--Advertisement--

मोदी को हराने के लिए अपोजिशन एकजुट हो, BJP के खिलाफ कॉमन कैंडिडेट उतारें: शौरी

शौरी के मुताबिक, पिछले चुनाव में BJP को 31% वोट मिले, लेकिन बाकी 69% अलग-अलग पार्टियों में बंटने से मोदी की जीत हुई।

Dainik Bhaskar

Nov 25, 2017, 02:41 PM IST
अरुण शौरी अलट बिहारी वाजपेयी सरकार में विनिवेश मंत्री रह चुके हैं। अरुण शौरी अलट बिहारी वाजपेयी सरकार में विनिवेश मंत्री रह चुके हैं।

नई दिल्ली. पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने शनिवार को कहा कि बीजेपी और नरेंद्र मोदी को हराने के लिए सभी अपोजिशन पार्टियों को साथ आना होगा। 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी कैंडिडेट्स के सामने आम राय बनाकर सिर्फ एक कैंडिडेट खड़ा करना चाहिए। शौरी के मुताबिक, पिछले चुनाव में बीजेपी को 31% वोट मिले थे, लेकिन बाकी 69% अलग-अलग पार्टियों में बंटने से मोदी की जीत हुई। इसी प्रोग्राम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मोदी सरकार के फैसलों से आम आदमी के अंदर गुस्सा है। अगला चुनाव मोदी v/s पीपुल ऑफ इंडिया होगा। अपोजिशन को कॉमन प्रोग्राम बनाना होगा...

- अरुण शौरी ने कहा, ''अगर आप वास्ताव में सोचते हैं कि देश खतरे में है... तो अपोजिशन को साथ आना होगा। उन लोगों के खिलाफ सिर्फ एक कैंडिडेट खड़ा करना चाहिए, जिन्हें हम मानते हैं कि वो देश को डेंजर जोन में लेकर जा रहे हैं। इसके लिए कॉमन प्रोग्राम तय करना होगा। मैं और मेरे एक साथी इसे 15 मिनट में बना सकते हैं।''

- 2014 के लोकसभा इलेक्शन में नरेंद्र मोदी का सपोर्ट करने वाले शौरी ने कहा कि पिछले चुनाव में मोदी की इतनी पॉप्युलेरिटी के बावजूद बीजेपी को 31% वोट मिले। लेकिन पार्टी की जीत हुई, क्योंकि बाकी 69% वोट अगल-अलग पार्टियों में बंट गए थे।

ममता ने भी डेमोक्रेसी को खतरा बताया

- शौरी का बयान ऐसे वक्त आया है, जबकि एक दिन पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी कहा, ''बीजेपी सरकार में डेमोक्रेसी को खतरा है। इसलिए अगले लोकसभा चुनाव से पहले जनहित को ध्यान रखते हुए अपोजिशन पार्टियों को साथ मिलकर काम करना चाहिए।''

शौरी ने कहां दिया ये बयान?

- दिल्ली में आम आदमी पार्टी के सोशल मीडिया स्ट्रैटजिस्ट अंकित लाल की बुक 'इंडिया सोशल' की लॉन्चिंग हुई। इसमें अरुण शौरी, अरविंद केजरीवाल समेत कई नेता शामिल हुए। पैनल डिस्कशन के दौरान शौरी ने अपोजिशन को साथ आने वाला बयान दिया।

प्रोग्राम में केजरीवाल ने क्या कहा?

- दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगला चुनाव मोदी v/s पीपुल ऑफ इंडिया होगा।

- केजरीवाल ने इकोनॉमिक पॉलिसी के मुद्दे पर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि सरकार के फैसलों से आम आदमी की जिंदगी पटरी से उतर गई। उनके अंदर गुस्सा है और सरकार ने कोई कारगर कदम नहीं उठाए तो ये बढ़ता जाएगा।
- डिस्कशन के दौरान केजरीवाल और शौरी ने एक जज की संदिग्ध हालात में मौत को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला।

अरुण शौरी के साथ दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल। अरुण शौरी के साथ दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल।
X
अरुण शौरी अलट बिहारी वाजपेयी सरकार में विनिवेश मंत्री रह चुके हैं।अरुण शौरी अलट बिहारी वाजपेयी सरकार में विनिवेश मंत्री रह चुके हैं।
अरुण शौरी के साथ दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल।अरुण शौरी के साथ दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..