--Advertisement--

BJP-RSS में भी आतंकी, कर्नाटक में सांप्रदायिकता फैलाने वालों को बर्दाश्त नहीं करेंगे: CM सिद्धारमैया

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बुधवार को बीजेपी-आरएसएस पर हमला बोला।

Dainik Bhaskar

Jan 10, 2018, 07:46 PM IST
अमित शाह ने परिवर्तन रैली में अमित शाह ने परिवर्तन रैली में

बेंगलुरु. कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बुधवार को बीजेपी प्रेसिडेंट अमित शाह के आरोपों पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बीजेपी, संघ परिवार और बजरंग दल में भी आतंकी हैं। इनके लोग आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देकर राज्य में सांप्रदायिकता फैला रहे हैं। इससे पहले शाह ने परिवर्तन रैली में कहा कि सिद्धारमैया वोट बैंक की राजनीति करते हैं और हिंदू विरोधी सरकार चला रहे हैं। उन्होंने देश विरोधी संगठन SDPI के खिलाफ दर्ज सभी केस वापस ले लिए। उधर, स्टेट बीजेपी ने सिद्धारमैया के दावों को बकवास करार दिया। पार्टी ने कहा कि सीएम ऐसे बयान देकर आने वाले चुनाव में ध्रुवीकरण करना चाहते हैं। बता दें कि कर्नाटक में कुछ महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं।

सिद्धारमैया ने बीजेपी-RSS पर लगाया आरोप

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सिद्धारमैया ने कहा, ''बीजेपी, आरएसएस और बरजंग दल में भी आतंकी हैं। इन संगठनों का रास्ता आतंकियों जैसा है। पॉप्यूलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI), सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI), बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद् (VHP) और अन्य संगठन भी आतंकी गतिविधियों को फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, उसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे।''
- जब उनसे पूछा गया कि क्या ऐसे संगठनों पर बैन लगाने के लिए केंद्र को रिपोर्ट भेजेंगे। सीएम ने कहा, ''ये लोग समाज के भाईचारे और सद्भाव को बिगाड़ने के लिए सांप्रदायिकता फैलाने में लगे हैं। अभी हमें इसके लिए दस्तावेज जुटाने होंगे।''

भूल गए क्या अब इंदिरा प्रधानमंत्री नहीं हैं: BJP

- इस पर कर्नाटक बीजेपी की तीखी प्रतिक्रिया सामने आई। पार्टी ने ट्विटर पर कहा, ''सीएम सिद्धारमैया और कांग्रेस बीजेपी-आरएसएस को आतंकी संगठन बताकर आने वाले विधानसभा चुनाव में सांप्रदायिक नजरिए से ध्रुवीकरण (Polarization) करना चाहते हैं।
- ''कर्नाटक के लोगों को जाति, धर्म, क्षेत्र और भाषा के तौर पर बांटने की सिद्धारमैया की कोशिश कामयाब नहीं होगी। वे भूल गए हैं कि एक राज्य के सीएम है। ऐसे बयान उन्हें शोभा नहीं देते हैं।''
- ''कांग्रेस नेता बीजेपी पर बैन लगाने की बात कहते हैं। क्या विरोधी पार्टी पर रोक लगाकर कांग्रेस सरकार तानाशाह बनना चाहती है। शायद वे (सिद्धारमैया) नहीं जानते हैं कि देश आज 1975 में नहीं है और न ही इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री हैं।''

अमित शाह ने परिवर्तन रैली में क्या कहा था?

- बीजेपी प्रेसिडेंट अमित शाह ने परिवर्तन रैली में कहा कि सिद्धरमैया वोट बैंक की राजनीति करते हैं। कर्नाटक में हिंदू विरोधी सरकार है। कांग्रेस सरकार ने देश विरोधी संगठन SDPI के खिलाफ दर्ज सभी केस वापस ले लिए। यही काम आपराधिक संगठन PFI के साथ भी हुआ है।
- सरकार ने मंदिरों के पुजारियों की सैलरी 4 महीने से अटका रखी है। भ्रष्टाचार चरम पर है। सरकार के रवैये से कर्नाटक के हर वर्ग के लोगों में गुस्सा है। कहना चाहता हूं कि अब उनकी सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है।

X
अमित शाह ने परिवर्तन रैली में अमित शाह ने परिवर्तन रैली में
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..