षित पनाहगाहों' को खत्म करने के लिए कुछ भी कर सकता है।

    • पाकिस्तान को मदद देने पर ट्रम्प बोले- अब और नहीं, PAK ने कहा- नाकामियां हम पर ना थोपें, national news in hindi, national news
      +1और स्लाइड देखें
      डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान को दी जाने वाली मदद रोकने का एलान किया है। - फाइल
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online

    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Donald Trump Says US Has Foolishly Given Aid To Pakistan Over The Last 15 Years
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From National

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×