• Home
  • National
  • After bawana Fire BJP mayor Preeti Aggarwal Remark Goes Viral
--Advertisement--

दिल्ली की फैक्ट्री में 17 लोग जिंदा जले; BJP मेयर बोलीं- लाइसेंसिंग हमारे पास है, कुछ नहीं बोल सकते

नॉर्थ-वेस्ट दिल्ली के बवाना इंडस्ट्रियल एरिया की पटाखा फैक्ट्री में शनिवार रात लगी आग में 17 लोग जिंदा जल गए।

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 04:10 PM IST
प्रीति अग्रवाल नॉर्थ एमसीडी की मेयर हैं। शनिवार को आग हादसे के बाद बवाना गई थीं। प्रीति अग्रवाल नॉर्थ एमसीडी की मेयर हैं। शनिवार को आग हादसे के बाद बवाना गई थीं।

नई दिल्ली. बवाना इंडस्ट्रियल एरिया की पटाखा फैक्ट्री में शनिवार रात 17 लोगों के जिंदा जलने के बाद बीजेपी और आप के बीच जमकर राजनीति हुई। एमसीडी (नॉर्थ) की मेयर और बीजेपी नेता प्रीति अग्रवाल (42) हादसे के बाद मौके पर पहुंचीं। उन्होंने घटना पर गुस्सा जताते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गैर-मौजूदगी पर सवाल भी उठाए। लेकिन इसके कुछ ही घंटे बाद मेयर का वीडियो वायरल हो गया। जिसमें वो अपने करीबी से कहती दिखीं, ''इस फैक्ट्री की लाइसेंसिंग हमारे पास है, इसलिए हम कुछ नहीं बोल सकते।'' इस दौरान कुछ रिपोर्टर मेयर की बाइट के लिए सामने खड़े थे। उधर, बीजेपी ने मेयर का बचाव करते हुए वीडियो को फेक बताया।

केजरीवाल ने रीट्वीट किया मेयर का वीडियो

- आम आदमी पार्टी ने बिना देरी किए वीडियो को ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया और मुख्यमंत्री केजरीवाल पर हमला बोल रहीं मेयर प्रीति अग्रवाल और बीजेपी पर पलटवार किया। केजरी ने भी इसे रीट्वीट किया।
- रात को बवाना पहुंचे केजरीवाल ने कहा, ''ये बहुत दर्दनाक हादसा है। सरकार ने इसकी पूरी जांच के आर्डर दिए हैं। इसमें पता चलेगा कि कैसे फैक्ट्री को लाइसेंस मिला, किन लोगों ने इसकी परमिशन दी और आखिर हादसा कैसे हुआ?''
- इसके साथ ही सीएम केजरीवाल हादसे में जख्मी लोगों से मिले। सरकार ने मरने वालों के परिजनों को 5-5 लाख और घायलों को 1-1 लाख रुपए की मदद देने का एलान किया। (पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें...)

मेयर ने सफाई में क्या कहा?

- मेयर प्रीति अग्रवाल ने रविवार को वीडियो पर सफाई देते हुए कहा, ''मेरा एक वीडियो वायरल कर दिया गया, जिसे मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी रीट्वीट किया। उस वक्त में मौके पर पहुंचकर अपने साथियों से जानकारी ले रही थी। मेरे कहने का मतलब था कि इस वक्त हमें दुर्भाग्यपूर्ण हादसे पर कुछ नहीं बोलना चाहिए।''
- ''वीडियो को गलत तरीके से पेश करने और वायरल किए जाने पर केजरीवाल माफी मांगें। क्या एक फेक वीडियो को इस तरह से वायरल कर वह जनता को गुमराह करना चाहते हैं? मैं इसकी निंदा करती हूं।''

BJP ने मेयर का बचाव किया

- दिल्ली बीजेपी के चीफ मनोज तिवारी ने कहा कि प्रीति अग्रवाल अफसरों से सिर्फ ये पूछ रही थीं कि फैक्ट्री किसके अंडर में आती है। हालांकि, बातचीत साफ नहीं हैं, सिर्फ 'ये फैक्ट्री' ही साफ सुनाई दे रहा है। बीजेपी पर निशाना साधने और आरोप लगाने के लिए कुछ लोग फेक वीडियो को वायरल कर रहे हैं।

फैक्ट्रियों को MCD देती है लाइसेंस

- बता दें कि बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में लाइसेंस नॉर्थ एमसीडी से दिया जाता है। पुलिस के मुताबिक, जिस फैक्ट्री में हादसा हुआ, वह कुछ दिन पहले ही शुरू की गई थी। यहां ग्राउंड फ्लोर पर प्लास्टिक के खिलौने और फर्स्ट फ्लोर पर पटाखे बनाए जाते थे। सबसे ऊपरी फ्लोर पर कुछ लोग रहते भी थे।
- डीसीपी रोहिणी, रजनीश गुप्ता ने बताया कि फैक्ट्री के मालिक मनोज जैन को गैर-इरादतन हत्या और लापरवाही के मामले में गिरफ्तार किया है। इसकी भी जांच की जा रही है कि क्या उन्होंने पटाखे बनाने का लाइसेंस लिया था?

ये भी पढ़ें:

दिल्ली में हादसा: तीन तरफ से बंद है पटाखा फैक्ट्री, मेन गेट पर आग लगने से भाग नहीं पाए लोग

दिल्ली हादसा : सभी मरने वाले एक ही गली के, जो बचकर आया उसने सुनाई पूरी कहानी

Video: बवाना हादसे के बाद नॉर्थ MCD मेयर का वीडियो वायरल हुआ... Video: बवाना हादसे के बाद नॉर्थ MCD मेयर का वीडियो वायरल हुआ...
दिल्ली के बवाना की पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से 17 लोग जिंदा जल गए थे। दिल्ली के बवाना की पटाखा फैक्ट्री में आग लगने से 17 लोग जिंदा जल गए थे।
सीएम अरविंद केजरीवाल शनिवार रात को जख्मी लोगों से मिले। सीएम अरविंद केजरीवाल शनिवार रात को जख्मी लोगों से मिले।
दिल्ली पुलिस ने पटाखा फैक्ट्री के मालिक मनोज जैन को गिरफ्तार किया। दिल्ली पुलिस ने पटाखा फैक्ट्री के मालिक मनोज जैन को गिरफ्तार किया।
बताया जा रहा है कि बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में फैक्ट्रियों को नॉर्थ एमसीडी से लाइसेंस दिया जाता है। बताया जा रहा है कि बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में फैक्ट्रियों को नॉर्थ एमसीडी से लाइसेंस दिया जाता है।