--Advertisement--

त्रिपुरा में जीत के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे मोदी, अमित शाह पार्टी दफ्तर पहुंचे

नॉर्थ-ईस्ट के तीन राज्यों में विधानसभा चुनाव के नतीजे शनिवार को घोषित किए गए।

Dainik Bhaskar

Mar 03, 2018, 03:35 PM IST
त्रिपुरा की जीत पर प्रधानमंत्री ने जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है। त्रिपुरा की जीत पर प्रधानमंत्री ने जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है।

नई दिल्ली. त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में बीजेपी की जीत के बाद पार्टी दफ्तर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत किया गया। उन्होंने शनिवार शाम को जैसे ही भाषण शुरू किया, अजान सुनाई दी और वह 2 मिनट के लिए रुक गए। इसके बाद उन्होंने राजनीतिक हिंसा में मारे गए बीजेपी कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि दी। मोदी ने कहा कि लेफ्ट की चोटों का जनता ने वोट से जवाब दिया है। राहुल गांधी पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ''देश में एक पार्टी ऐसी भी है कि जहां लोगों का पद तो बढ़ता है पर कद घटता जाता है।'' बता दें कि त्रिपुरा में बीजेपी ने सबसे बड़ा उलटफेर करते हुए 25 साल से सत्ता में काबिज लेफ्ट को बाहर का रास्ता दिखाया। नगालैंड में भी बीजेपी की सरकार बना सकती है, जबकि मेघायल में फिलहाल स्थिति साफ नहीं है।

नरेंद्र मोदी के भाषण की 8 अहम बातें...

1. त्रिपुरा की जनता को भी हमारे कार्यकर्ता खाेने का दुख

- पीएम मोदी ने पार्टी हेडक्वार्टर में कार्यकार्ताओं के बीच कहा, ''बीजेपी के अनेक कार्यकर्ताओं ने शहादत दी है, राजनीतिक विचारधारा के कारण हमारे निर्दोष कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारा गया। भय और भ्रम इन दो हथियारों से, खासकर लेफ्ट पार्टियों ने जो जुल्म किया। आज लोकतंत्र की ताकत है कि गरीब से गरीब जनता ने भी इस चोट का जवाब वोट से दिया है। त्रिपुरा की जनता को भी हमारे कार्यकर्ताओं को खोने का दुख था। मैं आप सबसे अनुरोध करता हूं कि हम दो मिनट के लिए बीजेपी के उन शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे।''

2. पार्टियों को हार पचाना सीखना चाहिए

- "साथियों, लोकतंत्र में जय और पराजय स्वाभाविक है, लेकिन पार्टियों को पराजय को पचाना चाहिए। जो लोकतंत्र के बारे में बड़ी-बड़ी बातें करते हैं, वो लेफ्ट पार्टियां इसे पचा नहीं पा रही हैं। सबसे पहले नॉर्थ-ईस्ट के लोगों को धन्यवाद देना चाहता हूं, क्योंकि दुष्प्रचार के बीच भी दूर-सुदूर गांवों में बीजेपी की सच्चाई लोगों तक पहुंच पाई है। उनके लिए पुराना छोड़ना और नया अपनाना काफी मुश्किल होता है। मैं समझ सकता हूं कि उन्होंने कितने दुख सहे होंगे।''

3. वास्तुशास्त्र में नॉर्थ-ईस्ट का कोना सबसे अहम

- पीएम मोदी ने कहा, ''अब मैं जो बात कहूंगा, हो सकता है कि वो कुछ लोगों के काम आ जाए। वास्तुशास्त्र वाले मानते हैं कि नॉर्थ-ईस्ट को कोना सबसे अहम होता है। मतबल एक बार ये कोना ठीक हो गया तो पूरी इमारत सही बनती है।''

4. सही बात से चुनाव और दिल जीते जा सकते हैं

- ''देश के राजनीतिक विशलेषकों को देखना होगा कि लोकतंत्र में नेताओं का दायित्व बनता है कि मतदाताओं को समझाएं। लेकिन यहां जाति, बम-बंदूक की राजनीति चली। मैं चाहता हूं कि राजनीतिक विचारक देखें कि सही बात बताकर चुनाव और लोगों के दिलों को जीता जा सकता है। इसे बीजेपी कार्यकर्ताओं ने करके दिखाया। ये टीवी पर चलता है कि जो मीडिया में आए, बढ़िया चेहरा हो और बड़ा नाम तभी कोई नेता होता है। लेकिन यहां हमारा कोई बड़ा नेता नहीं है।''

5. त्रिपुरा में सबसे कम उम्र के BJP विधायक

- ''देश की विधानसभाओं का आंकड़ा देखा जाए तो त्रिपुरा में बीजेपी के चुने हुए विधायक सबसे छोटी उम्र के हैं। हमें चुनाव से पहले उनके नॉमिनेशन तक देखने पड़े, क्योंकि डर था कि कहीं 25 के नहीं होने पर पर्चा रद्द ना हो जाए। इतने छोटे-छोटे कैंडिडेट्स पर जनता ने भरोसा जताया है।''

6. नॉर्थ-ईस्ट के युवाओं के लिए अब दिल्ली दूर नहीं

- ''जब में 2014 में पीएम बना तो दिल्ली में नॉर्थ-ईस्ट के युवाओं पर हो रहे थे। हमने इन्हें रोकने के लिए मुहिम शुरू की। उनके अंदर भरोसा जगाया कि दिल्ली में उनके लिए सोचने वाली सरकार है। अब उनके लिए दिल्ली दूर नहीं है। आज डोनर मंत्रालय का पूरा सेक्रेटरिएट हर राज्य में जाता है और उनके साथ काम करता है। हमारा कोई ना कोई मंत्री हर 15 दिन में नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में एक दिन बिताता है। हमने लोगों के अंदर उपेक्षा का भाव खत्म किया।''

