• Home
  • National
  • Delhi HC called PNB fraud case sketchy seeks ED response on Nirav Modis firm plea
--Advertisement--

PNB फ्रॉड: अभी तो ये भी साफ नहीं कि कितने का घोटाला हुआ, सभी दस्तावेज पेश करे ईडी- हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकाेर्ट ने नीरव मोदी की फर्म की पिटीशन पर बुधवार को एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) को नोटिस दिया है।

Danik Bhaskar | Mar 07, 2018, 02:19 PM IST
पीएनबी के मुताबिक अब घोटाले की रकम बढ़कर 12,672 करोड़ हो गई है। -फाइल पीएनबी के मुताबिक अब घोटाले की रकम बढ़कर 12,672 करोड़ हो गई है। -फाइल

नई दिल्ली. दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि पीएनबी फ्रॉड कुल कितने का है और ईडी इस पर किस आधार पर कार्रवाई कर रहा है अभी यह साफ नहीं है। कोर्ट नीरव मोदी की फर्म फायरस्टार डायमंड की ओर से इस कार्रवाई के खिलाफ दायर की गई पिटीशन पर सुनवाई कर रही थी। कोर्ट ने इस मामले में ईडी को नोटिस जारी कर अगली सुनवाई के दिन 19 मार्च को केस से संबंधित सभी दस्तावेज पेश करने को कहा है।

हाईकोर्ट ने और क्या कहा?
- पिटीशन पर जस्टिस एस मुरलीधर और आईएस मेहता की बेंच ने सुनवाई की। बेंच ने कहा, "केस स्केची है, देखते हैं ईडी क्या कहती है, क्योंकि विजय अग्रवाल (नीरव के वकील) खुद केस के तथ्यों को लेकर आश्वस्त नहीं हैं। ''

- बेंच ने ईडी से फायरस्टार डायमंड इंटरनेशन को सर्च वारंट की कॉपी सहित केस से जुड़े अन्य दस्तावेज देने को कहा है। बेंच ने कार्रवाई पर स्टे लगाने से अभी इनकार कर दिया। बेंच का कहना है कि ईडी का जवाब आने के बाद स्टे पर विचार किया जाएगा।

- बेंच ने ईडी को पीएनबी फ्रॉड से जुड़ी अब तक की कार्रवाई की रिपोर्ट सिलसिलेवार तरीके से अगली सुनवाई में पेश करने को कहा है।

पिटीशन में क्या मांग की गई थी?
- फायरस्टार डायमंड के वकील विजय अग्रवाल ने पिटीशन में फर्म के खिलाफ पीएनबी फ्रॉड को लेकर की जा रही ईडी की कार्रवाई पर रोक लगाने की मांग की थी।

- इसके अलावा कोर्ट से मांग की गई थी कि ईडी फर्म को एन्फोर्समेंट केस इन्फॉर्मेशन रिपोर्ट (ईसीआईआर) की कॉपी दे, जिसके आधार पर एजेंसी ने फर्म के ठिकानों पर छापेमारी और सीज करने की कार्रवाई की।

- वहीं, एडिशनल सॉलिसिटर जनरल संदीप सेठी और वकील अमित महाजन ने फर्म की पिटीशन को प्री-मेच्योर और आधारहीन बताया।

क्या कार्रवाई हुई?

- पीएनबी घोटाले में अब तक ईडी ने देशभर में नीरव मोदी से जुड़ी 6,393 करोड़ से ज्यादा की प्रॉपर्टी जब्त की जा चुकी है। नीरव के ठिकानों से जब्त हुई ज्वेलरी और प्रॉपर्टी का वैल्यूएशन कराया जा रहा है।

- वहीं, गीतांजलि जेम्स के शोरूम में भी छापेमारी हुई है। इसमें 22 करोड़ रुपए की ज्वेलरी जब्त हुई और कई हजार करोड़ की प्रॉपर्टी अटैच की गई।

- इसके अलावा मुंबई की स्पेशल कोर्ट ने 3 फरवरी को नीरव मोदी और मालिक मेहुल चौकसी के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किए। नीरव के वकील ने इसे हाईकोर्ट में चुनौती देने की बात कही है।

क्या है पीएनबी घोटाला?
- पीएनबी ने पिछले दिनों सेबी और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को 11,421 करोड़ रुपए के घोटाले के जानकारी दी। घोटाला मुंबई की ब्रेडी हाउस ब्रांच में हुआ। 2011 से 2018 के बीच हजारों करोड़ की रकम 297 फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LoUs) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में ट्रांसफर की गई।

- पीएनबी ने हाल ही में सीबीआई को बैंक में 1300 करोड़ के नए फ्रॉड की जानकारी दी थी। यह मेहुल चौकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स से जुड़ा है। इस तरह पीएनबी फ्रॉड 11,421 से बढ़कर 12,672 करोड़ हो गया है।

- बैंक फ्रॉड में हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चौकसी मुख्य आरोपी हैं। दोनों देश छोड़ कर भाग चुके हैं।

पीएनबी फ्रॉड का आरोपी नीरव मोदी फायरस्टार डायमंड इंटरनेशन का मालिक है। -फाइल पीएनबी फ्रॉड का आरोपी नीरव मोदी फायरस्टार डायमंड इंटरनेशन का मालिक है। -फाइल