--Advertisement--

2G स्कैम: मेरी जीरो लॉस वाली बात सही साबित हुई, आरोप लगाने वाले माफी मांगे: कपिल सिब्बल

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा- कोर्ट के फैसले से साबित हो गया कि हमारी सरकार पर लगे आरोप झूठे थे।

Dainik Bhaskar

Dec 21, 2017, 11:33 AM IST
VIDEO: 2010 में कैग की रिपोर्ट सामने आ VIDEO: 2010 में कैग की रिपोर्ट सामने आ

नई दिल्ली. 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में सभी आरोपियों के बरी किए जाने के बाद पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा है कि मेरे खिलाफ जो प्रोपेगैंडा फैलाया गया था आज उसका जवाब मिला है। उधर, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि कांग्रेस कोर्ट के फैसले को प्रशस्ति पत्र (citation) न समझे। कोर्ट के फैसले पर जांच एजेंसी गौर करेगी। सही तरीके से स्पेक्ट्रम अलॉटमेंट होता तो सरकार को ज्यादा फायदा होता। नियम बदलकर पहले आओ, पहले पाओ पॉलिसी अपनाई गई। हमने नीलामी की तो ज्यादा पैसा मिला।


2जी स्पेक्ट्रम घोटाला: आरोपी बरी तो भड़के लोग - सभी नेता धुले हुए असली मुजरिम आम जनता

SC ने भी इसे गलत ठहराया था: जेटली

- कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस की ओर से हो रही बयानबाजी पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा, "इस फैसले पर कांग्रेस इस तरह बयानबाजी कर रही है जैसे उसे कोई सम्मान पत्र मिल गया है। पूरा वायया देखा जाए तो बिना नीलामी के स्पेक्ट्रम कुछ लोगों को दिया गया। पहले आओ पहले पाओ की पॉलिसी को भी बदलकर पहले पेमेंट करो, पहले पाओ कर दिया गया था। यह पूरी तरह भ्रष्ट पॉलिसी थी। 2012 में सुप्रीम कोर्ट ने भी यही कहा। बाद में हमने स्पेक्ट्रम को नीलाम किया। नतीजा यह हुआ कि जिस स्पेक्ट्रम पर पहले 1734 करोड़ मिल रहे थे 2015 में 1.10 लाख करोड़ रुपए मिले।"

मेरी बात सच साबित हुई: सिब्बल

- कपिल सिब्बल ने कहा, "मेरी जीरो लॉस वाली बात सही साबित हुई। हम बेबुनियाद बातें नहीं करते। तब विपक्ष ने देश को गलत जानकारी दी। काफी हंगामा किया। विपक्ष और विनोद राय (आरोप लगाने वाले पूर्व CAG) को देश से माफी मांगनी चाहिए।''

- "कोई करप्शन नहीं, कोई लॉस नहीं। अगर स्कैम है तो झूठ का स्कैम है। "

साबित हुआ कि आरोप झूठे थे: चिदंबरम

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि "कोर्ट के फैसले से साबित हो गया कि हमारी सरकार पर जो घोटाले के आरोप लगाए गए थे वो झूठे थे।''

बेकसूरों को गलत बताया जा रहा था: थरूर

कांग्रेस के सीनियर लीडर और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने कहा, "साफतौर पर कोर्ट ने पाया कि बेकसूरों लोगों को गलत बताया जा रहा था। जस्टिस ने अपना काम किया, जैसा हमारे देश में उम्मीद की जाती है।"

'आरोप साबित करने में नाकाम रहा CBI'
स्वान टेलीकॉम के वकील विजय अग्रवाल ने कहा, "प्रॉसिक्यूशन आरोप साबित करने में नाकाम रहा। सीबीआई ने तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश किया था। लॉस दिखाया गया था, लेकिन असल में कोई नुकसान हुआ ही नहीं। लिहाजा सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया।"

'क्रिमिनल कोर्ट से अप्रोच लायक केस नहीं'
- राजा के वकील मनु शर्मा ने कहा, "किसी भी बड़े मुकदमे में वक्त लगता है लेकिन सच्चाई सामने आ गई।''
- "मुकदमा चला तो कोई एविडेंस नहीं दिया गया। क्रिमिनल कोर्ट की अप्रोच के हिसाब से ये मुकदमा नहीं बनता।''

साजिश थी, जो अब खत्म हो गई: दुरई मुरुगन
- डीएमके नेता दुरई मुरुगन ने कहा कि ये केस हम पर राजनीतिक हितों की वजह से लगाया गया था। हमारे खिलाफ साजिश की गई थी, जो अब खत्म हो गया है।

X
VIDEO: 2010 में कैग की रिपोर्ट सामने आVIDEO: 2010 में कैग की रिपोर्ट सामने आ
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..