--Advertisement--

कर्नाटक: शाह के बाद अब ट्रांसलेटर की जुबान फिसली, कहा- मोदी सरकार ने गरीबों के लिए कुछ नहीं किया

अमित शाह ने मंगलवार को अनजाने में बीजेपी की येदियुरप्पा सरकार को सबसे भ्रष्ट करार दे दिया था।

Danik Bhaskar | Mar 29, 2018, 06:41 PM IST
अमित शाह ने सिद्धारमैया की जगह अमित शाह ने सिद्धारमैया की जगह

बेंगलुरु. कर्नाटक विधानसभा चुनाव प्रचार में अमित शाह मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को आड़े हाथों ले रहे हैं, लेकिन कभी-कभी उनके दांव उल्टे भी पड़ जाते हैं। दरअसल, भाजपा अध्यक्ष ने एक सभा में राज्य की कांग्रेस सरकार को गरीब और दलित विरोधी बताया। पर उनके ट्रांसलेटर ने इसे गलती से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नाकामी बता दिया। इससे पहले मंगलवार को भी शाह ने अनजाने में भाजपा की येदियुरप्पा सरकार को सबसे भ्रष्ट करार दे दिया था। अब कांग्रेस नेता शाह और उनके ट्रांसलेटर की गलतियों को वायरल करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। बता दें कि कर्नाटक विधानसभा की 224 सीटों के लिए 12 मई को मतदान होगा, नतीजे 15 मई को आएंगे।

1) शाह के बाद उनके ट्रांसलेटर की जुबान फिसली

- 'द न्यूज मिनट' वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, अमित शाह के भाषण को पार्टी के सांसद प्रह्लाद जोशी हिंदी से कन्नड़ में ट्रांसलेट कर रहे थे ताकि लोग आसानी से इसे अपनी भाषा में समझ सकें।

- इसी दौरान जोशी ने गलती से कह दिया- 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीब, दलित और पिछड़ों के लिए कुछ भी नहीं करेंगे। वो देश को बर्बाद कर देंगे, इसलिए आप उन्हें वोट दीजिए।'


2) शाह ने येदियुरप्पा सरकार को बता दिया था भ्रष्ट
- 27 मार्च को अमित शाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा- 'अगर भ्रष्टाचार के मामले में मुकाबला कराया जाए तो येदियुरप्पा सरकार पहले स्थान पर होगी।'

- शाह जब बयान दे रहे थे, तब येदियुरप्पा करीब ही बैठे थे। उनके बयान से येदियुरप्पा असहज हो गए। हालांकि, उनके साथ बैठे सांसद प्रह्लाद जोशी ने गलती का अहसास कराया। बाद में भाजपा अध्यक्ष ने बोले- 'अरे, मेरे कहने का मतलब है कि सिद्धारमैया सरकार को सबसे भ्रष्ट का अवॉर्ड मिलेगा।' (वीडियो देखने के लिए क्लिक करें...)

3) राहुल ने इसे अमित शाह का तोहफा बताया

- राहुल गांधी ने कुछ दिन पहले शाह का वीडियो पोस्ट कर ट्वीट किया, ‘"भाजपा आईटी सेल के चुनाव की तारीख घोषित करने के बाद अब वक्त हमारे टॉप सीक्रेट कैंपेन के वीडियो को देखने का है। भाजपा अध्यक्ष ने यह तोहफा दिया है, जिसके साथ कर्नाटक में हमारे कैंपेन की शानदार शुरुआत हुई है। उन्होंने कहा है कि येदियुरप्पा सरकार सबसे भ्रष्ट थी... सच भी है।''
- सीएम सिद्धारमैया ने ट्वीट किया, "झूठ के शाह ने आखिर सच बोल ही दिया। धन्यवाद अमित शाह।''
- कांग्रेस सोशल मीडिया प्रभारी दिव्य स्पंदना ने ट्विटर पर अमित शाह के दो वीडियो पोस्ट किए। लिखा, "किसे पता था कि अमित शाह भी सच बोल सकते हैं। अमितजी हम सब आपसे सहमत हैं। येदियुरप्पा सरकार सबसे भ्रष्ट थी।"
- कर्नाटक कांग्रेस ने ट्वीट किया, "सच को कभी दबाया नहीं जा सकता। अमित शाह तक इस बात पर राजी हो गए हैं कि येदियुरप्पा सरकार सबसे भ्रष्ट थी।''

4) अमित शाह पिछले साल भी कर चुके हैं ऐसी गलती

- पिछले साल अगस्त में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान शाह ने कहा था, "येदियुरप्पा जी कहते हैं कि कर्नाटक के विकास के लिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार मदद नहीं करती।''
- इस बयान पर पार्टी के नेताओं ने शाह को टोका। अपनी गलती का एहसास होते ही शाह ने सफाई दी। उन्होंने कहा, ‘"अरे सॉरी-सॉरी। सिद्धारमैया जी कहते हैं... एक्सट्रीमली सॉरी। दो दिनों से येदियुरप्पा जी के साथ हूं, इसीलिए ऐसा हो गया।''

5) कर्नाटक दौरे पर हैं शाह

- अमित शाह इन दिनों कर्नाटक दौरे पर हैं। वे मठों के जरिए लिंगायत धर्मगुरुओं की राय जानने की कोशिश लगे हैं। यहां अभी कांग्रेस की सरकार है।

- मौजूदा सीएम सिद्धारमैया का मुकाबला दो बार सीएम रहे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा से है।