--Advertisement--

10 साल से फरार इंडियन मुजाहिदीन का आतंकी गिरफ्तार; बाटला हाउस एनकाउंटर मामले में थी तलाश

इस आतंकी का पूरा नाम आरिज खान उर्फ जुनैद है। जुनैद को पांच बम धमाकों में शामिल बताया गया है।

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2018, 02:34 PM IST
दिल्ली पुलिस की हिरासत में जुनैद। दिल्ली पुलिस की हिरासत में जुनैद।

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बुधवार को इंडियन मुजाहिदीन यानी IM के एक आतंकी को गिरफ्तार कर लिया। दिल्ली के जामिया इलाके में 2008 में हुए बाटला एनकाउंटर के बाद यह आतंकी फरार हो गया था। बता दें कि बाटला हाउस एनकाउंटर में दो आतंकी मारे गए थे जबकि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर मोहन लाल शर्मा शहीद हो गए थे। इस दौरान कुछ आतंकी फरार भी हो गए थे। जुनैद इन्हीं में से एक बताया गया है। स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद सिंह कुशवाह ने कहा- जुनैद जिन धमाकों में शामिल था, उनमें कुल मिलाकर 165 लोग मारे गए थे। इनमें 13 सितंबर 2008 का सीरियल ब्लास्ट भी शामिल है। कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने जुनैद की गिरफ्तारी पर सवाल उठाए हैं।

बम बनाने में एक्सपर्ट है जुनैद

- दिल्ली पुलिस ने कहा- जुनैद बम बनाने और साजिश को अंजाम तक पहुंचाने में माहिर है। वो आरिफ अमीन का साथी है जिसे बाटला हाउस एनकाउंटर में मार गिराया गया था। वो 2007 के यूपी, 2008 के जयपुर और इसी साल हुए अहमदाबाद ब्लास्ट में आरोपी है। बाटला हाउस एनकाउंटर के दौरान वो भागने में कामयाब हो गया था।

सलमान खुर्शीद ने क्या कहा?

- सलमान खुर्शीद ने जुनैद की गिरफ्तारी पर सवाल उठाए। न्यूज एजेंसी से उन्होंने कहा- उसे बाटला हाउस जहां एनकाउंटर हुआ था, वहीं से गिरफ्तार किया जाना चाहिए था। पुलिस ये बताए कि उसे उसी वक्त गिरफ्तार क्यों नहीं किया जा सका था। वो भागने में कामयाब कैसे हो गया था।
कांग्रेस नेता ने आगे कहा- किसी भी अपराधी को गिरफ्तार करना पुलिस का काम है। जिसको गिरफ्तार किया गया है उसके खिलाफ केस भी जल्दी चलाना चाहिए।
- बता दें कि बाटला हाउस एनकाउंटर के बाद एक रैली में खुर्शीद ने कहा था कि इस एनकाउंटर की तस्वीरें देखने के बाद सोनियां गांधी रो पड़ीं थी। खुर्शीद ने ये बयान 2012 के यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान दिया था।

बाटला हाउस पर क्यों हुई थी रेड

- 13 सितंबर 2008 को दिल्ली में सीरियल ब्लास्ट हुए थे। इनमें 26 लोग मारे गए थे और करीब 80 घायल हुए थे। धमाकों की जांच दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल कर रही थी।
- स्पेशल सेल को इनपुट मिला कि सीरियल ब्लास्ट से जुड़े कुछ लोग बाटला हाउस इलाके के मकान नंबर एल-18 में छुपे हुए हैं। स्पेशल सेल की टीम ने इस मकान पर छापा मारा। इस दौरान फ्लैट से पुलिस पर फायरिंग होने लगी। फायरिंग में इंस्पेक्टर मोहन लाल शर्मा शहीद हो गए थे।
- स्पेशल सेल ने जवाबी कार्रवाई की। इसमें दो आतंकी मारे गए। दो गिरफ्तार किए गए जबकि एक फरार हो गया था। बताया जाता है कि इसी फरार आतंकी को अब दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इसका नाम ही जुनैद बताया जा रहा है।

बाटला हाउस एनकाउंटर 2008 में हुआ था। जुनैद के बारे में कहा जा रहा है कि वो इसी दौरान फरार हो गया था।- फाइल बाटला हाउस एनकाउंटर 2008 में हुआ था। जुनैद के बारे में कहा जा रहा है कि वो इसी दौरान फरार हो गया था।- फाइल
X
दिल्ली पुलिस की हिरासत में जुनैद।दिल्ली पुलिस की हिरासत में जुनैद।
बाटला हाउस एनकाउंटर 2008 में हुआ था। जुनैद के बारे में कहा जा रहा है कि वो इसी दौरान फरार हो गया था।- फाइलबाटला हाउस एनकाउंटर 2008 में हुआ था। जुनैद के बारे में कहा जा रहा है कि वो इसी दौरान फरार हो गया था।- फाइल
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..