• Home
  • National
  • baba virendra dixit allegedly molested womens in ashram
--Advertisement--

बाबा वीरेंद्र ने आध्यात्म के बहाने आश्रम बुलाया, रेप के बाद जान से मारने की धमकी दी: FIR में आरोप

आरोप है कि बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित अपने आध्यात्मिक विश्वविद्यालयों में नाबालिग लड़कियों और महिलाओं का रेप करता था।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 10:17 AM IST
बाबा वीरेंद्र का आश्रम दिल्ली के रोहिणी इलाके में है। (फाइल) बाबा वीरेंद्र का आश्रम दिल्ली के रोहिणी इलाके में है। (फाइल)

नई दिल्ली. बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के आश्रम के बारे में अब जुड़े लगातार चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। आरोप है कि बाबा अध्यात्म का ज्ञान देने का झांसा देकर नाबालिग लड़कियों और महिलाओं को आश्रम में लेकर आता था। फिर यहां उनके साथ सेक्शुअल रिलेशन बनाता था। पुलिस को दी गईं शिकायतों के मुताबिक, हैरेसमेंट के बाद वीरेंद्र देव विक्टिम्स और उनकी फैमिली को मारने और लड़कियों को जीबी रोड पर भेजने की धमकी देता था। इस वजह से ज्यादातर लड़कियां आवाज नहीं उठा पाती थीं। बता दें कि दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई और पुलिस की टीमें दिल्ली, राजस्थान, यूपी समेत देशभर में वीरेंद्र देव के आश्रमों पर छापेमारी कर रही हैं। अब तक 125 से ज्यादा लड़कियां-महिलाएं छुड़ाई जा चुकी हैं।

बाबा की बर्बरता की कहानियां, जो एफआईआर में दर्ज हैं

केस- 1

बाबा ने महिला से रेप किया, शिकायत करने पर बेटियों को कोठे पर भेजने की धमकी दी

- 19 जनवरी, 2017 को थाना विजय विहार में महाराजगंज (यूपी) की महिला ने कम्प्लेन दर्ज कराई थी - ''वीरेंद्र देव दीक्षित और उनके साथियों ने मेरी चार बेटियों को आश्रम बंधक बनाकर रखा हुआ है। 5, 18 और 25 सितंबर 2010 को बाबा उसे और बेटियों को आश्रम लेकर आया था।''

- ''इसके बाद अप्रैल, 2015 में आश्रम की सीनियर बहन ने बाबा वीरेंद्र के साथ मुझे संबंध बनाने के लिए फोर्स किया। बाबा ने कई बार सेक्शुअल रिलेशन बनाए। इनकार करने पर वह धमकी देता था कि अगर किसी को बताया तो जान से मरवा दूंगा और बेटियों को जीबी रोड कोठे पर भिजवा दूंगा।''

केस -2

कमरे में बुलाकर रेप किया, फिर विरोध करने पर परिवार को जान से मारने की धमकी दी

- 12 नवंबर, 2017 को शकूरपुर के एक शख्स ने विजय विहार थाने में शिकायत दी थी। उसने बताया, ''मेरी बेटी 1999 में विजय विहार में बने वीरेंद्र देव दीक्षित के आध्यात्मिक विश्वविद्यालय से जुड़ी थी। तब बाबा ने बताया था कि आश्रम में अध्यात्म का ज्ञान दिया जाता है और इससे परम परमेश्वर की प्राप्ति होती है। इसके बाद बेटी लगातार आश्रम जाने लगी।''

- ''जून, 2000 में एक रात बाबा ने कमरे में बुलाकर उसके साथ रेप किया। विरोध करने पर धमकी दी कि छोटी बहन और माता-पिता को मरवा दूंगा। तुम्हें जीने लायक नहीं छोडूंगा, मेरी बहुत ऊंची पहुंच है। इस वजह से उसने किसी को अपने साथ हुई घटना के बारे में नहीं बताया।''