7. 6 महीने में 24 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या

- ''राजनीतिक कारणों से पिछले 6 महीने में उन्होंने हमारे 24 कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई। उनमें लोकतांत्रिक तरीके से लड़ने की ताकत नहीं है। अगर हम कोई कदम उठाते हैं तो कहते हैं कि वेंडेटा, वेंडेटा... अरे ये कोई वेंडेटा नहीं, ये तो मेंडेटा है।''

8. कांग्रेस में लोगों के पद बढ़े, पार्टी का कद छोटा हुआ
- "देश में एक दल ऐसा भी है जहां लोग पद में बढ़ते जाते हैं पर कद में घटते जाते हैं। आज कांग्रेस का कद सबसे छोटा हो गया है। पिछले दिनों मैंने पुड्डुचेरी में रैली की। वहां के मुख्यमंत्री नारायणसामी को सबके सामने बधाई दी। कहा कि आप बड़े सौभाग्यशाली हैं, जून के बाद आप कांग्रेस के इकलौते स्पेसीमैन बन जाओगे। कांग्रेस आपको कंधे पर लेकर नाचेगी कि कभी हमारे भी सीएम थे और हम सत्ता में रहे हैं। कांग्रेस आगे कर्नाटक से भी खत्म हो जाएगी। लेकिन बीजेपी को सतर्क रहना होगा कि कहीं हमारे बीच भी कांग्रेस का कल्चर ना घुस जाए।''

# अमित शाह ने कहा- लेफ्ट अब किसी राज्य में राइट नहीं

- इससे पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में शाह ने कहा, ''अब साफ हो चुका है कि लेफ्ट किसी राज्य के लिए राइट नहीं है। मैं बीजेपी की ओर से तीनों राज्यों (त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड) की जनता को बधाई देता हूं। उन्होंने मोदी जी की नीतियों पर मुहर लगाई है। कम्युनिस्ट हिंसा में शहीद कार्यकर्ताओं को श्रद्धांजलि देता हूं।''

- उन्होंने कहा, ''गुजरात, हिमाचल और त्रिपुरा में बीजेपी को 49% या उससे ज्यादा वोट मिला है। त्रिपुरा आदिवासी बाहुल्य इलाका है। इनके लिए आरक्षित सभी 20 सीटों पर बीजेपी को जीत मिली है। यहां के भाइयों-बहनों के लिए काम करेंगे। हम साफ करना चाहते हैं कि भले ही पूर्ण बहुमत मिला हो, हम दूसरी पार्टियों के साथ मिलकर काम करेंगे।''

पश्चिम बंगाल के बाद त्रिपुरा से भी लेफ्ट की रवानगी

- शाह ने कहा, ''एक जमाना था, जब लोग कहते थे कि बीजेपी हिंदी बेल्ट की पार्टी है। लेकिन आज नार्थ-ईस्ट में भी हम सरकार बना रहे हैं। आगे कर्नाटक में चुनाव होने हैं। त्रिपुरा में कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला है, कई कैंडिडेट्स की जमानत जब्त हुई है। लेफ्ट पश्चिम बंगाल के बाद अब त्रिपुरा से वो जा चुकी है। मेघालय में कांग्रेस को बहुमत नहीं मिला।''

- ''त्रिपुरा और नगालैंड के साथ अब देश के 21 राज्यों में बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की सरकार बनेगी। नार्थ-ईस्ट से लेकर साउथ और केरल में भी हमें जीत मिली। त्रिपुरा के हर बूथ पर बीजेपी कार्यकर्ता तैनात था। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने हमारी विचारधारा को फैलाने के लिए काफी संघर्ष किया।''

- ''आगे बंगाल, केरल और ओडिशा में भी हमारी सरकार बनेगी। कर्नाटक को तो हम जीतेंगे ही। हम असम और मणिपुर में जीते हैं, लेकिन आज जिस तरह से तीनों राज्यों में जीत मिली है, वो महत्वपूर्ण है। मिजोरम में अभी चुनाव होने हैं। भरोसा है कि वहां भी एनडीए की सरकार बनेगी।''

मोदी ने अजान की वजह से दो मिनट अपना भाषण दोक दिया। मोदी ने अजान की वजह से दो मिनट अपना भाषण दोक दिया।
मोदी का पार्टी दफ्तर में अमित शाह ने स्वागत किया। मोदी का पार्टी दफ्तर में अमित शाह ने स्वागत किया।
शाह ने कहा- आगे बंगाल, केरल और ओडिशा में भी हमारी सरकार बनेगी। कर्नाटक को तो हम जीतेंगे ही। शाह ने कहा- आगे बंगाल, केरल और ओडिशा में भी हमारी सरकार बनेगी। कर्नाटक को तो हम जीतेंगे ही।
X
त्रिपुरा की जीत पर प्रधानमंत्री ने जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है।त्रिपुरा की जीत पर प्रधानमंत्री ने जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है।
मोदी ने अजान की वजह से दो मिनट अपना भाषण दोक दिया।मोदी ने अजान की वजह से दो मिनट अपना भाषण दोक दिया।
मोदी का पार्टी दफ्तर में अमित शाह ने स्वागत किया।मोदी का पार्टी दफ्तर में अमित शाह ने स्वागत किया।
शाह ने कहा- आगे बंगाल, केरल और ओडिशा में भी हमारी सरकार बनेगी। कर्नाटक को तो हम जीतेंगे ही।शाह ने कहा- आगे बंगाल, केरल और ओडिशा में भी हमारी सरकार बनेगी। कर्नाटक को तो हम जीतेंगे ही।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..