--Advertisement--

पीएनबी फ्रॉड: बैंक का रिटायर्ड इंटरनल चीफ आॅडिटर गिरफ्तार, 2011 से 2015 के बीच किया था ब्रैडी हाउस ब्रांच का ऑडिट

बुधवार को गिरफ्तार बैंक एक और इंटरनल चीफ आॅडिटर एमके शर्मा को कोर्ट ने 13 मार्च तक के लिए सीबीआई कस्टडी में भेज दिया है।

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 10:47 PM IST
पीएनबी में 12,672 करोड़ रुपए के घोटाले का खुलासा हुआ है। सीबीआई मामले की जांच कर रही है।  -फाइल पीएनबी में 12,672 करोड़ रुपए के घोटाले का खुलासा हुआ है। सीबीआई मामले की जांच कर रही है। -फाइल

नई दिल्ली. पीएनबी में 12,672 करोड़ रुपए के घोटाले में सीबीआई ने गुरुवार को बैंक के रिटायर्ड इंटरनल चीफ आॅडिटर बिष्णुवृत मिश्रा को गिरफ्तार किया। इससे पहले बुधवार को जांच एजेंसी ने पीएनबी के ही एक और इंटरनल चीफ आॅडिटर एमके शर्मा को गिरफ्तार किया था। गुरुवार को कोर्ट ने एमके शर्मा को 13 मार्च तक के लिए सीबीआई कस्टडी में भेजा दिया। वहीं, मुंबई के वडाला इलाके में छापेमारी कर सीबीआई ने एक कमरे से एलआेयू से जुड़े अहम दस्तावेज बरामद किए हैं। बता दें कि बैंक फ्रॉड के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी घोटाले के खुलासे से पहले देश से बाहर चले गए थे। मामले में अब तक सीबीआई 14 लोगों को अरेस्ट कर चुकी है।

केस में दूसरे ऑडिटर की गिरफ्तारी
- गुरुवार को गिरफ्तार रिडायर्ड इंटरनल चीफ आॅडिटर बिष्णुवृत मिश्रा के पास 2011 से 2015 के बीच ब्रैडी हाउस ब्रांच की ऑडिटिंग और सिस्टम से जुड़े कामों पर निगरानी रखने का काम था।
- वहीं, बुधवार को गिरफ्तार किए गए इंटरनल चीफ आॅडिटर एमके शर्मा के पास भी पीएनबी के ब्रैडी हाउस ब्रांच के ऑडिटिंग सिस्टम और उससे जुड़े कामों पर निगरानी की जिम्मेदारी थी।

अब तक क्या कार्रवाई हुई?
- पीएनबी घोटाले में ईडी ने देशभर में गीतांजली ज्वेलर्स के शोरूम में छापेमारी की। इस दौरान 22 करोड़ रुपए की ज्वेलरी जब्त हुई और कई हजार करोड़ की प्रॉपर्टी अटैच की गई।
- वहीं, नीरव मोदी से जुड़ी 6,393 करोड़ से ज्यादा की प्रॉपर्टी जब्त की जा चुकी है। नीरव और चौकसी के ठिकानों से जब्त हुई ज्वेलरी और प्रॉपर्टी का वैल्यूएशन कराया जा रहा है।
- ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन ने फ्रॉड के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के खिलाफ लुकआउट/ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया।
- मामले में 1 मार्च तक 14 लोगों को अरेस्ट किया गया। इनमें 7 बैंक अफसर और अन्य स्टाफ है।

क्या है पीएनबी घोटाला?
- पीएनबी ने पिछले दिनों सेबी और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को 11,421 करोड़ रुपए के घोटाले के जानकारी दी। घोटाला मुंबई की ब्रेडी हाउस ब्रांच में हुआ। 2011 से 2018 के बीच हजारों करोड़ की रकम 297 फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LoUs) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में ट्रांसफर की गई।
- पीएनबी ने हाल ही में सीबीआई को बैंक में 1,251 करोड़ के नए फ्रॉड की जानकारी दी। यह मेहुल चौकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स से जुड़ा है। इस तरह पीएनबी फ्रॉड 11,421 से बढ़कर 12,672 करोड़ हो गया है।

बैंक फ्रॉड के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी घोटाले के खुलासे से पहले देश से बाहर चले गए थे। -फाइल बैंक फ्रॉड के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी घोटाले के खुलासे से पहले देश से बाहर चले गए थे। -फाइल
X
पीएनबी में 12,672 करोड़ रुपए के घोटाले का खुलासा हुआ है। सीबीआई मामले की जांच कर रही है।  -फाइलपीएनबी में 12,672 करोड़ रुपए के घोटाले का खुलासा हुआ है। सीबीआई मामले की जांच कर रही है। -फाइल
बैंक फ्रॉड के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी घोटाले के खुलासे से पहले देश से बाहर चले गए थे। -फाइलबैंक फ्रॉड के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी घोटाले के खुलासे से पहले देश से बाहर चले गए थे। -फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..