Hindi News »National »Latest News »National» AIMIM Asaduddin Owaisi Triple Talaq Save Sharia Law

ट्रिपल तलाक बिल मुस्लिमों के खिलाफ साजिश, कानून से नहीं रुकेंगे महिलाओं के खिलाफ अपराध: ओवैसी

ओवैसी पहले भी ट्रिपल तलाक को बैन करने वाले केंद्र सरकार के बिल का विरोध कर चुके हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 27, 2018, 05:27 PM IST

  • ट्रिपल तलाक बिल मुस्लिमों के खिलाफ साजिश, कानून से नहीं रुकेंगे महिलाओं के खिलाफ अपराध: ओवैसी, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    एक रैली में ओवैसी ने ये भी कहा कि कानून बनाकर महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध नहीं रोके जा सकते।- फाइल

    हैदराबाद.ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रेसिडेंट और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्रिपल तलाक को बैन करने वाले बिल को मुस्लिमों के खिलाफ साजिश बताया है। ओवैसी ने ये भी कहा कि कानून बनाकर महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध नहीं रोके जा सकते। उन्होंने कहा कि क्या दहेज प्रथा को गैरकानूनी करार देने से दहेज के मामले कम हो गए। बता दें कि ओवैसी पहले भी ट्रिपल तलाक को बैन करने वाले केंद्र सरकार के बिल का विरोध कर चुके हैं।


    शरिया को बचाने की अपील

    - हैदराबाद में शुक्रवार रात एक प्रोग्राम के दौरान ओवैसी ने कहा कि ट्रिपल तलाक बिल के जरिए मुस्लिम पुरुषों को जेल भेजने की साजिश की जा रही है। वास्तव में ये बिल मुस्लिमों के खिलाफ ही साजिश दिखता है।
    - ओवैसी ने कहा- क्या ट्रिपल तलाक पर कानून लाने से ये बंद हो जाएगा? AIMIM की तरफ से जारी एक स्टेटमेंट में तहफ्फुज-ए-शरिया (शरिया या इस्लामिक कानून) की अपील की गई।

    दहेज प्रथा भी तो नहीं रुकी

    - ओवैसी ने कहा- दहेज प्रथा के खिलाफ सख्त कानून बनाया गया। लेकिन, क्या इसके बनने से दहेज के मामले कम हो गए?
    - उन्होंने आगे कहा- 2005 से 2015 के बीच दहेज की वजह से देश में 80 हजार महिलाओं की मौत हुई। दहेज की वजह से ही हर रोज 22 महिलाओं की मौत होती है। निर्भया कांड के बाद भी भारत में रेप के मामले तेजी से बढ़े।
    - ओवैसी ने कहा- मैं कहना ये चाहता हूं कि कानून से इस तरह के मामलों को खत्म नहीं किया जा सकता।

    साजिश है ये बिल

    - ओवैसी ने कहा- ट्रिपल तलाक बिल वास्तव में मुस्लिमों के खिलाफ एक साजिश है। यह मुस्लिम महिलाओं को सड़कों पर लाने और पुरुषों को जेल भेजे जाने की नापाक साजिश है।
    - ओवैसी ने आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार ने इस बिल को संसद में लाने के पहले मुस्लिम समाज और धर्मगुरुओं से सलाह-मश्विरा नहीं किया।
    - बता दें कि ट्रिपल तलाक बिल को लोकसभा पास कर चुकी है लेकिन राज्यसभा में सरकार के पास बहुमत ना होने की वजह से यह बिल अटका हुआ है।

  • ट्रिपल तलाक बिल मुस्लिमों के खिलाफ साजिश, कानून से नहीं रुकेंगे महिलाओं के खिलाफ अपराध: ओवैसी, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    ओवैसी ने कहा- क्या ट्रिपल तलाक पर कानून लाने से ये बंद हो जाएगा? AIMIM की तरफ से जारी एक स्टेटमेंट में तहफ्फुज-ए-शरिया (शरिया या इस्लामिक कानून) की अपील की गई। - फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए India News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: AIMIM Asaduddin Owaisi Triple Talaq Save Sharia Law
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×