• Home
  • National
  • ceasefire violations by Pakistan in areas along LoC India
--Advertisement--

चंद घंटे की शांति के बाद PAK ने फिर की LoC पर फायरिंग; बॉर्डर एरिया से 40 हजार लोगों को हटाया गया

बॉर्डर पर जारी तनाव और फायरिंग की वजह से जम्मू जिले में कई स्कूलों को बंद रखा गया है।

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 01:17 PM IST
जम्मू और राजौरी के करीबी सेक्टर्स में रविवार रात से पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू की। इसका भारत की तरफ से भी माकूल जवाब दिया गया।- फाइल जम्मू और राजौरी के करीबी सेक्टर्स में रविवार रात से पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू की। इसका भारत की तरफ से भी माकूल जवाब दिया गया।- फाइल

जम्मू/नई दिल्ली. पाकिस्तान ने रविवार रात से सोमवार सुबह तक एक बार फिर लाइन ऑफ कंट्रोल और इंटरनेशनल बॉर्डर पर फायरिंग की। इसके पहले शनिवार देर रात से रविवार शाम तक फायरिंग नहीं हुई थी। बीएसएफ सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया कि रविवार रात से हुई फायरिंग में किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ। बॉर्डर से सटे जो इलाके फायरिंग से प्रभावित हुए हैं, वहां से करीब 40 हजार लोगों को निकालकर शेल्टर होम और दूसरी महफूज जगहों पर शिफ्ट किया गया है। बता दें कि गुरुवार से जारी फायरिंग में कुल 12 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 60 लोग घायल हुए हैं।

जम्मू में फायरिंग ज्यादा

- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, जम्मू और राजौरी के करीबी सेक्टर्स में रविवार रात से पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू की। इसका भारत की तरफ से भी माकूल जवाब दिया गया। रविवार को हुई फायरिंग में एक शख्स की मौत हो गई थी। जबकि, दो लोग घायल हुए थे।
- रविवार को कानाचक सेक्टर में भी पाकिस्तान ने सीजफायर वॉयलेशन किया था।

स्कूल अब भी बंद

- बॉर्डर पर जारी तनाव और फायरिंग की वजह से जम्मू जिले में कई स्कूलों को बंद रखा गया है। बीएसएफ के एक अफसर ने कहा- परगल, माथ, आरएस पुरा, अर्निया और रामगढ़ इलाके में फायरिंग हुई। यह सोमवार सुबह करीब 6 बजे तक चली।
- इसके अलावा भवानी, कराली, साद, नंुब और शेर माकेरी में भी काफी फायरिंग हुई। गुरुवार से शुरू हुई फायरिंग में कुल 12 लोग मारे गए हैं। इनमें से पांच सिक्युरिटी फोर्सेस के जवान हैं।
- इस अफसर ने कहा कि हालात पर पैनी नजर रखी जा रही है और किसी भी हरकत का माकूल जवाब दिया जाएगा।
- फायरिंग की वजह से करीब 40 हजार लोगों को अपने घर छोड़कर महफूज जगहों और शेल्टर होम्स में जाना पड़ा है।

पाकिस्तान को भी भारी नुकसान

- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीएसएफ और आर्मी की जवाबी फायरिंग में शुक्रवार को पाकिस्तान के चार सैनिक (रेंजर्स) मारे गए। इसके अलावा वहां की आर्मी का एक पेट्रोलियम डिपो भी तबाह कर दिया गया।
- जानकारी के मुताबिक- इंटरनेशनल बॉर्डर पर पाकिस्तान की तरफ लाउड स्पीकर से अनाउंसमेंट में लोगों से इलाका छोड़कर जाने को कहा जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सियालकोट जिले के करीबी गांवों में कई लोगों की मौत हो गई है।

बीएसएफ और आर्मी की जवाबी फायरिंग में शुक्रवार को पाकिस्तान के चार सैनिक (रेंजर्स) मारे गए।- फाइल बीएसएफ और आर्मी की जवाबी फायरिंग में शुक्रवार को पाकिस्तान के चार सैनिक (रेंजर्स) मारे गए।- फाइल