देश

  • Home
  • National
  • Aarushi-Hemraj murder case: CBI moves Supreme Court challenging Allahabad High Court verdict acquitting Talwars
--Advertisement--

आरुषि-हेमराज मर्डर केस: तलवार दंपति के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची सीबीआई, इलाहाबाद कोर्ट की तरफ से हो चुके हैं बरी

9 साल पुरानी हाईप्रोफाइल मर्डर मिस्ट्री में आरोपी बनाए गए तलवार दंपती अक्टूबर में इलाहाबाद हाईकोर्ट से बरी हुए हैं।

Danik Bhaskar

Mar 08, 2018, 09:25 PM IST
सीबीआई की कोर्ट ने 2013 में राजेश और नूपुर तलवार को परिस्थितिजन्य सबूतों के आधार पर उम्र कैद की सजा सुनाई थी। (फाइल) सीबीआई की कोर्ट ने 2013 में राजेश और नूपुर तलवार को परिस्थितिजन्य सबूतों के आधार पर उम्र कैद की सजा सुनाई थी। (फाइल)

नई दिल्ली. आरुषि-हेमराज मर्डर केस में तलवार दंपती को बरी किए जाने के हाई कोर्ट के फैसले को सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। जांच एजेंसी ने गुरुवार को कोर्ट में याचिका लगाई।दरअसल, पिछले साल 12 अक्टूबर को इलाहाबाद हाई कोर्ट ने तलवार दंपती को इस मामले में सबूतों के अभाव में रिहा कर दिया था। इससे पहले, सीबीआई कोर्ट ने आरुषि के पैरेंट्स राजेश और नूपुर तलवार को 2013 में उम्रकैद की सजा सुनाई थी। रिहा होने तक उन्होंने 9 साल गाजियाबाद की डासना जेल में गुजारे थे।

क्या है मामला?
- मई 2008 में नोएडा के एक घर में आरुषि और उसके नौकर हेमराज की डेड बॉडी पाई गई थी। गाजियाबाद की स्पेशल सीबीआई कोर्ट इस मामले की सुनवाई की थी। एडिशनल सेशन जज श्यामलाल यादव ने डेंटिस्ट राजेश और नूपुर तलवार को परिस्थितिजन्य सबूतों के आधार पर दोषी माना था।
- जस्टिस यादव ने 28 नवंबर 2013 को तलवार दंपती को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। 12 अक्टूबर को हाईकोर्ट ने सीबीआई कोर्ट का फैसला पलटते हुए तलवार दंपती को बरी कर दिया।

कितने लोगों का मर्डर हुआ था?
- दो लोगों का मर्डर हुआ था। आरुषि और हेमराज का। हेमराज (45) की बॉडी आरुषि के मर्डर के एक दिन बाद तलवार दंपती की छत पर एक कूलर में मिली थी।

कितने लोग इस केस में सस्पेक्ट माने गए?
- इस केस में पहले कुल पांच लोगों को सस्पेक्ट माना गया।
1) कृष्णा थंडाराज: राजेश तलवार के नोएडा के क्लिनिक में काम करता था। वह हेमराज का दोस्त था। जलवायु विहार के आसपास ही रहता था।
2) राजकुमार: यह नेपाल से है। घर का काम देखता था। तलवार दंपती के दोस्त दुर्रानी के घर का काम भी संभालता था।
3) विजय मंडल: यह तलवार दंपती के पड़ोसी के घर में काम करता था।
4) खुद तलवार दंपती डॉ. राजेश और नूपुर तलवार।

कौन हैं तलवार दंपती?

- तलवार दंपती दिल्ली-एनसीआर के जाने माने डेंटिस्ट रहे हैं। डॉ. राजेश पंजाबी और नूपुर महाराष्ट्रियन परिवार से हैं। नुपुर एयरफोर्स के अफसर की बेटी हैं और डॉ. राजेश के पिता हार्ट स्पेशलिस्ट रहे हैं। आरुषि का जन्म 1994 में हुआ था।

12 अक्टूबर, 2017 को हाईकोर्ट ने सीबीआई कोर्ट का फैसला पलटते हुए तलवार दंपती को बरी कर दिया था। (फाइल) 12 अक्टूबर, 2017 को हाईकोर्ट ने सीबीआई कोर्ट का फैसला पलटते हुए तलवार दंपती को बरी कर दिया था। (फाइल)
Click to listen..