बाबा की करतूत विक्टम और रिश्तेदारों की जुबानी

केस -1

बेटी से मिलने आया तो 4 घंटे बैठाए रखा

- तेलंगाना के रहने वाले एक विक्टिम के पिता ने बताया, ''मेरी बेटी अमेरिका में पीएचडी कर रही थी। जुलाई, 2015 में अचानक उसका फोन आया कि वह दिल्ली के एक आश्रम में आ गई है। मैं उससे मिलने दिल्ली आया।''

- ''विजय विहार के स्पिरिचुअल यूनिवर्सिटी में उससे मिलने के लिए मुझे 4 घंटे तक बिठाए रखा गया। फिर मुझे अकेले ऊपर ले जाया गया, वहां मेरे सामने बेटी आई बिल्कुल बुत की तरह। न कोई इमोशन, न कोई बातचीत। मैंने पूछा तो उसने कहा कि वह यहां ठीक है, खुश है। इसके बाद मैं एक-दो बार और आया और मुझे चार-चार घंटे नीचे बिठाए रखा जाता।''

केस-2

मेरी 4 बेटियां बाबा के चंगुल में, ये कैदखाना है

- 4 विक्टम्स की मां पूनम (बदला नाम) ने बताया, ''मेरी तो चार बेटियां बाबा के चंगुल में हैं, उनमें एक नाबालिग है। यह कोई आश्रम नहीं कैदखाना है, जहां लड़कियों को ब्रेनवॉश करके रखा जाता है। उनसे कहा जाता है कि वे अगर खुद को बाबा को समर्पित कर देंगी तो उनको मोक्ष की प्राप्ति हो जाएगी।''

- ''लड़कियों को दूध में कोई ऐसी दवा दी जाती है कि उसे पीने के बाद कोई सुध-बुध नहीं रहती, शरीर में बेचैनी बढ़ जाती है। बाबा चार-चार घंटे लड़कियों से मालिश करवाता है। प्रसाद देने के नाम पर वह लड़कियों से गलत काम करता है। समझ नहीं आ रहा कि मैंने बेटियों को वहां कैसे भेज दिया।''

केस-3

जो लड़कियां यहां मर जाती थीं, उन्हें जला देते थे

- पूर्व सेविका रेणु बाला (बदला नाम) ने बताया, ''पहले इस आश्रम का नाम आध्यात्मिक स्पिरिचुअल यूनिवर्सिटी था और यह माउंट आबू के ब्रह्मकुमारी से जुड़ा था, लेकिन बाद में दीक्षित बाबा उससे अलग हो गया।''

- ''बाबा की मदद के लिए यहां इसकी भरोसेमंद शिष्याओं की एक टीम है, चार चेले भी हैं। ये बाबा के इशारे पर उसकी बात न मानने वाली लड़कियों को न सिर्फ मारते-पीटते थे, बल्कि उनके साथ गंदा काम करते थे। जो लड़कियां आश्रम में मर जाती थीं, उन्हें रात 12 बजे बाद कहीं ले जाकर जला दिया जाता था और फिर जमीन में दफना देते थे।''

ये भी पढ़ें...

बाबा वीरेंद्र देव के दो आश्रमों के बीच मिली सुरंग, लग्जरी गाड़ियों का काफिला भी

Video: बाबा वीरेंद्र देव के आश्रमों पर छापेमारी, सैकड़ों लड़कियां छुड़ाईं... Video: बाबा वीरेंद्र देव के आश्रमों पर छापेमारी, सैकड़ों लड़कियां छुड़ाईं...
बाबा के आश्रमों से अब तक 125 से ज्यादा लड़कियां-महिलाएं छुड़ाई जा चुकी हैं। (फाइल) बाबा के आश्रमों से अब तक 125 से ज्यादा लड़कियां-महिलाएं छुड़ाई जा चुकी हैं। (फाइल)
दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई और पुलिस की टीमें दिल्ली, राजस्थान, यूपी समेत देशभर में वीरेंद्र देव के आश्रमों पर छापेमारी कर रही हैं। (फाइल) दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई और पुलिस की टीमें दिल्ली, राजस्थान, यूपी समेत देशभर में वीरेंद्र देव के आश्रमों पर छापेमारी कर रही हैं। (फाइल)